Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाज'...अब नोएडा नहीं आएँगे, माफ कर दो': UP पुलिस की गोली से घायल बदमाश,...

‘…अब नोएडा नहीं आएँगे, माफ कर दो’: UP पुलिस की गोली से घायल बदमाश, RSS पदाधिकारी के घर की थी डकैती

"दर्द से कलपते हुए चीख-चीख कर गुहार लगे रहे ये तीनों छँटे हुए बदमाश हैं... भागते वक़्त फ़ायर झोंक रहे थे, नतीजा पुलिस की गोली से विकलांग हो गए।"

उत्तर प्रदेश के नोएडा में आरएसएस के पदाधिकारी के घर में डकैती करने वाले बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई है। इस दौरान पुलिस की गोली लगने से तीन बदमाश घायल हो गए। तीनों को बाद में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। रिपोर्ट के मुताबिक, एनकाउंटर 26 जुलाई की रात को नोएडा के सेक्टर-24 थाना इलाके में स्पाइस मॉल के पीछे सर्विस रोड पर हुआ था।

मुठभेड़ के दौरान बदमाशों के पैर में गोली लगी है। गोली लगने के बाद जब पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार किया तो इन्होंने रोते हुए हाथ जोड़कर पुलिस से छोड़ने की गुहार लगाई और कहा कि वो दोबारा नोएडा नहीं आएँगे।

जिन तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें विष्णु, मोनू उर्फ आमिर हुसैन और गौतम शामिल है, जबकि हर्षित नाम का बदमाश वहाँ से भागने में कामयाब रहा है। फिलहाल घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं फरार हुए आरोपित की तलाश की जा रही है।

नोएडा पुलिस के ट्वीट के मुताबिक, ये सभी थाना सेक्टर-58 पुलिस व सेक्टर-55 स्थित मकान में हुई लूट की घटना में शामिल थे। इन आऱोपितों के कब्जे से 1 लाख 80 हजार रुपए नकद व अवैध हथियार बरामद किए गए हैं।

इससे पहले शनिवार (31 जुलाई 2021) को आरएसएस पदाधिकारी के घर में लूट के मामले में नोएडा पुलिस ने 6 आरोपितों को गिरफ्तार किया था। इसी के साथ इस मामले 9 आरोपितों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

इस मामले में नोएडा के एडिशनल डीसीपी ने बताया, “आरोपित ज्वेलरी या कुछ सामानों को कहीं शिफ्ट करने की कोशिश में थे। इसकी सूचना मिलने पर चारों तरफ से इनकी घेराबंदी की गई। दो बाइक पर दो-दो बदमाश थे, लेकिन जब इन्हें लगा कि ये घिर चुके हैं तो इन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस की ओर से जवाबी कार्रवाई में करीब 4-5 राउंड फायर किया गया। इस दौरान तीन घायल हो गए और एक बदमाश बाइक लेकर वहाँ से फरार हो गया।”

पुलिस अधिकारी ने आगे कहा, “पुलिस की गोली से तीनों बदमाश घायल हो गए थे। इन तीनों बदमाशों के पास से लगभग 1,80,000 रुपए बरामद किए गए हैं। इसके अलावा इतने ही पैसे पहले गिरफ्तार किए गए 6 लोगों के पास से भी बरामद हुए थे।” कुल मिलाकर आरोपितों के पास से करीब 3,63,000 बरामद किए गए हैं।

इस पुलिस एनकाउंटर पर उत्तर प्रदेश सरकार के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने ट्वीट किया, “दर्द से कलपते हुए चीख-चीख कर गुहार लगे रहे ये तीनों छँटे हुए बदमाश हैं, इन्होंने नोएडा में लूटपाट करने की गलती कर डाली, तत्काल माक़ूल इलाज हुआ। कहते हैं भागते वक़्त फ़ायर झोंक रहे थे, नतीजा पुलिस की गोली से विकलाँग हो गए।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा मेनस्ट्रीम मीडिया: जिस तस्वीर पर NDTV को पड़ी गाली, वह HT ने किस ‘दहशत’ में हटाई

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा हुआ मेन स्ट्रीम मीडिया! ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि हिंदुस्तान टाइम्स ने ऐसा एक बार फिर खुद को साबित किया। जब कोरोना से सम्बंधित तमिलनाडु की एक खबर में वही तस्वीर लगाकर हटा बैठा।

गले पर V का निशान, चलता पंखा… महंत नरेंद्र गिरि के ‘सुसाइड’ पर कई सवाल, CBI जाँच को योगी सरकार तैयार

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले की CBI जाँच कराने की सिफारिश की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,886FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe