Friday, April 19, 2024
Homeराजनीतिचिन्मयानन्द के खिलाफ SIT को सौंपे गए 43 क्लिप्स: नहाती हुई छात्रा का बनाया...

चिन्मयानन्द के खिलाफ SIT को सौंपे गए 43 क्लिप्स: नहाती हुई छात्रा का बनाया वीडियो, ब्लैकमेल कर किया रेप

"वह (पीड़िता) मेरे साथ उसी कॉलेज में पढ़ा करती थी। उसने मुझे अपनी समस्याओं के बारे में बताया था। उसने बताया कि उसे कॉलेज हॉस्टल में मुफ़्त में खाना वगैरह दिया जाता था लेकिन उसे इसका तनिक भी अंदाज़ा नहीं था कि ये सब क्यों हो रहा है? बाद में....."

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर की एक लॉ छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानन्द पर बलात्कार का आरोप लगाया था। अब छात्रा ने उन पर एक साल तक यौन शोषण करने का गंभीर आरोप लगाया। छात्रा ने कहा कि जब वह नहा रही थी, तब चिन्मयानन्द ने उसका वीडियो बना लिया। इसी वीडियो के जरिए वह छात्रा को ब्लैकमेल करते रहे। आरोप है कि उन्होंने वीडियो के जरिए ब्लैकमेलिंग कर छात्रा का रेप किया। इतना ही नहीं, चिन्मयानन्द ने रेप का वीडियो भी शूट किया।

पीड़िता के पिता ने कहा कि चिन्मयानन्द ने कई वीडियो शूट कर लिए थे और उसका इस्तेमाल करते हुए पीड़िता का रेप करते थे। अंततः पीड़िता ने एक हिडन कैमरे की मदद से उनके कुकृत्यों को रिकॉर्ड करने की ठानी। पीड़िता के एक दोस्त ने भी पूर्व केंद्रीय मंत्री के ख़िलाफ़ बयान देते हुए उन पर लगे आरोपों की पुष्टि की। पीड़िता के मित्र ने कहा:

“वह (पीड़िता) मेरे साथ उसी कॉलेज में पढ़ा करती थी। उसने मुझे अपनी समस्याओं के बारे में बताया था। उसने बताया कि उसे कॉलेज हॉस्टल में मुफ़्त में खाना वगैरह दिया जाता था लेकिन उसे इसका तनिक भी अंदाज़ा नहीं था कि ये सब क्यों हो रहा है? बाद में उसने मुझे बताया कि जब वह नहाने गई, तब उसका एक वीडियो रिकॉर्ड कर लिया गया और अब उसी वीडियो के जरिए उसे ब्लैकमेल किया जा रहा है।”

स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) इस मामले की जाँच कर रही है। आरोपों की पुष्टि के लिए पीड़िता के पिता ने एसआईटी को 43 वीडियो क्लिप्स सौंपी है। पीड़िता के पिता ने कहा कि जौनपुर से सांसद रहे चिन्मयानन्द ने सबूत मिटाने की कोशिश की है। आरोप है कि चिन्मयानन्द ने पीड़िता के हॉस्टल के कमरे से कई सबूत मिटा दिए। एसआईटी ने सभी वीडियो क्लिप्स को फॉरेंसिक टीम को जाँच के लिए दिया है। इस मामले को देख रही इलाहबाद हाईकोर्ट की पीठ सोमवार (सितम्बर 23, 2019) को मामले की सुनवाई करेगी।

फॉरेंसिक टीम ने चिन्मयानन्द के कमरे से भी कुछ चीजें बरामद की थी। आज पीड़िता को कड़ी सुरक्षा के बीच शाहजहाँपुर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ उसका बयान दर्ज किया गया। पीड़िता का आरोप है कि चिन्मयानन्द ने कई अन्य छात्राओं का भी बलात्कार किया है। चिन्मयानन्द के वकील ने कोर्ट में कहा था कि मसाज या मालिश कराना कोई अपराध नहीं है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 नए शहर, ₹10000 करोड़ के नए प्रोजेक्ट… जानें PM मोदी तीसरे कार्यकाल में किस ओर देंगे ध्यान, तैयार हो रहा 100 दिन का...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी अधिकारियों से चुनाव के बाद का 100 दिन का रोडमैप बनाने को कहा था, जो अब तैयार हो रहा है। इस पर एक रिपोर्ट आई है।

BJP कार्यकर्ता की हत्या में कॉन्ग्रेस MLA विनय कुलकर्णी की संलिप्तता के सबूत: कर्नाटक हाई कोर्ट ने 3 महीने के भीतर सुनवाई का दिया...

भाजपा कार्यकर्ता योगेश गौदर की हत्या के मामले में कॉन्ग्रेस विधायक विनय कुलकर्णी के खिलाफ मामला रद्द करने से हाई कोर्ट ने इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe