Tuesday, November 30, 2021
Homeराजनीतिपटाखों से प्रदूषण, प्रदूषण से कोरोना इसलिए पटाखे न जलाएँ.. मैं भी पूजा करूँगा-...

पटाखों से प्रदूषण, प्रदूषण से कोरोना इसलिए पटाखे न जलाएँ.. मैं भी पूजा करूँगा- अरविन्द केजरीवाल

केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दिल्ली इस समय कोरोना और प्रदूषण से जंग लड़ रही है प्रदूषण की वजह से कोरोना स्थिति और खराब हो रही है इसलिए पटाखे ना जलाएँ।

देश भर में पूरी ऊर्जा और उत्साह से मनाया जाने वाला त्यौहार दिवाली बेहद नज़दीक है। इस त्यौहार की तैयारियाँ भी शुरू हो चुकी हैं लेकिन तैयारियों के साथ साथ पटाखे जलाने से होने वाले प्रदूषण पर भी बयानबाजी शुरू हो चुकी है। इसी कड़ी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिवाली के ठीक पहले आम लोगों से निवेदन करते हुए एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में केजरीवाल ने जनता से निवेदन करते हुए कहा है कि वह लोगों के साथ पूजा करने को तैयार हैं लेकिन कोई पटाखे न जलाए

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने सीधे प्रसारण के दौरान संबोधित करते हुए इस मुद्दे पर अपनी बात कही। उन्होंने कहा, “इस बार भी हम सभी लोग मिलकर दिवाली मनाएँगे, पटाखे नहीं जलाएँगे। किसी भी हालत में पटाखे नहीं जलाने हैं अगर पटाखे जलाएँगे तो हम लोग अपने ही बच्चों की ज़िन्दगी के साथ खेलेंगे। ऐसा करके हम लोग अपने दिल्ली के परिवार की ज़िन्दगी के साथ खेलेंगे। पटाखे नहीं जलाएँगे और दिवाली का त्यौहार एक साथ मनाएँगे।” 

इसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, “इस बार हम दिवाली के लिए अलग इंतज़ाम कर रहे हैं। दिवाली वाले दिन 14 तारीख को 7 बज कर 39 मिनट से हम सारे लोग (दिल्ली के 2 करोड़ लोग) मिल कर लक्ष्मी पूजन करेंगे। मैं अपने मंत्रियों के साथ दिल्ली में एक जगह लक्ष्मी पूजन शुरू करूँगा, 7 बज कर 39 मिनट पर और कुछ टीवी चैनल उसका सीधा प्रसारण करेंगे।” 

केजरीवाल ने ये बातें एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि दिल्ली इस समय कोरोना और प्रदूषण से जंग लड़ रही है। हम सबके पूरे प्रयास हैं कि इन दोनों से हम जीत जाएँ, प्रदूषण की वजह से कोरोना स्थिति और खराब हो रही है।

दिल्ली की जनता से निवेदन करते हुए अरविन्द केजरीवाल ने कहा, “मैं आप सभी से अपील करता हूँ, दिल्ली के मेरे सभी भाइयों-बहनों और दिल्ली परिवार के सभी सदस्यों से अपील करता हूँ कि आप सब लोग उस वक्त अपना टीवी ऑन करके अपने अपने घर में, अपने अपने परिवार के साथ मिल कर/बैठ कर। वहाँ पर पंडित जी मंत्रोच्चारण करेंगे और उस वक्त आप सभी लोग अपने घरों में लक्ष्मी पूजन करें।”  

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,547FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe