Saturday, October 16, 2021
HomeराजनीतिPM उम्मीदवार के नाम पर हड़बड़ा गए अखिलेश, दिया लच्छेदार जवाब

PM उम्मीदवार के नाम पर हड़बड़ा गए अखिलेश, दिया लच्छेदार जवाब

दिलचस्प यह है कि एक तरफ जहाँ अखिलेश कोलकाता में ममता की रैली का हिस्सा बने वहीं दूसरी तरफ मायावती इस रैली में शामिल नहीं हुईं

लोकसभा चुनावों के आते-आते सबके जहन में एक सवाल जो आम तौर पर उठ रहा होता है वो यह कि पीएम पद के उम्मीदवार पर किसका नाम सामने आएगा। यह सवाल यदि आम जनता से पूछा जाए तो शायद उनकी जुबान का हड़बड़ाना बनता है, लेकिन यदि राजनीति से जुड़ा दिग्गज भी इस सवाल को टाल जाए, तो उसे क्या समझा जाएगा!

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से जब शनिवार (जनवरी 19, 2019) को प्रधानमंत्री के पद के लिए उम्मीदवार का नाम पूछा गया तो वो इस सवाल को टालते हुए नज़र आए।

उन्होंने कोलकाता में “यूनाइटेड रैली” के मौके पर में इंडिया टुडे टीवी को बताया कि प्रधानमंत्री के पद पर उम्मीदवार से कोई मतलब नहीं है। अगर किसी चीज़ से मतलब है तो वो यह कि देश को नए प्रधानमंत्री की जरूरत है। जो देश को जरूर मिलेगा।

बता दें कि अखिलेश का यह लच्छेदार जवाब उस समय आया, जब उनसे पूछा गया कि मायावती और ममता बनर्जी में से प्रधानमंत्री के पद के लिए कौन बेहतर उम्मीदवार है?

ममता बनर्जी और मायावती महागठबंधन के दो ऐसे प्रसिद्ध चेहरे हैं, जो आगामी लोकसभा चुनावों में प्रधानमंत्री पद के लिए चुने जा सकते हैं। ये दोनों ही महिलाएँ अपने-अपने राज्यों में सबसे सशक्त महिला राजनेताओं में से एक हैं।

दिलचस्प यह है कि एक तरफ जहाँ अखिलेश कोलकाता में ममता की रैली का हिस्सा बने वहीं दूसरी तरफ मायावती इस रैली में शामिल नहीं हुईं।

इस रैली में विपक्षी पार्टियों के करीब 20 बड़े चेहरों ने शिरकत की। इनमें  शरद पवार, चंद्रबाबू नायडू, एचडी कुमारस्वामी, फ़ारूख अब्दुल्लाह और उमर अब्दुल्लाह भी दिखे।

हैरान करने वाली बात यह रही कि शत्रुघन सिन्हा, यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी भी इस रैली में ‘दीदी’ को सपोर्ट करते दिखाई दिए।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम बहुल किशनगंज के सरपंच से बनवाया था आईडी कार्ड, पश्चिमी यूपी के युवक करते थे मदद: Pak आतंकी अशरफ ने किए कई खुलासे

पाकिस्तानी आतंकी ने 2010 में तुर्कमागन गेट में हैंडीक्राफ्ट का काम शुरू किया। 2012 में उसने ज्वेलरी शॉप भी ओपन की थी। 2014 में जादू-टोना करना भी सीखा था।

J&K में बिहार के गोलगप्पा विक्रेता अरविंद साह की आतंकियों ने कर दी हत्या, यूपी के मिस्त्री को भी मार डाला: एक दिन में...

मृतक का नाम अरविंद कुमार साह है। उन्हें गंभीर स्थिति में ही श्रीनगर SMHS ले जाया गया, जहाँ उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। वो बिहार के बाँका जिले के रहने वाले थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe