Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजपश्चिम बंगाल में अब दंगाइयों ने रेलवे स्टेशन को बनाया निशाना, पत्थरबाजी के बाद...

पश्चिम बंगाल में अब दंगाइयों ने रेलवे स्टेशन को बनाया निशाना, पत्थरबाजी के बाद ट्रेनों का परिचालन करना पड़ा बंद: RAF की तैनाती

रिपोर्टों के अनुसार दंगाइयों ने चार ट्रेनों पर हमला किया। हमले के दौरान रेलवे स्टेशन के गेट नंबर चार को निशाना बनाया गया। इसके कारण तीन घंटे से अधिक समय तक सेवाएँ ठप रहीं।

पश्चिम बंगाल से हिंसा की नई घटना सामने आई है। हुगली जिले के रिसड़ा रेलवे स्टेशन को 3 अप्रैल 2023 को निशाना बनाया गया। पत्थरबाजी की घटना के बाद ट्रेनों का परिचालन बंद करना पड़ा। कई घंटे तक लोकल और मेल एक्सप्रेस की सेवा बाधित रही। मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है।

एक बयान में पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कौशिक मिरोन ने बताया है, “रिसड़ा रेलवे स्टेशन पर पथराव की घटना हुई। आम लोगों की सुरक्षा के लिए हावड़ा-बर्धमान मेन लाइन पर सभी लोकल और मेल एक्सप्रेस ट्रेन की सेवाओं को निलंबित कर दिया गया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पश्चिम बंगाल पुलिस के साथ रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है।”

रिपोर्टों के अनुसार दंगाइयों ने चार ट्रेनों पर हमला किया। हमले के दौरान रेलवे स्टेशन के गेट नंबर चार को निशाना बनाया गया। इसके कारण तीन घंटे से अधिक समय तक सेवाएँ ठप रहीं।

स्थिति पर काबू पाने की कोशिश के दौरान आरएएफ और पुलिस के जवानों पर भी दंगाइयों ने हमला किया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए उन्हें आँसू गैस के गोले दागने पड़े। रेलवे क्रासिंग के पास खड़ा पुलिस का एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया।

पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और भाजपा विधायक सुवेंदु अधिकारी ने ताजा हिंसा के वीडियो ट्वीट किए हैं। उनका आरोप है कि इस दौरान बमबाजी भी हुई है। सुवेंदु के मुताबिक रेलवे सुरक्षा बल के हस्तक्षेप के बाद ट्रेन चलाई जा सकी है। अधिकारी का आरोप है कि एक तरफ रिसड़ा जल रहा है और दूसरी तरफ पूरे पश्चिम बंगाल का प्रशासन दीघा में छुट्टियाँ मना रहा है।

अधिकारी ने पूछा है कि जब राज्य सरकार सब कुछ सही बता रही है तो बमबाजी की नई घटना कैसे हुई। उन्होंने पश्चिम बंगाल की कानून-व्यवस्था को पूरी तरह से ध्वस्त बताते हुए राज्य में केंद्रीय बलों की तैनाती को अंतिम विकल्प बताया है।

गौरतलब है कि रामनवमी पर पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में हिंसा भड़क गई थी। खास तौर पर हुगली और हावड़ा काफी प्रभावित हुए थे। पश्चिम बंगाल भाजपा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाया है कि उनके आदेश पर हिंसा से पीड़ित हिन्दुओं का ही पुलिस दमन कर रही है।

हुगली से भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने ममता बनर्जी सरकार पर तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि ममता बनर्जी को वोट हिन्दुओं ने भी दिया था, लेकिन वो सिर्फ मुस्लिमों की चिंता कर रहीं हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -