Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीति14 AAP विधायक छोड़ सकते हैं पार्टी: BJP नेता विजय गोयल से केजरीवाल की...

14 AAP विधायक छोड़ सकते हैं पार्टी: BJP नेता विजय गोयल से केजरीवाल की नोकझोंक

केजरीवाल का कहना है कि उनके विधायकों ने उन्हें बताया कि भाजपा ने उनसे संपर्क किया और उन्हें खरीदने के लिए ₹10 करोड़ का ऑफर दिया गया। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ये सब कुछ करना पीएम मोदी को बिल्कुल भी शोभा नहीं देता है।

भारतीय जनता पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने दावा किया है कि आम आदमी पार्टी के 14 विधायक पार्टी का साथ छोड़ना चाहते हैं। इन विधायकों का कहना है कि पार्टी अपने लक्ष्य से भटक गई है, लिहाजा वो पार्टी को छोड़ना चाहते हैं। दरअसल, हाल ही में आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि भाजपा उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है। केजरीवाल के इसी आरोप का जवाब देते हुए विजय गोयल ने यह दावा किया है कि आप के 7 नहीं, बल्कि 14 विधायक उनके संपर्क में हैं। उनका कहना है कि AAP पार्टी के भीतर घुटन का माहौल है, जिसकी वजह से पार्टी के नेता पार्टी से किनारा कर रहे हैं।

इसको लेकर अरविंद केजरीवाल और विजय गोयल के बीच ट्विटर पर ही जंग छिड़ गई। केजरीवाल ने विजय गोयल पर तंज कसते हुए ट्वीट किया और पूछा कि विधायकों की खरीदने की बात कहाँ पर फँसी हुई है? वो विधायकों को कितना ऑफर कर रहे हैं और विधायक उनसे कितना डिमांड कर रहे हैं? केजरीवाल के इस ट्वीट का जवाब देते हुए विजय गोयल ने लिखा, “केजरीवाल जी लेने-देने की बात मत करो। एक बार फिर माफी माँगनी पड़ जाएगी। दिल्ली में विकास नहीं कर पाए, तो झूठे आरोप लगा रहे हो। अपने ही विधायकों को बिकाऊ बता रहे हो। उद्देश्य से भटकने और आपकी पार्टी में अपमानित होने के कारण ये विधायक हमसे संपर्क करते हैं।”

केजरीवाल का कहना है कि उनके विधायकों ने उन्हें बताया कि भाजपा ने उनसे संपर्क किया और उन्हें खरीदने के लिए ₹10 करोड़ का ऑफर दिया गया। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ये लोग हमारे विधायकों को तोड़ना चाहते हैं, और ये सब कुछ करना पीएम मोदी को बिल्कुल भी शोभा नहीं देता है।

विजय गोयल ने कहा कि भाजपा को AAP विधायकों को खरीदने की जरूरत नहीं है। साथ ही उन्होंने ये भी साफ कर दिया कि भाजपा पर AAP विधायकों को खरीदने का आरोप पूरी तरह से निराधार है और यदि AAP के पास इस बात का सबूत है तो, उसे सामने लाकर सार्वजनिक करना चाहिए और इस तरह के बेतुके आरोप लगाकर भागने की राजनीति से बचना चाहिए।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ट्विटर ने सस्पेंड किया ‘इस्कॉन बांग्लादेश’ और ‘हिन्दू यूनिटी काउंसिल’ का हैंडल: दुनिया के सामने ला रहे थे हिन्दुओं पर अत्याचार की खबरें, तस्वीरें

हिन्दुओं पर लगातार हो रहे हमलों के बीच अब ट्विटर ने 'इस्कॉन बांग्लादेश' और 'बांग्लादेश हिन्दू यूनिटी काउंसिल' के हैंडल्स को सस्पेंड कर दिया है।

नई पार्टी बनाएँगे पूर्व CM अमरिंदर सिंह, BJP के साथ हो सकता है गठबंधन, ‘किसान आंदोलन’ का समाधान भी जल्द: रिपोर्ट

कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने घोषणा की है कि वो एक नई पार्टी बनाएँगे। उनकी पार्टी भाजपा, अकालियों के एक गुट व अन्य छोटे दलों के साथ गठबंधन करेगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,026FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe