Wednesday, August 4, 2021
Homeराजनीतिपश्चिम बंगाल में BJP नेता पर बम से हमला, हाल ही में TMC छोड़...

पश्चिम बंगाल में BJP नेता पर बम से हमला, हाल ही में TMC छोड़ भाजपा में हुए थे शामिल

बसीरहाट के प्रभावशाली नेताओं में से एक फिरोज कमाल गाजी की गाड़ी को पहले स्पीड ब्रेकर पर रोका गया, फिर क्रूड बम से हमला किया गया।

पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं पर हमले की घटनाएँ थमने का नाम नहीं ले रही है। अब भाजपा नेता फिरोज कमाल गाजी पर हमला हुआ है। ‘बाबू मास्टर’ के नाम से पहचाने जाने वाले फिरोज की कार पर शनिवार (फरवरी 13, 2021) को क्रूड बम से हमला किया गया। ये हमला तब हुआ, जब वो राजधानी कोलकाता की तरफ जा रहे थे। गाजी उन नेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने हाल के दिनों में तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) छोड़ कर भाजपा का दामन थामा है।

उन्हें बसीरहाट में स्थानीय स्तर के प्रभावशाली नेताओं में से एक माना जाता है। ये क्षेत्र नॉर्थ 24 परगना जिले में पड़ता है। उन पर हमला तब हुआ, जब वो मिनखा पुलिस थाने के अंतर्गत आने वाले बसंती हाइवे से गुजर रहे थे। उन्हें कोलकाता के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। भाजपा की राज्य यूनिट ने आरोप लगाया है कि ये हमला TMC के गुंडों ने किया है। भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने हॉस्पिटल जाकर उनसे मुलाकात की हालचाल लिया।

उन्होंने कहा कि उनके दोस्त बाबू मास्टर पर TMC के आपराधिक तत्वों ने काफी बेरहमी से हमला किया है। उन्होंने कहा, “मैं इस बात को लेकर निश्चित हूँ कि इस हमले की तस्वीरें आपने ज़रूर देखी होंगी। हार मत मानिए! ये सिर्फ तृणमूल की हताशा को दिखाता है।” इस हमले में गाजी को काफी गहरे जख्म आए हैं। उनकी कार को पहले स्पीड ब्रेकर पर रोका गया, फिर क्रूड बम से हमला किया गया।

भाजपा आईटी सेल के अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल में पार्टी के सह-प्रभारी अमित मालवीय ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य की गृह मंत्री भी हैं, ऐसे में वो इस घटना पर बाकी की ऐसी घटनाओं की तरह चुप्पी साधे रहेंगी। इसे 1 दिन पहले ही भाजपा के कार्यकर्ताओं के ऊपर गर्म पानी डाल दिया गया था, जिससे उनकी स्किन पर जख्म आ गए थे। अमित शाह के बंगाल दौरे के आसपास ही ये घटनाएँ हुईं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कह चुके हैं कि  कोविड-19 वैक्सीन अभियान का काम पूरा होते ही सीएए पर अमल की दिशा में सरकार बढ़ेगी। बंगाल के मतुआ में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात क थीही। वहीं इंडिया टुडे के कॉन्क्लेव में उन्होंने दावा किया था कि बंगाल में बीजेपी 200 से ज्यादा सीटें जीतकर सरकार बनाएगी। उन्होंने आश्वस्त किया कि सीएए से किसी भी रूप में भारतीय अल्पसंख्यकों की नागरिकता पर प्रभाव नहीं पड़ेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

ईसाई बने तो नहीं ले सकते SC वर्ग के लिए चलाई जा रही केंद्र की योजनाओं का फायदा: संसद में मोदी सरकार

रिपोर्ट्स बताती हैं कि आंध्र प्रदेश में ईसाई धर्म में कन्वर्ट होने वाले 80 प्रतिशत लोग SC वर्ग से आते हैं, जो सभी तरह की योजनाओं का लाभ उठाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe