Thursday, August 5, 2021
HomeराजनीतिVIDEO: हाथरस मामले पर प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी से भिड़े कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, हुई...

VIDEO: हाथरस मामले पर प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी से भिड़े कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, हुई सख्त कार्रवाई की माँग

भीम आर्मी ने विरोध प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस पार्टी के ख़िलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी थी, इसी के कारण दोनों दलों में झड़प हुई। प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी के सदस्यों ने छत्तीसगढ़ में कॉन्ग्रेस सरकार के खिलाफ दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की, जिसके कारण कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए।

हाथरस मामले में योगी सरकार का विरोध करते-करते सोमवार (अक्टूबर 5, 2020) को कॉन्ग्रेस और भीम आर्मी वाले आपस में झगड़ पड़े। बात इतनी बढ़ गई कि मारपीट तक पहुँच गई। पूरा मामला छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चंपा जिले का है। विरोध प्रदर्शन के दौरान दोनों दलों के बीच जमकर मारपीट शुरू हो गई।

रिपोर्ट्स के अनुसार, भीम आर्मी ने विरोध प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस पार्टी के ख़िलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी थी, इसी के कारण दोनों दलों में झड़प हुई। प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी के सदस्यों ने छत्तीसगढ़ में कॉन्ग्रेस सरकार के खिलाफ दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की, जिसके कारण कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए। नतीजतन, दूसरी ओर से भी भीम आर्मी पर हमला बोल दिया गया।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा जारी की गई वीडियो में देख सकते हैं कि दोनों दल के कार्यकर्ता एक दूसरे को पकड़ कर मारने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं पुलिस उन्हें छुड़ा-छुड़ा कर अलग कर रही है। इसके बाद वीडियो में दोनों समूहों को एक दूसरे के खिलाफ अपमानजनक नारे लगाते हुए भी देखा जा सकता है।

पुलिस अधिकारी ने इस संबंध में कहा, “कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता हाथरस मामले में प्रदर्शन कर रहे थे। इस बीच भीम आर्मी वाले आ गए और उनके ख़िलाफ़ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। इसके बाद ही हिंसा भड़की।”

जांजगीर इलाके के एसडीएम का कहना है कि जिला प्रशासन को भी इस संबंध में महिला कॉन्ग्रेस से शिकायत मिली है। उन्होंने इस केस में भीम आर्मी के ख़िलाफ़ सख्त कार्रवाई की माँग की है। अधिकारी ने यह भी कहा कि अब मामले में जाँच की जा रही हैं और प्रदर्शन के दौरान माहौल बिगाड़ने वालों के ख़िलाफ़ सख्त एक्शन लिया जाएगा।

गौरतलब है कि पिछले दिनों हाथरस में एक लड़की के साथ कथिततौर पर गैंगरेप की वारदात सामने आई थी। इसके बाद उसकी मौत की खबर से पूरा देश फिर हिल गया और बाद में आधी रात में हुए अंतिम संस्कार से तो देश में आक्रोश का माहौल फैल गया। कई विपक्षी पार्टियों ने इसका राजनीतिकरण करना शुरू कर दिया। कॉन्ग्रेस, टीएमसी, आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी सब हाथरस की ओर कूच करने लगे और मीडिया में लगातार योगी सरकार पर सवाल उठना शुरू हो गया। वहीं अब इस मामले में योगी सरकार के खिलाफ लगातार साजिशों का भी खुलासा हो रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,042FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe