Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीति'लॉकडाउन में ईद पर छूट, अब शराब के ठेके खुल गए फिर भी छठ...

‘लॉकडाउन में ईद पर छूट, अब शराब के ठेके खुल गए फिर भी छठ पर प्रतिबंध: पूर्वांचल के लोगों को भगाना चाहते हैं केजरीवाल’

"यहाँ तक कि दिल्ली में शराब के ठेके तक खोल दिए गए हैं, लेकिन छठ माँ की पूजा जो नवंबर में है उसको रोकने का निर्णय 1.5 महीना पहले ही ले लिया गया, ये बेहद शर्मनाक है।"

सांसद मनोज तिवारी ने ऐलान किया है कि छठ पूजा प्रतिबंधित करने के केजरीवाल सरकार के ‘तुगलकी फरमान’ के खिलाफ भाजपा मंगलवार (12 अक्टूबर, 2021) को एक प्रचंड प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा “इस साल जब सब कुछ सामान्य गति से चल रहा है, यहाँ तक कि दिल्ली में शराब के ठेके तक खोल दिए गए हैं वो भी बिना किसी परहेज़ के, लेकिन छठ माँ की पूजा जो नवंबर में है उसको रोकने का निर्णय 1.5 महीना पहले ही ले लिया गया, ये बेहद शर्मनाक है।”

वहीं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में लाखों की संख्या में पूर्वांचल के लोग रहते हैं और छठ महापर्व मनाते हैं, ऐसे में केजरीवाल सरकार छठ मनाने की अनुमति दे। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पूर्वांचल के लोगों की आस्था को ठेस पहुँचाने का काम किया है। उन्होंने याद दिलाया कि सीएम केजरीवाल ने कहा था कि यूपी-बिहार के लोग 500 रुपए का टिकट लेकर आते हैं और यहाँ 5 लाख रुपए का इलाज मुफ्त में करा के चले जाते हैं।

आदेश गुप्ता ने इसे पूर्वांचल के लोगों का बहुत बड़ा अपमान करार दिया। उन्होंने कहा, “भाजपा एलान करती है कि हम छठ पूजा मनाएँगे और छठ पूजा के लिए जो भी निगम की ओर से व्यवस्थाएँ होंगी, वो भी हम पूर्ण करेंगे। भाजपा के कार्यकर्ता ये सुनिश्चित करेंगे कि छठ महापर्व कोरोना के नियमों का पालन करते हुए बड़ी धूमधाम से मनाया जाए। केजरीवाल सरकार छठ पूजा के महापर्व पर प्रतिबंध लगाकर दिल्ली में रहने वाले सभी पूर्वांचल वासियों की आस्था व विश्वास के साथ खिलवाड़ कर रही है।”

आदेश गुप्ता ने कहा कि बकौल असलियत यह है कि दिल्ली सरकार छठ की व्यवस्था नहीं कर सकती इसलिए उसपर प्रतिबंध लगा कर अपना निकम्मापन दिखा रही है। वहीं सांसद परवेश साहिब सिंह वर्मा ने कहा, “केजरीवाल ने पूरी दिल्ली खोल रखी है लेकिन छठ पूजा आ रही है तो अचानक से तालिबानी फरमान सुना दिया कि छठ पूजा पर पाबंदी रहेगी। यह केजरीवाल बकरीद, ईद पर लॉकडाउन में खुली छूट देता था। आखिर केजरीवाल जी इतनी नफरत क्यों?”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -