Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिखुले मंच से कहा- 15 मिनट के लिए पुलिस हटा लो... हैदराबाद की स्पेशल...

खुले मंच से कहा- 15 मिनट के लिए पुलिस हटा लो… हैदराबाद की स्पेशल कोर्ट ने नहीं माना ‘हेट स्पीच’: ओवैसी का भाई बरी, राम-गौपूजा का भी बनाया था मजाक

निर्मल में उन्होंने 'बाबरी मस्जिद की शहादत' की बात करते हुए कहा था कि मुंबई में उसके बाद बम धमाके हुए। उन्होंने कहा था, "ऐ हिंदुस्तान, अगर तुमने बाबरी मस्जिद की शहादत न की होती तो बम्बई के धमाके भी नहीं होते।"

विशेष अदालत ने तेलंगाना विधानसभा में AIMIM (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन) के विधानमंडल दल के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी को हेट स्पीच से जुड़े दो मामलों को निर्दोष करार देते हुए बरी कर दिया है। हैदराबाद में AIMIM के 7 विधायक हैं, जिनमें से अकबरुद्दीन ओवैसी ने चंद्रयांगुत्ता का प्रतिनिधित्व करते हैं। 1999 से अब तक वो 5 बार इस सीट को जीत चुके हैं और पिछले 23 वर्षों से लगातार विधायक हैं।

उनके बड़े भाई और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी AIMIM के अध्यक्ष हैं। नामपल्ली मेट्रोपॉलिटन अदालत परिसर में स्थित स्पेशल MP/MLA सेशन कोर्ट ने उन्हें निर्मल और निज़ामाबाद जिलों में हेट स्पीच के दो मामलों में निर्दोष करार दिया। हालाँकि, ‘राष्ट्रीय अखंडता’ की दुहाई देते हुए अदालत ने उन्हें निर्देश दिया कि वो भविष्य में विवादित भाषण देने से बचें। ये मामला 2012 का है। तब FIR दर्ज किए जाने के बाद उन्हें गिरफ्तार भी किया गया था।

हिन्दुओं के खिलाफ घृणा फैलाने और उकसाने वाला ये भाषण उन्होंने 8 दिसंबर, 2012 को निज़ामाबाद में और आदिलाबाद के निर्मल क़स्बे में उसी साल 22 दिसंबर को दिया था। तब तेलंगाना भी आंध्र प्रदेश का ही हिस्सा हुआ करता था। इस मामले की जाँच CID को सौंपी गई थी, जिसने 2016 में आरोप-पत्र दाखिल किया था। उन पर IPC की धाराओं के तहत भड़काने वाला भाषण देने के आरोप लगाए गए थे। ये वीडियोज आज तक सर्कुलेट किए जाते हैं। अदालत ने कार्यवाही के दौरान कुल 74 गवाहों के बयान सुने

निर्मल में उन्होंने ‘बाबरी मस्जिद की शहादत’ की बात करते हुए कहा था कि मुंबई में उसके बाद बम धमाके हुए। उन्होंने कहा था, “ऐ हिंदुस्तान, अगर तुमने बाबरी मस्जिद की शहादत न की होती तो बम्बई के धमाके भी नहीं होते। मैं सिर्फ मुस्लिमपरस्त हूँ। राम जेठमलानी ने कहा कि सबसे गंदा आदमी जो औरतों का इकराम नहीं करता, वो राम था। ये मैं नहीं बोल रहा, राम जेठमलानी ने कहा।” इसी तरह निज़ामाबाद में भी उन्होंने भड़काऊ भाषण दिए थे।

वहाँ उन्होंने नरेंद्र मोदी की तुलना पाकिस्तानी आतंकी अजमल कसाब से कर डाला था और कहा था कि जब कसाब को फाँसी हो सकती है तो भारत में रहने वाला मुस्लिमों को मारता है तो उसे क्यों नहीं? उन्होंने हिंदुओं में गौ-पूजा का भी मजाक बनाते हुए कहा था कि हिंदू बाजार में लाकर ‘अपनी माता’ को बेच रहे हैं। उन्होंने यहाँ भी बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया था। उन्होंने ’15 मिनट के लिए पुलिस हटाने’ वाली धमकी भी हिन्दुओं को दी थी। उन्होंने कहा था, “मुस्लिम 25 करोड़ हैं और तुम हिंदू 100 करोड़ हो। 15 मिनट के लिए पुलिस हटा लो, देख लेंगे किसमें कितना दम है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -