Thursday, March 4, 2021
Home विचार क्या डिंपल बाबा के चेहरे से नक़ाब उतर गया है? सोचिएगा ज़रूर!

क्या डिंपल बाबा के चेहरे से नक़ाब उतर गया है? सोचिएगा ज़रूर!

कभी सोचा है कि सिंघवी, तिवारी और थरूर जैसे लोगों का सरगना कैसा होगा? क्या सच में वो स्वीट से डिंपल वाले गालों वाला मासूम लगता बच्चा सा ही कोई होगा? या फिर हकीकत कुछ और है?

अंग्रेजी फिल्म ‘प्राइमल फियर’ को थ्रिलर की श्रेणी में रखा जाता है और ये विलियम डैल के इसी नाम के उपन्यास पर आधारित है। यह एक वकील की कहानी है जो हमेशा ऐसे मामले अपने हाथ में लेने के चक्कर में होता है, जिसमें उसे अपना ज्यादा से ज्यादा प्रचार मिल सके। शिकागो के इस वकील मार्टिन के हाथ एक आरोन स्टैम्पलर का मुकदमा आता है। एक लोकप्रिय आर्चबिशप के क़त्ल का इल्जाम उसी के चर्च में काम करने वाले आल्टर बॉय स्टैम्पलर पर आया हुआ होता है।

जब मार्टिन इस मुवक्किल स्टैम्पलर से मिलता है तो उसे लगता है ये उन्नीस साल का हकलाने वाला लड़का तो सीधा-सादा सा है! इससे भला किसी की ऐसी जघन्य हत्या कैसे होगी? मार्टिन इस चर्चित मुक़दमे को अपने हाथ में लेता है और स्टैम्पलर को बचाने की कोशिशों में जुट जाता है। मार्टिन की पूर्व प्रेमिका उसके खिलाफ लड़ने वाली वकील होती है और वो बताने की कोशिश करती है कि ये हकलाने वाला, निरीह सा दिखता लड़का ही असल में अपराधी है। मार्टिन से ये बात हजम नहीं होती और वो अपनी तहकीकात में जुटा रहता है।

थोड़े ही दिन में उसे पता चलता है कि आर्चबिशप ने हाल ही में ऐसे फैसले लिए थे जिससे शिकागो के कई बड़े लोगों को भारी आर्थिक नुकसान हुआ होगा। वो मान लेता है कि जरूर इन भ्रष्ट अधिकारियों ने नैतिकता दिखा रहे आर्चबिशप को मरवाया होगा। थोड़ी और तहकीकात में उसे एक विडियो मिलता है जिसमें दिखता है कि उसके मुवक्किल से जबरन किसी किशोरी से सम्भोग करवाया जा रहा है। बलात्कार जैसी स्थिति के इस सबूत के हाथ लगने पर वकील मार्टिन सोच में पड़ जाता है।

पहले तो स्टैम्पलर के पास हत्या की कोई वजह नहीं थी, लेकिन अगर वो ये सबूत अदालत में रखता तो साबित हो जाता कि स्टैम्पलर इस वजह से आर्चबिशप से दुश्मनी पाले बैठा था। वो इस सबूत के साथ जब स्टैम्पलर के पास पहुँचता है तो अचानक उसमें एक परिवर्तन होता है। सीधा-सादा हकलाता सा लड़का स्टैम्पलर अचानक बदल कर किसी और ही व्यक्तित्व में सामने आता है। वो खुद को ‘रॉय’ बुलाने लगता है और स्वीकारता है कि आर्चबिशप की नृशंस तरीके से हत्या उसी ने की है क्योंकि स्टैम्पलर तो सीधा सादा सा है!

अदालती कार्रवाई में ‘मल्टीप्ल पर्सनालिटी डिसऑर्डर’ नामक मनोरोग सिद्ध हो जाता है और स्टैम्पलर मनोरोगी होने के कारण सजा से बच जाता है। आखरी दृश्य में जब स्टैम्पलर पूछता है कि मिस वनाबेल का गला तो ठीक है न? तब मार्टिन को समझ आता है कि स्टैम्पलर तो कभी मनोरोगी था ही नहीं! उसने नाटक करके मार्टिन को बुरी तरह ठगा और खुद को हत्या की सजा से साफ़ बचा लिया था। मार्टिन पूछता है कि क्या कभी ‘रॉय’ जैसा कोई हत्यारा सचमुच था भी या स्टैम्पलर लगातार नाटक कर रहा था? स्टैम्पलर चिढ़ाते हुए कहता है, स्टैम्पलर जैसा कोई नहीं था, हमेशा से ‘रॉय’ ही था!

कांग्रेसी नेता अभिषेक मनु सिंघवी की कार में किसी महिला को जज बनाने के प्रस्ताव के बारे में एक दौर में काफी चर्चाएँ रही थीं। कांग्रेसी एन डी तिवारी के जिस सुपुत्र की हाल में ही हत्या हुई, उसने तो बरसों मुकदमा लड़कर अपने लिए पिता का नाम हासिल किया था। कांग्रेस के शशि थरूर पर भी ऐसे ही मामलों के मुक़दमे जारी हैं। कभी सोचा है कि ऐसे लोगों का सरगना कैसा होगा? क्या सच में वो स्वीट से डिंपल वाले गालों वाला मासूम लगता बच्चा सा ही कोई होगा? या फिर हकीकत कुछ और है?

‘इंडिया टुडे’ ने जिस इंटरव्यू को प्रसारित नहीं किया उसके बीच से ही शायद ये तस्वीरें निकल कर आई हैं। इनमें जो भंगिमा है वो किसी खलनायक के ‘आओ कभी हवेली पर’ वाले रूप की ही याद दिलाती हैं। सोचिये कि कभी कोई मासूम, क्यूट, थोड़े कम दुनियावी समझदारी वाले ‘डिम्पल बाबा’ थे भी, या असली विद्रूपता से सिर्फ नकाब उतर गया है? सोचियेगा जरूर, क्योंकि फ़िलहाल सोचने पर जीएसटी नहीं लगता।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Anand Kumarhttp://www.baklol.co
Tread cautiously, here sentiments may get hurt!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अंदर शाहिद-बाहर असलम, दिल्ली दंगों के आरोपित हिंदुओं को तिहाड़ में ही मारने की थी साजिश

हिंदू आरोपितों को मर्करी (पारा) देकर मारने की साजिश रची गई थी। दिल्ली पुलिस ने साजिश का पर्दाफाश करते हुए दो को गिरफ्तार किया है।

100 मदरसे-50 हजार छात्र, गीता-रामायण की करनी ही होगी पढ़ाई: मीडिया के दावों की हकीकत

मीडिया रिपोर्टों में दावा किया जा रहा है कि मदरसों में गीता और रामायण की पढ़ाई को लेकर सरकार दबाव बना रही है।

अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू और अन्य के ठिकानों पर लगातार दूसरे दिन रेड, ED का भी कस सकता है शिकंजा

फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, अभिनेत्री तापसी पन्नु और अन्य के यहाँ लगातार दूसरे दिन 4 मार्च को भी आयकर विभाग की छापेमारी जारी है।

मारा गया शार्प शूटर अमजद, साथी भी ढेर: मुख्तार अंसारी के लिए किया था काम, UP पुलिस से एनकाउटंर में काम तमाम

दोनों शूटर प्रयागराज किसी राजनीतिक व्यक्ति की हत्या करने के इरादे से आए थे। यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने...

चोरी करके बनाया गया दीपिका पादुकोण का Levi’s जीन्स वाला विज्ञापन? Yeh Ballet के डायरेक्टर ने लगाया आरोप

"ऐसा कोई स्टूडियो मुंबई में नहीं था, इसलिए विज्ञापन के डायरेक्टर ने इसे देखा और हमारे सेट को प्लेगराइज किया।" - ‘Yeh Ballet’ के निर्देशक ने...

‘मुगलों-औरंगजेब ने करवाई मंदिरों की मरम्मत’ – NCERT बिना सबूत के पूरे देश को पढ़ा रहा था, भेजा गया लीगल नोटिस

मुगलों का महिमामंडल करने वाली NCERT को एक RTI कार्यकर्ता ने लीगल नोटिस भेजा है। NCERT को ये नोटिस मुगलों पर अप्रमाणित कंटेंट छापने को लेकर...

प्रचलित ख़बरें

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।

पुलिसकर्मियों ने गर्ल्स हॉस्टल की महिलाओं को नंगा कर नचवाया, वीडियो सामने आने पर जाँच शुरू: महाराष्ट्र विधानसभा में गूँजा मामला

लड़कियों ने बताया कि हॉस्टल कर्मचारियों की मदद से पूछताछ के बहाने कुछ पुलिसकर्मियों और बाहरी लोगों को हॉस्टल में एंट्री दे दी जाती थी।

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

LGBTQ+ एक्टिविस्ट और TEDx स्पीकर दिव्या दुरेजा पर पर होटल में यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका Elodie ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए।

‘हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया’: पूर्व DGP के खिलाफ महिला IPS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR

कुछ दिनों बाद उनके ससुर के पास फोन कॉल कर दास ने कॉम्प्रोमाइज करने को कहा और दावा किया कि वो पीड़िता के पाँव पर गिरने को भी तैयार हैं।

‘बिके हुए आदमी हो तुम’ – हाथरस मामले में पत्रकार ने पूछे सवाल तो भड़के अखिलेश यादव

हाथरस मामले में सवाल पूछने पर पत्रकार पर अखिलेश यादव ने आपत्तिजनक टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद उनकी किरकिरी हुई।

आगरा से बुर्के में अगवा हुई लड़की दिल्ली के पीजी में मिली: खुद ही रचा ड्रामा, जानिए कौन थे साझेदार

आगरा के एक अस्पताल से हुई अपहरण की यह घटना सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद सामने आई थी।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,889FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe