Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजइतने FIR होंगे कि एमएफ हुसैन की तरह सिर छुपाने की जगह नहीं मिलेगी:...

इतने FIR होंगे कि एमएफ हुसैन की तरह सिर छुपाने की जगह नहीं मिलेगी: जफरुल इस्लाम पर VHP

ज़फरुल ने कहा था कि शुक्र मनाना चाहिए कि भारत के मुस्लिमों ने अरब जगत से कट्टर हिन्दुओं द्वारा हो रहे ‘घृणा के दुष्प्रचार, लिंचिंग और दंगों’ को लेकर कोई शिकायत नहीं की है। जिस दिन ऐसा हो जाएगा, उस दिन अरब के मुस्लिम एक आँधी लेकर आएँगे, एक तूफ़ान खड़ा कर देंगे।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम के खिलाफ विश्व हिंदू परिषद (VHP) देश भर में FIR दर्ज करवाएगी। विहिप के प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा है कि देश के कोने-कोने में एफआईआर दर्ज कराई जाएगी ताकि एमएफ हुसैन की तरह इस्लाम को भारत में सिर छुपाने की जगह न मिले।

ज़फरुल इस्लाम ने एक पोस्ट में भारत के हिन्दुओं को अरब के लोगों की धमकी दी थी। इस पोस्ट के कारण कल हिंदू सेना ने उनके ख़िलाफ़ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। अब VHP भी इस्लाम के ख़िलाफ़ एक्शन में आ गया है। परिषद का कहना है कि ज़फरुल के ख़िलाफ वे देश भर के अलग-अलग थानों में शिकायत दर्ज कराने का विचार कर रहे हैं। कोशिश की जाएगी कि इस्लाम के ख़िलाफ़ संगीन धाराओं में मामला दर्ज हो, क्योंकि वे विदेशी मुस्लिमों का डर दिखाकर देश के हिंदुओं को धमका रहे हैं।

बता दें, ज़फरुल के ख़िलाफ़ देश के अलग-अलग थानों में एफआईआर की बात, विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने ऑपइंडिया से बातचीत के दौरान कही। इसके अलावा इसका जिक्र उन्होंने अपने एक ट्वीट में भी किया। उन्होंने दिल्ली पुलिस को टैग करके इस्लाम के ख़िलाफ एक्शन की माँग की और लिखा, “ऐसे देशद्रोहियों के विरुद्ध देश भर के थानों में इतनी शिकायतें दर्ज होनी चाहिए कि एमएफ हुसैन की तरह इसे भी भारत में सिर छुपाने को जगह ना मिले।”

इसके अलावा उन्होंने दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की चुप्पी पर भी सवाल उठाए। उन्होंने लिखा, “कुछ तो बोलो माननीय अरविंद केजरीवाल जी। यह तो आपकी ही कृपा से संवैधानिक पद पर बैठकर एक अरबी दलाल की तरह भारत को धमकियाँ दे रहा है और आप चुप हैं?”

गौरतलब है कि इससे पहले विश्व हिंदू परिषद ने भी इस मामले पर ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा था, “जाकिर नाइक जैसे आतंकियों के अनुयायी दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन ने हिंदुओं के विरुद्ध इस्लामिक देशों के तूफान की सीधी धमकी दी है।”

वीएचपी ने अपने इस ट्वीट में सुरेंद्र जैन का सक्षात्कार भी डाला था। जिसमें उन्होंने कहा, “दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान की देश में तूफान लाने की धमकी 1947 की याद दिला रही है। संवैधानिक पद पर बैठा आदमी आतंकी भाषा में बोल रहा है। केजरीवाल समेत सभी सेकुलर बिरादरी चुप कैसे है? क्या इन्हें ऎसे ही लोग मिलते हैं?”

बता दें ज़फरुल के जिस पोस्ट पर इतना विवाद खड़ा हुआ है। उसमें उन्होंने लिखा था कि कट्टर हिन्दू ये भूल गए थे कि अरबी मुस्लिमों की आँखों में भारतीय मुस्लिमों की साख काफ़ी ऊँची है। बकौल ज़फरुल, भारत के मुस्लिमों ने इस्लाम के लिए जो किया है, उसे देखते हुए अरबी उन्हें सिर-आँखों पर रखते हैं। भारतीय मुस्लिम अरबी और इस्लामी अध्ययन में पारंगत हैं और दुनिया भर में इस्लामी संस्कृति और सभ्यता से जुड़ी विरासत में अहम योगदान दिया है।

ज़फरुल ने इन लोगों को शाह वलीहुल्ला देहलवी, अबू हस्सान नदवी, बहुदुद्दीन खान और ज़ाकिर नाइक का नाम गिनाया। बता दें कि मलेशिया में रह रहे ज़ाकिर नाइक को वापस लाने के लिए भारत सरकार प्रयत्न कर रही है और उसके ख़िलाफ़ मनी लॉन्ड्रिंग से लेकर आतंकियों को भड़काने तक के आरोप हैं। भारत में कई जगह युवा कट्टर मुस्लिमों के यहाँ से ज़ाकिर नाइक की सीडी मिली, जिसे देख कर वो आतंक की राह अपनाते रहे हैं

ज़फरुल ने कहा था कि शुक्र मनाना चाहिए कि भारत के मुस्लिमों ने अरब जगत से कट्टर हिन्दुओं द्वारा हो रहे ‘घृणा के दुष्प्रचार, लिंचिंग और दंगों’ को लेकर कोई शिकायत नहीं की है। जिस दिन ऐसा हो जाएगा, उस दिन अरब के मुस्लिम एक आँधी लेकर आएँगे, एक तूफ़ान खड़ा कर देंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -