Sunday, September 19, 2021
Homeराजनीति'तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो, बाहर भागो' - डॉक्टर को सरेआम धमकाया अखिलेश यादव...

‘तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो, बाहर भागो’ – डॉक्टर को सरेआम धमकाया अखिलेश यादव ने, वीडियो हो गया Viral

"तुम बहुत छोटे अधिकारी हो। बहुत छोटे कर्मचारी हो। तुम मुझे नहीं समझा सकते। दूर हो जाओ एकदम… एकदम दूर हो जाओ… एकदम हट जाओ यहाँ से, भाग जाइए यहाँ से, बाहर भागो यहाँ से।”

कन्नौज हादसे में घायलों से मिलने अस्पताल पहुँचे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर को ही जमकर हड़काया। इसका वीडियो भी सामने आया है। जिसमें वो अस्पताल के इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर को सरेआम धमकाते, डाँटते और बदसलूकी से बात करते नज़र आ रहे हैं।

तिलमिलाए अखिलेश यादव ने चीफ मेडिकल ऑफिसर से यहाँ तक कह दिया कि ‘बाहर भागो यहाँ से।’ इस वीडियो में नजर आ रहा है कि अखिलेश यादव कन्नौज के छिबरामऊ स्थित अस्पताल में घायलों से मिलने पहुँचे थे और उनका हालचाल पूछ रहे थे। इसी बीच इलाज करा रहे एक मरीज के परिजन ने कहा कि ‘अभी तक इसको चेक तक नहीं दिया गया है।’ 

इस पर अखिलेश यादव पूछते हैं कि काहे जी… तभी ही वहाँ मौजूद इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर कहते हैं कि मिल गई है भैया… इसके बाद अखिलेश यादव डॉक्टर से मुखातिब होते हुए कहते हैं, “तुम मत बोलो, तुम सरकारी आदमी हो। हम जानते हैं, सरकार क्या होती है। तुम मत बोलो, इसलिए मत बोलो क्योंकि तुम सरकार के आदमी हो। तुम्हें नहीं बोलना चाहिए। तुम सरकार का पक्ष नहीं ले सकते। तुम बहुत छोटे अधिकारी हो। बहुत छोटे कर्मचारी हो। आरएसएस के हो सकते हो, बीजेपी के हो सकते हो, लेकिन ये बात नहीं कह सकते कि वो क्या कह रहा है, तुम मुझे नहीं समझा सकते। दूर हो जाओ एकदम… एकदम दूर हो जाओ… एकदम हट जाओ यहाँ से, भाग जाइए यहाँ से, बाहर भागो यहाँ से।”

इसके बाद अखिलेश यादव अस्पताल के कमरे में मौजूद लोगों से पूछते हैं कि ‘क्या पोस्ट है इसकी? और वहाँ मौजूद लोगों में से कोई कहता है कि ईएमओ (इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर) हैं। इस पर अखिलेश यादव कहते हैं कि इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर हैं तो कहाँ के रहने वाले हैं। तभी एक शख्स जवाब देता है ‘गोरखपुर’। तब अखिलेश यादव फिर कहते हैं कि गोरखपुर के हैं, इसलिए सरकार की साइड ले रहे हैं।

इस संबंध में इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डॉ डीएस मिश्रा का कहना है कि पूर्व सीएम ने उनके साथ अभद्रता की है। उन्हें भाजपा व आरएसएस का व्यक्ति बताकर कमरे से बाहर निकाल दिया। वह इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात थे। डीएस मिश्रा ने बताया कि जब अखिलेश यादव अस्पताल पहुँचे थे तो वो वहाँ पर मरीजों का इलाज कर रहे थे। अखिलेश यादव के आने पर एक मरीज ने कहा कि उसे मुआवजे का चेक नहीं मिला है। जिसके बाद उन्होंने स्पष्ट करने की कोशिश की कि चेक दिया गया है। इस पर पूर्व सीएम अखिलेश यादव भड़क गए और उन्हें कमरे से बाहर जाने के लिए कह दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिब्बल की राह पर थरूर, कॉन्ग्रेसी आलाकमान पर साधा निशाना, कहा – ‘पार्टी को तुरंत नए नेतृत्व की जरूरत’

"सोनिया गाँधी के खिलाफ किसी ने एक शब्द नहीं कहा, लेकिन वह खुद से ही पद छोड़ना चाहती हैं। नए नेतृत्व को जल्द से जल्द पद सँभाल लेना चाहिए।"

पंजाब के बाद राजस्थान में फँसी कॉन्ग्रेस: सचिन पायलट दिल्ली में, CM अशोक गहलोत के OSD का इस्तीफा

इस्तीफे की वजह लोकेश शर्मा द्वारा किया गया एक ट्वीट बताया जा रहा है जिसके बाद कयासों का नया दौर शुरू हो गया था और उनके ट्वीट को पंजाब के घटनाक्रम के साथ भी जोड़कर देखा जाने लगा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,150FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe