Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिममता बनर्जी ने BJP को बताया माओवादियों से भी खतरनाक, कहा- भगवा पार्टी की...

ममता बनर्जी ने BJP को बताया माओवादियों से भी खतरनाक, कहा- भगवा पार्टी की बैठकों को डिस्टर्ब करने भेजूँगी कुछ लोग

"पिछले कुछ दिनों से नोटिस कर रही हूँ कि बीजेपी की ओर से भेजे गए कुछ लोग हमारी सभाओं में हंगामा करते हैं। अब मैं कुछ लोगों को बीजेपी और सीपीएम की मीटिंग में हंगामा करने के लिए भेजूँगी।”

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार (जनवरी 19, 2021) को कहा कि बीजेपी और सीपीएम की चुनावी रैलियों और सभाओं में हंगामा करने के लिए अपने लोगों को भेजेंगी। मुख्यमंत्री का ये बयान पुरुलिया की सभा में आया, जहाँ वे अपने चुनावी कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। 

उन्होंने कहा, “पिछले कुछ दिनों से नोटिस कर रही हूँ कि बीजेपी की ओर से भेजे गए कुछ लोग हमारी सभाओं में हंगामा करते हैं। अब मैं कुछ लोगों को बीजेपी और सीपीएम की मीटिंग में हंगामा करने के लिए भेजूँगी।” दरअसल ममता की रैली में कुछ लोग अपनी माँगों को लेकर हंगामा करने लगे थे, जिस पर ममता बनर्जी अपना आपा खो बैठीं और कहा कि ये बीजेपी के लोग हैं, जो हंगामा करते हैं।

ममता बनर्जी ने बीजेपी को माओवादियों से भी खतरनाक बताया। पुरुलिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए वो यहीं नहीं रूकीं। उन्होंने यहाँ तक कह दिया कि बीजेपी ‘जहरीले साँपो’ से भी खतरनाक है।

तृणमूल कॉन्ग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कहा, “उनकी पार्टी से जो लोग बीजेपी में जाना चाहते हैं, वे जा सकते हैं, लेकिन हम अपना सिर बीजेपी के सामने नहीं झुकाएँगे। राजनीति पवित्र विचारधारा और दर्शन है, कोई व्यक्ति कपड़े तो रोज बदल सकता है, लेकिन विचारधारा नहीं।” गौरतलब है कि हाल के दिनों में टीएमसी के कई नेता बीजेपी का दामन थाम चुके हैं। इनमें सबसे प्रमुख नाम शुभेंदु अधिकारी का है।

उनके विधानसभा नंदीग्राम से ममता बनर्जी ने इस बार चुनाव लड़ने की घोषणा की है। सुवेंदु अधिकारी ने भी ममता की चुनौती स्‍वीकार करते हुए कहा है कि वह उनको 50 हजार से अधिक वोटों से हराएँगे नहीं तो राजनीति से संन्‍यास ले लेंगे।

मुख्यमंत्री ने एक बार फिर बाहरी का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि पुरुलिया के लोगों ने इससे पहले भी बाहरी शक्तियों के सामने कभी सिर नहीं झुकाया है। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने बिरसा मुंडा का अपमान किया है।

ममता ने दावा किया, “एक दलित परिवार ने कहा कि हमने उन्हें (घर पर पहुँचने वाले भाजपा नेताओं) को अपनी जेब से खाना खिलाया है पर हम राशि का भुगतान कैसे कर सकते हैं? मैं अपने कार्यकर्ताओं से कहूँगी कि जब आप ऐसा कुछ देखते हैं, तो उन्हें भुगतान करें। अगर कोई आपको वोट देने के लिए पैसे देता है, तो पैसे ले लीजिए।”

सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि चुनावों से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने 15 लाख का वादा किया था, क्या आप में से किसी को भी मिला है? बंगाल में दंगाबाज बीजेपी को नहीं चलने देंगे। ममता ने एक्ट्रेस सायानी घोष को लेकर बीजेपी पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने एक्ट्रेस सायानी घोष को कैसे धमकाया।

सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी अगर बंगाली फिल्म उद्योग से किसी को धमकाने या छूने की हिम्मत करती है तो हम देख लेंगे। सायानी घोष मेरी पोती की तरह हैं। आपको बता दें कि बंगाली फिल्म अभिनेत्री सायानी घोष के ख़िलाफ़ मेघालय के पूर्व राज्यपाल व भाजपा के वरिष्ठ नेता तथागत रॉय ने हिंदू धार्मिक मान्यताओं का अपमान करने को लेकर शिकायत दर्ज करवाई है। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe