Thursday, May 30, 2024
Homeराजनीतिकेंद्रीय बलों की वर्दी में भेजे जा रहे BJP-RSS के कार्यकर्ता, पैसे बाँटने बंगाल...

केंद्रीय बलों की वर्दी में भेजे जा रहे BJP-RSS के कार्यकर्ता, पैसे बाँटने बंगाल आते हैं PM मोदी: ममता

"नरेंद्र मोदी बार-बार राज्य में क्यों आ रहे हैं? दरअसल वे लोगों को बाँटना चाहते हैं। वे यहाँ पैसे लेकर आते हैं ताकि लोगों को बाँटकर वोट हासिल किए जा सकें। पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को चुनाव हारने का डर है।"

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। ममता ने कहा कि सीआरपीएफ व अन्य केंद्रीय बलों की वर्दी में भाजपा व संघ के कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल में चुनाव को प्रभावित कर रहे हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने चुनाव आयोग से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चॉपर्स और गाड़ियों की जाँच करने की माँग करते हुए कहा कि भाजपा वोट ख़रीद रही है। उन्होंने कहा कि कई जेड सुरक्षा प्राप्त मंत्री अपनी गाड़ियों में पैसा लेकर चलते हैं। भाजपा नेताओं को बाहरी बताते हुए मतदाताओं को उनसे सचेत रहने को कहा।

भाजपा उम्मीदवार भारती घोष के साथ हुई बदतमीजी के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि उनके साथ उनके सुरक्षा में तैनात इंचार्ज की फायरिंग से एक टीएमसी कार्यकर्ता की मौत हुई है। बता दें कि भाजपा की प्रत्याशी भारती घोष के साथ मतदान केंद्र पर तृणमूल के गुंडों ने बदसलूकी की थी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के भी काफ़िले पर तृणमूल के गुंडों ने हमला किया। इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि राज्य में तृणमूल कार्यकर्ता और पुलिस साथ मिल कर काम कर रही है। उन्होंने ममता सरकार पर सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग का आरोप लगाया।

ममता बनर्जी ने फिर से केंद्रीय बलों पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे मतदाताओं को भाजपा के पक्ष में वोट डालने को कह रहे हैं। ममता ने पूछा कि केंद्रीय बलों के जवान ऐसा कैसे कर सकते हैं? उन्होंने कहा कि मोदी सरकार मतदान संपन्न कराने के लिए कुछ रिटायर्ड जवानों की मदद ले रही है, जो भाजपा के लिए कार्य कर रहे हैं। बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही ममता ने केंद्रीय बलों को धमकाते हुए कहा था कि आज भले ही वो मोदी के अंतर्गत कार्य कर रहे हैं लेकिन बाद में वो भी सत्ता में आएँगी और जवानों को याद रखना चाहिए कि उन्हें विपक्षी पार्टियों के सत्ता में आने के बाद उनके अंतर्गत भी कार्य करना पड़ेगा।

भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ममता बनर्जी राज्य में लोकतंत्र की हत्या कर राजतंत्र को गुंडातंत्र में तब्दील कर दिया है। 23 मई के बाद जनता ममता बनर्जी को अच्छे से जवाब देगी। ममता बनर्जी ने केंद्रीय बलों के जवानों का अपमान करते हुए आगे कहा:

राज्य में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए संघ और भाजपा के लोग केंद्रीय बलों की वर्दी पहनकर आ रहे हैं। मैं केंद्रीय बलों का निरादर नहीं करती हूँ। लेकिन, उन्हें निर्देश दिए जा रहे हैं। मुझे शक है कि भाजपा-संघ के कुछ कार्यकर्ताओं को केंद्रीय बलों की वर्दी पहनाकर बंगाल भेजा जा रहा है। नरेंद्र मोदी बार-बार राज्य में क्यों आ रहे हैं? दरअसल वे लोगों को बाँटना चाहते हैं। वे यहाँ पैसे लेकर आते हैं ताकि लोगों को बाँटकर वोट हासिल किए जा सकें। पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को चुनाव हारने का डर है। मैंने कभी ऐसा प्रधानमंत्री नहीं देखा जो इतने निम्न स्तर पर आकर बयानबाजी करता हो।

पश्चिम बंगाल में लगातार भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं। राज्य में क़ानून व्यवस्था की कलई खुल गई है और पत्रकारों तक को भी नहीं बख्शा जा रहा है। बंगाल में सुरक्षा की दृष्टि से चुनाव आयोग ने सभी सात चरणों में चुनाव संपन्न कराने का लक्ष्य रखा, लेकिन फिर भी हिंसक वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -