Sunday, June 26, 2022
HomeराजनीतिBJP नेता अपूर्वा सिंह पर अश्लील टिप्पणी: तीसरा आरोपित गिरफ्तार, मो. आसिम पहले से...

BJP नेता अपूर्वा सिंह पर अश्लील टिप्पणी: तीसरा आरोपित गिरफ्तार, मो. आसिम पहले से पुलिस के शिकंजे में

भाजपा नेता अपूर्वा सिंह की एडिट की हुई अश्लील फोटोज शेयर किए गए थे। उन्हें निशाना बनाने वाले अधिकतर ट्विटर हैंडल्स मुस्लिमों के थे। अपूर्वा सिंह ने आरोप लगाया था कि कॉन्ग्रेस पार्टी, समाजवादी पार्टी और इस्लामी कट्टरपंथियों ने उन्हें प्रताड़ित करने के लिए सोशल मीडिया पर उनकी मॉर्फ्ड अश्लील तस्वीरें पोस्ट की थीं।

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने भाजपा नेता अपूर्वा सिंह को धमकी देने के मामले में दो लोगों को गिरफ़्तार किया है। बिहार से पकड़े गए इन दोनों पर आरोप है कि इन्होने दिल्ली भाजपा आईटी सेल की सह-संयोजक अपूर्वा सिंह की तस्वीरों को आपत्तिजनक रूप में सर्कुलेट किया था। इससे पहले भी इस मामले में 2 की गिरफ़्तारी की जा चुकी है। पुलिस ने बताया कि ताज़ा गिरफ़्तारी को लेकर जाँच चल रही है।

इससे पहले भाजपा युवा नेता अपूर्वा सिंह के खिलाफ सोशल मीडिया पर किए गए आपत्तिजनक टिप्पणी को डिलीट करने के साथ ही मोहम्मद आसिम नाम के एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम डिपार्टमेंट ने सोमवार (मई 18, 2020) को दी थी। साइबर क्राइम डिपार्टमेंट ने बताया था कि अपूर्वा सिंह की शिकायत पर ट्विटर से सभी आपत्तिजनक पोस्ट और फेसबुक से 26 पोस्ट को डिलीट कर दिया गया था।

बता दें कि भाजपा नेता अपूर्वा सिंह की एडिट की हुई अश्लील फोटोज भी शेयर किए गए थे। उन्हें निशाना बनाने वाले अधिकतर ट्विटर हैंडल्स मुस्लिमों के थे। बीजेपी आईटी सेल की सह-संयोजक युवा नेता अपूर्वा सिंह ने आरोप लगाया था कि कॉन्ग्रेस पार्टी, समाजवादी पार्टी और इस्लामवादी समर्थकों ने उन्हें प्रताड़ित करने के लिए सोशल मीडिया पर उनकी मॉर्फ्ड अश्लील तस्वीरें भी पोस्ट की गई हैं।

भाजपा नेता अपूर्वा सिंह ने ट्विटर पर कहा था कि विपक्षी दलों के समर्थक, विशेष रूप से मुस्लिम समुदाय के लोग किसी और की पोर्नोग्राफिक अश्लील फोटोज़ को उनकी तस्वीर के साथ लगा कर सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। अपूर्वा सिंह ने अपनी शिकायत पर कार्यवाही न करने के लिए पुलिस अधिकारियों की निष्क्रियता पर भी निराशा व्यक्त की थी, जो उन्होंने दो महीने पहले दर्ज कराई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत जल्द बनेगा $30 ट्रिलियन की इकोनॉमी’ : देश का मजाक उड़वाने के लिए NDTV ने पीयूष गोयल के बयान से की छेड़छाड़, पोल...

एनडीटीवी ने झूठ बोलकर पाठकों को भ्रमित करने का काम अभी बंद नहीं किया है। हाल में इस चैनल ने भाजपा नेता पीयूष गोयल के बयान को तोड़-मरोड़ के पेश किया।

’47 साल पहले हुआ था लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास’: जर्मनी में PM मोदी ने याद दिलाया आपातकाल, कहा – ये इतिहास पर काला...

"आज भारत हर महीनें औसतन 500 से अधिक आधुनिक रेलवे कोच बना रहा है। आज भारत हर महीने औसतन 18 लाख घरों को पाइप वॉटर सप्लाई से जोड़ रहा है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,523FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe