Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीतिपवन सिंह के पीछे-पीछे पॉलिटिक्स में अक्षरा सिंह, PK की बनेंगी 'हमसफर': कभी भोजपुरी...

पवन सिंह के पीछे-पीछे पॉलिटिक्स में अक्षरा सिंह, PK की बनेंगी ‘हमसफर’: कभी भोजपुरी की थी ‘सबसे हॉट जोड़ी’, जानिए फिर कैसे हुआ कट्टमकट्टा

केंद्रीय मंत्री आरके सिंह सांसद हैं। पवन सिंह कह चुके हैं कि कौन आगे नहीं बढ़ना चाहता, उन्हें बस ऊपर से आदेश का इंतज़ार है।

भोजपुरी अभिनेत्री अक्षरा सिंह ‘जन सुराज’ में शामिल होने वाली हैं। बता दें कि इस संगठन की स्थापना प्रशांत किशोर ने की है और वो पूरे बिहार में घूम-घूम कर इससे लोगों को जोड़ रहे हैं। अक्षरा सिंह से उनकी मुलाकात के बाद अब अभिनेत्री के ‘जन सुराज’ में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं। प्रशांत किशोर एक सफल चुनावी रणनीतिकार हैं, जो नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार, कैप्टन अमरिंदर सिंह, ममता बनर्जी और जगमोहन रेड्डी जैसे नेताओं के चुनाव का प्रबंधन देख चुके हैं।

बता दें कि पवन सिंह के साथ करीबी रिश्ते को लेकर अक्षरा सिंह अक्सर चर्चा में रही हैं। भोजपुरी स्टार पवन सिंह के साथ उन्होंने कई फिल्मों में काम किया है। पवन सिंह ने 2017 में ही भाजपा में शामिल होने का निर्णय लिया था और तब से वो पार्टी के कुछ कार्यक्रमों में दिखते भी रहे हैं। 2024 के लोकसभा चुनाव और 2025 के विधानसभा चुनाव से पहले अब दोनों ही राजनीति में सक्रिय हो गए हैं। अक्षरा सिंह पटना के कंकड़बाग की रहने वाली हैं।

पवन सिंह संकेतों में बता चुके हैं कि वो भोजपुर लोकसभा क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा रखते हैं, वहीं अक्षरा सिंह पटना को अपनी राजनीति का कार्यक्षेत्र बनाना चाहती हैं। फ़िलहाल भाजपा के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद प्रसाद पटना से सांसद हैं। अक्षरा सिंह का बचपन भी यहीं से गुजरा है। वहीं आरा (भोजपुर) से केंद्रीय मंत्री आरके सिंह सांसद हैं। पवन सिंह कह चुके हैं कि कौन आगे नहीं बढ़ना चाहता, उन्हें बस ऊपर से आदेश का इंतज़ार है।

इसका सीधा अर्थ है कि पवन सिंह की तैयारी पूरी है। भोजपुरी इंडस्ट्री में ये बात प्रचलित है कि अक्षरा सिंह मानती हैं कि पवन सिंह ने उन्हें धोखा दिया। इसके बाद वो कई दिनों तक एकदम टूट गई थीं। ज्योति सिंह की एंट्री के बाद पवन सिंह ने अक्षरा से अपने रिश्ते तोड़ लिए थे। वहीं अब पवन और ज्योति के बीच भी तलाक का केस चल रहा है और दोनों अलग रहते हैं। पवन सिंह की एक पत्नी ने शादी के 1 साल बाद ही आत्महत्या कर ली थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहीं दर्जनों परिवारों को करना पड़ा पलायन, कहीं सिर मर मार दी गोली… बंगाल में राजनीतिक हिंसा की जाँच के लिए BJP ने बनाई...

लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के एक दिन बाद 5 जून को पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों से चुनाव-पश्चात हिंसा की कई घटनाएँ सामने आईं।

‘हिन्दुओं गाड़ियों से रौंदो, बम से उड़ाओ, चाकू से उनके पेट चीरो’: ISIS की पत्रिका में हिंसक जिहाद का एलान, PM मोदी और राम...

आतंकी संगठन ISIS समर्थित वॉयस ऑफ़ खुरासान पत्रिका ने दुनिया भर के मुस्लिमों को भारत में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए उकसाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -