Thursday, April 18, 2024
Homeदेश-समाजगोहत्या की सूचना पर पहुँची महिला कांस्टेबल को गले में फंदा डालकर घसीटा: वसीम,...

गोहत्या की सूचना पर पहुँची महिला कांस्टेबल को गले में फंदा डालकर घसीटा: वसीम, आफरीन समेत 10 पर केस दर्ज

पुलिस ने हिम्मत कर एक व्यक्ति को दबोच लिया। जबकि दो आरोपित महिलाओं ने एक महिला कांस्टेबल को दबोचकर उसके गले में रस्सी का फँदा डालकर जान से मारने का प्रयास किया।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में मवाना थानाक्षेत्र में गोवंश काटे जाने जाने की सूचना पर पहुँची पुलिस टीम पर आरोपित परिवार के सदस्यों ने हमला बोल दिया। एक महिला सिपाही को आरोपितों ने दबोचकर जान से मारने की नीयत से गले में रस्सी का फँदा डाल कर घसीटा, जिसको अन्य पुलिसकर्मियों ने काफी मुश्किल से बचाया।

पुलिस टीम पर हमले की सूचना पर तुरंत ही आसपास के थानों से पुलिस फोर्स भेजी गई। मौके से दो महिलाओं सहित तीन को हिरासत में लिया गया। इसके साथ ही, वहाँ से तीन कुंतल माँस, अवशेष तथा औजार व तीन बाइक बरामद करने का दावा किया गया है। थाना प्रभारी ने 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

मामले में उवेश, महराज, आफरिन, वसीम कुरैशी, डिर्रा उर्फ फिरोज कुरैशी, अमजद कुरैशी, फुरकान कुरैशी, इकराम कुरैशी, जैद कुरैशी, आफाक कुरैशी समेत कुल दस आरोपितों के खिलाफ बलवा, हत्या के प्रयास, गोकशी, साजिश रचने व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस को सठला गाँव में पशुओं के कटान की सूचना मिली थी। मुखबिर द्वारा प्राप्त इस सूचना के आधार पर पुलिस फोर्स के साथ मौके पर दबिश दी गई तो वहाँ पर पशुओं का कटान होता मिला। जैसे ही मकान का दरवाजा खुलवाया गया तो कटान कर रहे लोग उग्र हो गए। आरोपितों ने हाथों में लिए चाकू-छुरे पुलिस दल पर तान दिए और जान से मारने की नीयत से पुलिस फोर्स पर हमला बोल दिया। पुलिस फोर्स को धक्का देते हुए आरोपित छतों पर चढ़ गए और धमकी देने लगे। 

इस दौरान पुलिस ने हिम्मत कर एक आरोपित को दबोच लिया। लेकिन दो आरोपित महिलाओं ने एक महिला कांस्टेबल को दबोचकर उसके गले में रस्सी का फँदा डालकर जान से मारने का प्रयास किया। पीड़ित कांस्टेबल को अन्य पुलिसकर्मियों ने बचाया। स्थिति से आला अधिकारियों को अवगत कराया। आसपास के थानों की पुलस मौके पर पहुँच गई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हलाल-हराम के जाल में फँसा कनाडा, इस्लामी बैंकिंग पर कर रहा विचार: RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने भारत में लागू करने की...

कनाडा अब हलाल अर्थव्यवस्था के चक्कर में फँस गया है। इसके लिए वह देश में अन्य संभावनाओं पर विचार कर रहा है।

त्रिपुरा में PM मोदी ने कॉन्ग्रेस-कम्युनिस्टों को एक साथ घेरा: कहा- एक चलाती थी ‘लूट ईस्ट पॉलिसी’ दूसरे ने बना रखा था ‘लूट का...

त्रिपुरा में पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस सरकार उत्तर पूर्व के लिए लूट ईस्ट पालिसी चलाती थी, मोदी सरकार ने इस पर ताले लगा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe