Monday, January 25, 2021
Home देश-समाज ममता के बंगाल में सरस्वती पूजा को लेकर हिन्दू छात्रों को पीटा गया, शिक्षक...

ममता के बंगाल में सरस्वती पूजा को लेकर हिन्दू छात्रों को पीटा गया, शिक्षक ने टॉयलेट में छिपकर बचाई जान

“इस पर कुछ बोलने से पहले मुझे इसके बारे में जानकारी इकट्ठा करनी होगी। कथित तौर पर स्थानीय लोगों के दबाव में पूजा को 2009 में रोक दिया गया। स्कूल के 1700 छात्रों में से लगभग 75% छात्र मुस्लिम हैं, जबकि अधिकांश शिक्षक हिन्दू हैं।”

पश्चिम बंगाल के बसीरहाट उपमंडल के चौहट्टा गाँव में बुधवार (22 जनवरी) को छात्रों के एक समूह ने पिछले 8 सालों से आदर्श विद्यापीठ के स्कूल अधिकारियों द्वारा बंद की गई सरस्वती पूजा को फिर से शुरू करने की माँग की। दरअसल, इससे पहले भी कई बार इस तरह का अनुरोध किया जा चुका है, लेकिन स्कूूल प्रशासन ने छात्रों की इस माँग पर कभी कोई गंभीरता नहीं दिखाई। इस सन्दर्भ में स्कूल के छात्रों ने अब वर्तमान हेडमास्टर, हिमांशु शेखर मंडल को एक प्रस्ताव पेश किया। इसमें उन्होंने सरस्वती पूजा की व्यवस्था करने को कहा था। 

ख़बर के अनुसार, छात्रों ने स्कूल के गेट पर भी ताला लगा दिया और बोयलघट्टा-कोलूपुकुर रोड पर जाम लगा दिया। इस दौरान, कम से कम पाँच छात्रों के साथ कथित तौर पर मारपीट की गई। चश्मदीदों के मुताबिक़, चोट लगने की वजह से दो छात्रों की नाक से ख़ून निकल रहा था और उन्हें प्राथमिक इलाज दिया गया। वहीं, इंग्लिश के एक अध्यापक गणेश सरदार ने आरोप लगाया कि भीड़ उन्हें ढूँढ रही थी, उन्हें टॉयलेट के अंदर छिपा दिया गया था। उन्होंने बताया कि अगर ज़िला प्रशासन समय पर आकर कार्रवाई न करता तो स्थिति और बिगड़ सकती थी। हारो पुलिस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी ने उन्हें बचाया।  

अध्यापक ने बताया कि उन्हें भीड़ ने निशाना बना रखा था इस की एक वजह यह भी है कि वो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संबद्ध एक शिक्षक निकाय के ज़िला महासचिव हैं। उन्होंने बताया कि वो नबी दिवस और सरस्वती पूजा दोनों की सहमति दे चुके हैं। लेकिन, इस मामले में सत्तारूढ़ तृणमूल कॉन्ग्रेस की राज्य मंत्री और जिला अध्यक्ष ज्योति प्रिया मल्लिक को कुछ नहीं मालूम। यहाँ तक कि ममता बनर्जी भी इस मुद्दे पर मौन हैं।

उन्होंने कहा, “इस पर कुछ बोलने से पहले मुझे इसके बारे में जानकारी इकट्ठा करनी होगी। कथित तौर पर स्थानीय लोगों के दबाव में पूजा को 2009 में रोक दिया गया। स्कूल के 1700 छात्रों में से लगभग 75% छात्र मुस्लिम हैं, जबकि अधिकांश शिक्षक हिन्दू हैं।”

जानकारी के अनुसार, स्कूल के पूर्व हेडमास्टर, अशोक चंद्र सरकार ने पिछले कई वर्षों से सरस्वति पूजा पर रोक लगा रखी थी। उनके बाद, श्री मंडल, जिन्होंने छ: महीने पहले ही स्कूल ज्वॉइन किया है उन्होंने इस सबके लिए स्कूल प्रबंधन समिति को दोषी ठहराया है। स्कूल में छात्रों के विरोध के कारण, जिसमें लगभग 1700 छात्र हैं, वार्षिक खेल बैठक को भी रद्द करना पड़ा।

बता दें कि स्कूल में अंतिम बार सरस्वती पूजा का आयोजन 2012 में किया गया था। इसके बाद हुई झड़पों के बाद पूजा बंद कर दी गई थी। हर साल छात्र शिक्षा की देवी को समर्पित सरस्वति पूजा के आयोजन की माँग करते हैं, लेकिन हर साल स्कूल प्रबंधन समिति द्वारा इस अनुरोध को अस्वीकार कर दिया जाता है। हेडमास्टर हिमांशु शेखर मंडल ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें स्कूल में सरस्वति पूजा के आयोजन करने के लिए इच्छुक छात्रों का अनुरोध प्राप्त हुआ है। इस पर कार्रवाई करते हुए उन्होंने इस प्रस्ताव को प्रबंधन समिति को भेज दिया है, लेकि इस बारे में अभी तक उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सरस्वती पूजा को लेकर इलाक़े में रहने वाले समुदाय विशेष के लोगों ने आपत्ति जताई थी, जिसके बाद से स्कूलों में सरस्वती पूजा बंद कर दी गई। समुदाय विशेष ने माँग की थी कि स्कूलों में अगर सरस्वती पूजा का आयोजन किया जाएगा, तो स्कूल प्रशासन को नबी दिवस (पैगंबर दिवस) भी आयोजित करना होगा। इसके बाद, स्कूल प्रबंधन समिति ने फ़ैसला किया था कि स्कूल में न तो सरस्वति पूजा का आयोजन होगा और न ही नबी दिवस आयोजित किया जाएगा।

2017 में मुस्लिम ग्रामीणों ने एक स्थानीय स्कूल को सरस्वती पूजा मनाने से रोक दिया था। उन्होंने कथित तौर पर स्कूल अधिकारियों को नबी दिवस (पैगंबर दिवस) मनाने के लिए कहा था। मुस्लिम समुदाय द्वारा की गई माँगों को अस्वीकार करने के बाद स्कूल को 26 दिनों के लिए बंद करना पड़ा था।

ग़ौरतलब है कि नुसरत जहाँ बशीरहाट निर्वाचन क्षेत्र से मौजूदा संसद सदस्य हैं, जहाँ की मुस्लिम आबादी लगभग 54% है। ऐसा पहली बार नहीं है जब बशीरहाट से कोई विवादास्पद घटना सामने आई हो। यह क्षेत्र हमेशा से साम्प्रदायिक हिंसा का केंद्र रहा है। 3 साल पहले, एक किशोरी के फेसबुक पोस्ट पर कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन ने उसके साथ हिंसात्मक गतिविधि को अंजाम दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

RSS को ‘निकरवाला’ बोला राहुल गाँधी ने, ‘लिकरवाला’ सुन जनता हुई ‘मस्त’: इस लेटेस्ट Video में है बहुत मजा

राहुल गाँधी जब बोलते हैं, बहुत मजा देते हैं। उनके मजे देने वाले वीडियो आप खोजेंगे 1 मिलेंगे 11... अब एक और वीडियो जुड़ गया है, एकदम लेटेस्ट।

‘लता मंगेशकर ने 1947 में नेहरू के लिए गाया था ऐ मेरे वतन के लोगों’: विशाल डडलानी ने बताया इतिहास – Fact Check

विशाल डडलानी ने दावा किया है कि लता मंगेशकर ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के लिए 'ऐ मेरे वतन के लोगों' गाना गाया था।

ThePrint को रूसी विदेश मंत्रालय से पड़ी लताड़, भारत-रूस का नाम ले फैला रहा था फेक न्यूज

रूसी विदेश मंत्रालय ने शेखर गुप्ता की 'द प्रिंट' को जम कर लताड़ लगाई। उसने भारत-रूस के बीच होने वाली वार्षिक बैठक को लेकर फेक न्यूज़ फैलाई थी।

रामतीर्थम पहुँची भगवान राम, सीता और लक्ष्मण की नई प्रतिमा, धड़ से अलग कर दिया गया था 400 साल पुरानी मूर्ति का सिर

आंध्र प्रदेश में दिसंबर में उपद्रवियों ने भगवान की मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया था। नई मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा 28 जनवरी को होगी।

नेपाल में चीन पैंतरे नाकाम, कम्युनिस्ट पार्टी ने कार्यकारी PM ओली को पार्टी से निकाला

नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी ने कार्यकारी प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को पार्टी से निकाल कर उनकी सदस्यता रद्द कर दी है।

राहुल गाँधी बोले- किसान मजबूत होते तो सेना की जरूरत नहीं होती… अनुवादक मोहम्मद इमरान बेहोश हो गए

इरोड में राहुल गाँधी के अंग्रेजी भाषण का तमिल में अनुवाद करने वाले प्रोफेसर मोहम्मद इमरान मंच पर ही बेहोश होकर गिर पड़े।

प्रचलित ख़बरें

12 साल की लड़की का स्तन दबाया, महिला जज ने कहा – ‘नहीं है यौन शोषण’: बॉम्बे HC का मामला

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर बेंच ने शारीरिक संपर्क या ‘यौन शोषण के इरादे से किया गया शरीर से शरीर का स्पर्श’ (स्किन टू स्किन) के आधार पर...

मदरसा सील करने पहुँची महिला तहसीलदार, काजी ने कहा- शहर का माहौल बिगड़ने में देर नहीं लगेगी, देखें वीडियो

महिला तहसीलदार बार-बार वहाँ मौजूद मुस्लिम लोगों को मामले में कलेक्टर से बात करने के लिए कह रही है। इसके बावजूद लोग उसकी बात को दरकिनार करते हुए उसे धमकाते हुए नजर आ रहे हैं।

राहुल गाँधी बोले- किसान मजबूत होते तो सेना की जरूरत नहीं होती… अनुवादक मोहम्मद इमरान बेहोश हो गए

इरोड में राहुल गाँधी के अंग्रेजी भाषण का तमिल में अनुवाद करने वाले प्रोफेसर मोहम्मद इमरान मंच पर ही बेहोश होकर गिर पड़े।

निकिता तोमर को गोली मारते कैमरे में कैद हुआ था तौसीफ, HC से कहा- मैं निर्दोष, यह ऑनर किलिंग

निकिता तोमर हत्याकांड के मुख्य आरोपित तौसीफ ने हाई कोर्ट से घटना की दोबारा जाँच की माँग की है। उसने कहा कि यह मामला ऑनर किलिंग का है।

‘जिस लिफ्ट में ऑस्ट्रेलियन, उसमें हमें घुसने भी नहीं देते थे’ – IND Vs AUS सीरीज की सबसे ‘गंदी’ कहानी, वीडियो वायरल

भारतीय क्रिकेटरों को सिडनी में लिफ्ट में प्रवेश करने की अनुमति सिर्फ तब थी, अगर उसके अंदर पहले से कोई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी न हो। एक भी...

बहन को फुफेरे भाई कासिम से था इश्क, निक़ाह के एक दिन पहले बड़े भाई फिरोज ने की हत्या: अश्लील फोटो बनी वजह

इस्लामुद्दीन की 19 वर्षीय बेटी फिरदौस के निक़ाह की तैयारियों में पूरा परिवार जुटा हुआ था। तभी शनिवार की सुबह घर में टूथपेस्ट कर रही फिरदौस को अचानक उसके बड़े भाई फिरोज ने तमंचे से गोली मार दी।
- विज्ञापन -

 

जिन्ना की बहन का पार्क बेच देगी इमरान सरकार, कंगाली से बचने के लिए Pak को चाहिए 500 अरब रुपए

कर्ज के तले दबे पाकिस्तान की हालत अब दिन पर दिन खस्ता होती जा रही है। अब इमरान सरकार इस्लामाबाद के सबसे बड़े पार्क को गिरवी रख...

RSS को ‘निकरवाला’ बोला राहुल गाँधी ने, ‘लिकरवाला’ सुन जनता हुई ‘मस्त’: इस लेटेस्ट Video में है बहुत मजा

राहुल गाँधी जब बोलते हैं, बहुत मजा देते हैं। उनके मजे देने वाले वीडियो आप खोजेंगे 1 मिलेंगे 11... अब एक और वीडियो जुड़ गया है, एकदम लेटेस्ट।

‘लता मंगेशकर ने 1947 में नेहरू के लिए गाया था ऐ मेरे वतन के लोगों’: विशाल डडलानी ने बताया इतिहास – Fact Check

विशाल डडलानी ने दावा किया है कि लता मंगेशकर ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के लिए 'ऐ मेरे वतन के लोगों' गाना गाया था।

ThePrint को रूसी विदेश मंत्रालय से पड़ी लताड़, भारत-रूस का नाम ले फैला रहा था फेक न्यूज

रूसी विदेश मंत्रालय ने शेखर गुप्ता की 'द प्रिंट' को जम कर लताड़ लगाई। उसने भारत-रूस के बीच होने वाली वार्षिक बैठक को लेकर फेक न्यूज़ फैलाई थी।

कॉन्ग्रेसी सांसद ने कहा- खालिस्तानी कर रहे किसान आंदोलन को हाइजैक, पार्टी के सुर कुछ और ही

कॉन्ग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा है कि कृषि कानून के खिलाफ हो रहे किसान आंदोलन को खालिस्तानी तत्व हाइजैक करने का प्रयास कर रहे है।

रामतीर्थम पहुँची भगवान राम, सीता और लक्ष्मण की नई प्रतिमा, धड़ से अलग कर दिया गया था 400 साल पुरानी मूर्ति का सिर

आंध्र प्रदेश में दिसंबर में उपद्रवियों ने भगवान की मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया था। नई मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा 28 जनवरी को होगी।

मुस्लिम बहुल मालवणी में मुंबई पुलिस ने फाड़ दिए थे भगवान राम के पोस्टर, कार्रवाई को लेकर बीजेपी का प्रदर्शन

मुंबई के मुस्लिम बहुल इलाके मालवणी में भगवान राम के पोस्टर फाड़ने को लेकर बीजेपी ने प्रदर्शन किया। दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मॉंग की।

नेपाल में चीन पैंतरे नाकाम, कम्युनिस्ट पार्टी ने कार्यकारी PM ओली को पार्टी से निकाला

नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी ने कार्यकारी प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को पार्टी से निकाल कर उनकी सदस्यता रद्द कर दी है।

बिशप का गोपनीय पत्रः चर्च समर्थक कैंडिडेट को टिकट दें, ईसाई कम्युनिस्ट पार्टी का समर्थन करेंगे

केरल की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी से विधानसभा चुनावों में एक चर्च समर्थित उम्मीदवार को टिकट देने की सिफारिश कर एक कैथोलिक बिशप विवादों में घिर गए हैं।

राहुल गाँधी बोले- किसान मजबूत होते तो सेना की जरूरत नहीं होती… अनुवादक मोहम्मद इमरान बेहोश हो गए

इरोड में राहुल गाँधी के अंग्रेजी भाषण का तमिल में अनुवाद करने वाले प्रोफेसर मोहम्मद इमरान मंच पर ही बेहोश होकर गिर पड़े।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
385,000SubscribersSubscribe