Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिराहुल की रैली में चली कुर्सियाँ; अध्यक्ष जी ने कहा, हमारी सरकार आने दो...

राहुल की रैली में चली कुर्सियाँ; अध्यक्ष जी ने कहा, हमारी सरकार आने दो तब चलेगा पता

राहुल गाँधी ने अपनी रैली में कहा, “यहाँ (पश्चिम बंगाल) कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं को मारा-पीटा गया। हमारी सरकार को दिल्ली में आने दो, तब आप देखेंगे कि आगे क्या होगा। ममता बनर्जी ने सिर्फ लंबे भाषण दिए हैं।”

पश्चिम बंगाल के मालदा में कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने शनिवार (मार्च 23, 2019) को एक रैली को संबोधित किया। लेकिन यह रैली 2 बातों के लिए विशेष तौर पर अहम रही। पहली यह कि रैली में अध्यक्ष राहुल गाँधी के समर्थकों ने जमकर कुर्सियाँ फेंकी और VIP के लिए लगी बैरिकेडिंग तोड़ डाली और राज्य इकाई के कॉन्ग्रेस नेताओं के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। दूसरी यह कि कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने ममता बनर्जी के लिए कहा कि वह भाषण देने के अलावा कुछ नहीं करतीं।

पहले घटनाक्रम में, जब राहुल गाँधी रैली स्थल पर मौजूद नहीं थे, तब कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर बवाल काटा और भारी उत्पात मचाया। इस बवाल के दौरान रैली स्थल पर जमकर कुर्सियां फेंकी गईं और नेताओं के लिए लगी VIP बैरिकेडिंग भी तोड़ दी गई। मालदा की रैली में जब यह बवाल चल रहा था, तब राहुल बिहार के पूर्णिया में दूसरी रैली को संबोधित कर रहे थे।

दरअसल, पड़ोसी जिलों से कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं का एक हुजूम रैली स्थल पर पहुँचा और मैदान के भीतर प्रवेश करने की कोशिश की। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जाहिर करते हुए कॉन्ग्रेस की राज्य इकाई के नेतृत्व के खिलाफ नारेबाजी भी की।

मालदा पहुँचने के बाद रैली स्थल पर राहुल गाँधी ने कहा कि ममता बनर्जी ने पिछले कई सालों में सिर्फ लंबे-लंबे भाषण दिए हैं। उन्होंने प्रदेश के लिए कुछ नहीं किया है। राहुल गाँधी ने अपनी रैली में कहा, “यहाँ (पश्चिम बंगाल) कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं को मारा-पीटा गया। वे पार्टी के लिए दिन-रात संघर्ष कर रहे हैं। हमारी सरकार को दिल्ली में आने दो, तब आप देखेंगे कि आगे क्या होगा। ममता बनर्जी ने राज्य के लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने सिर्फ लंबे भाषण दिए हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

जगन्नाथ मंदिर के खुले चारों द्वार… ओडिशा में सरकार बनने के पहले दिन BJP ने पूरा किया 1 वादा: CM माझी बोले- विकास के...

जगन्नाथ मंदिर के चारों द्वारा खोले जाने पर फैसला भाजपा सरकार ने पहली कैबिनेट मीटिंग के बाद ले लिया था। ये बैठक मोहन माझी के सीएम बनने के तुरंत बाद हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -