Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाजमाँ के सामने गला दबाया, सिर फाड़ डाला: बंगाल BJP कार्यकर्ता अभिजीत सरकार हत्या...

माँ के सामने गला दबाया, सिर फाड़ डाला: बंगाल BJP कार्यकर्ता अभिजीत सरकार हत्या मामले में 2 और गिरफ्तार

“भीड़ ने उनके गले में सीसीटीवी कैमरे का तार बाँध दिया। गला दबाया। ईंट और डंडों से पीटा। सिर फाड़ दिया और माँ के सामने उनकी बेरहमी से हत्या कर दी। बेटे की हत्या होते देख उनकी माँ बेहोश होकर मौके पर ही गिर गईं।”

पश्चिम बंगाल पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ता अभिजीत सरकार की हत्या मामले में दो और लोगों को गिरफ्तार किया है। इस केस में अब तक सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस बारे में जानकारी देते हुए एक कोलकाता पुलिस (क्राइम) के ज्वाइंट कमिश्नर मुरलीधर शर्मा ने बताया कि इन दोनों का नाम भी FIR में दर्ज कराया गया था। इस मामले में कुल आठ लोगों के खिलाफ FIR दर्ज करवाई गई थी।।

उन्होंने बताया कि जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी पहचान संजय डे (26 साल) और अभिजीत डे (25 साल) के तौर पर हुई है। दोनों नारकेलडांगा के रहने वाले हैं। उन्हें हुगली जिले के चंदननगर सिटी में उनके रिश्तेदारों के घर से गिरफ्तार किया गया है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में चुनावी नतीजे आने के कुछ घंटे बाद राज्य के कई इलाकों में राजनीतिक हिंसा भड़की थी। इस हिंसा में खासकर बीजेपी समर्थक निशाने पर थे। बीजेपी से जुड़े जिन लोगों की हत्या की गई, उनमें अभिजीत सरकार और हारन अधिकारी भी शामिल थे।

मीडिया में लाख दबाने के बाद भी इतनी व्यापक स्तर की हिंसा छिपी नहीं रही। इसके बाद पश्चिम बंगाल हिंसा के मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट ने सख्त रवैया अपनाया है। कोर्ट ने बीजेपी कार्यकर्ता अभिजीत सरकार का फिर से पोस्टमॉर्टम कराने का आदेश दिया था। 

अभिजीत सरकार की दो मई को उनके घर से बाहर घसीट कर हत्या कर दी गई थी। हमले से ठीक पहले वे दो बार फेसबुक पर लाइव हुए थे और टीएमसी गुंडों के हमले को लेकर बताया था। अभिजीत सरकार ने फेसबुक लाइव के माध्यम से अपनी बात रखी थी। उन्हें पता भी नहीं था कि फेसबुक पर लाइव कैसे आते हैं, लेकिन उन्होंने किसी तरह वीडियो बनाया और बताया कि TMC के गुंडे लगातार बमबारी कर रहे हैं और उन्होंने उनके घर और दफ्तर को तहस-नहस कर डाला। उन्होंने कहा कि उनकी एक ही गलती है कि वे भाजपा कार्यकर्ता हैं।

पश्चिम बंगाल में चुनावी नतीजे के बाद की गई हिंसा की सीबीआई जाँच या विशेष जाँच दल (SIT) के गठन को लेकर अभिजीत सरकार के परिजनों की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बंगाल सरकार को नोटिस जारी किया था। याचिका पर सुनवाई के दौरान यह तथ्य भी सामने आया था कि किस बेरहमी से इनकी हत्या की गई।

अभिजीत सरकार की पत्नी जो इस घटना की चश्मदीद भी हैं, ने बताया, “भीड़ ने उनके गले में सीसीटीवी कैमरे का तार बाँध दिया। गला दबाया। ईंट और डंडों से पीटा। सिर फाड़ दिया और माँ के सामने उनकी बेरहमी से हत्या कर दी। आँखों के सामने बेटे की हत्या होते देख उनकी माँ बेहोश होकर मौके पर ही गिर गईं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -