Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाज5 साल की मूक-बधिर बच्ची के साथ रेप करने वाले साबिर को उम्रकैद: विशेष...

5 साल की मूक-बधिर बच्ची के साथ रेप करने वाले साबिर को उम्रकैद: विशेष पॉक्सो कोर्ट ने महज 4 महीने में सुनाई सजा

शामली जिले के कैराना में चार महीने पहले रामपुर मनिहारान रेलवे प्लेटफार्म पर 5 साल की मूक-बधिर मासूम बच्ची के साथ साबिर नाम के शख्स ने दुष्कर्म किया था।

उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना में विशेष पॉक्सो कोर्ट की जज मुमताज अली ने शनिवार (30 अक्टूबर 2021) को 5 साल की बच्ची से बलात्कार करने वाले व्यक्ति को दोषी करार देते हुए उसे उम्रकैद की सजा सुनाई। खास बात यह ​है अदालत ने महज चार महीने में इस मामले की सुनवाई की और दोषी को सजा सुनाई।

बताया जा रहा है कि शामली जिले के कैराना में चार महीने पहले रामपुर मनिहारान रेलवे प्लेटफार्म पर 5 साल की मूक-बधिर मासूम बच्ची के साथ साबिर नाम के शख्स ने दुष्कर्म किया था। न्यायाधीश मुमताज अली द्वारा यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) के तहत आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और POCSO अधिनियम के तहत दोषी ठहराए जाने के बाद साबिर पर 50,000 रुपए का जुर्माना भी लगाया गया था। इसकी आधी राशि पीड़िता को दी जाएगी।

इस मामले में पॉक्सो के विशेष अधिवक्ता पुष्पेंद्र मलिक के मुताबिक, लड़की शामली की रहने वाली है। उन्होंने बताया कि 15 जून को 5 वर्षीय मूक-बधिर बच्ची रामपुर मनिहारन रेलवे स्टेशन पर भीड़ में खो गई थी। माता-पिता से अलग होने के बाद उसे अकेला पाकर साबिर ने रामपुर मनिहारान रेलवे प्लेटफार्म पर उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपित वहाँ से फरार हो गया।

रेलवे प्लेटफार्म पर चाय की दुकान लगाने वाले की शिकायत पर गर्वेमेंट रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने रेप की धारा के तहत इस मामले में रिपोर्ट दर्ज की। बाद में रेलवे पुलिस ने आरोपित साबिर को गिरफ्तार कर लिया और कोर्ट में पेश किया। इसके बाद कोर्ट ने शनिवार को उसकी सजा सुनाई। हालाँकि, कोर्ट में आरोपित ने अपने अपराध को स्वीकार नहीं किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -