Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो उसके अंदर बैठा जाना-पहचाना गुंडा': सीएम योगी...

‘जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो उसके अंदर बैठा जाना-पहचाना गुंडा’: सीएम योगी ने सपा पर साधा निशाना

''सपा सरकार में, रामपुर में दलितों को प्रताड़ित किया जा रहा था और उन्हें उजाड़ा जा रहा था, तब कॉन्ग्रेस मौन थी। बसपा भी मौन थी। उन दलितों के लिए केवल भारतीय जनता पार्टी आंदोलन कर रही थी। हमें अत्याचार स्वीकार्य नहीं है।''

उत्तर प्रदेश के सगड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाबा साहेब आंबेडकर को उनके 64वें परिनिर्वाण दिवस पर याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने सगड़ी, आजमगढ़ में 76.14 करोड़ रुपए लागत की 32 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण कर लाभार्थियों को योजनाओं के प्रमाण-पत्र बाँटे। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहेब ने संविधान में जो व्यवस्था दी, उससे देश उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक एकता के सूत्र में बंधा हुआ है।

सीएम योगी ने इस मौके पर समाजवादी पार्टी, कॉन्ग्रेस और बसपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने सपा सरकार में रामपुर में गरीबों पर हुए अत्याचार को याद दिलाते हुए कॉन्ग्रेस व बसपा पर चुप्पी साधे रहने का आरोप लगाया। मुख्यमंत्री ने कहा, ”सपा सरकार में, रामपुर में दलितों को प्रताड़ित किया जा रहा था और उन्हें उजाड़ा जा रहा था, तब कॉन्ग्रेस मौन थी। बसपा भी मौन थी। उन दलितों के लिए केवल भारतीय जनता पार्टी आंदोलन कर रही थी। हमें अत्याचार स्वीकार्य नहीं है।” सपा पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा, “जिस गाड़ी में सपा का झंडा उसमें होगा जाना-पहचाना गुंडा।”

पिछली सरकारों ने गरीबों व दलितों की जमीनों एवं व्यापारियों के प्रतिष्ठानों पर कब्जा करके जिस प्रकार की अराजकता पैदा की थी, वह किसी से छुपी नहीं है। वर्ष 2017 के बाद हमारी सरकार ने गुंडागर्दी की कमर तोड़ने का कार्य किया है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना काल में जब भाजपा के सांसद व विधायक जनसेवा कर रहे थे, तब आजमगढ़ के सांसद नदारद थे। पता किया तो पता चला कि इंग्लैंड गए हैं। दूसरी बार पता किया तो मालूम हुआ कि ऑस्ट्रेलिया गए हैं। जनता ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जाने के लिए तो उन्हें नहीं चुना था।

बता दें कि देश व प्रदेश की एकता अखंडता सीएम के संबोधन का हिस्सा रहा। उन्होंने जय श्रीराम के नारे के साथ अपना संबोधन समाप्त किया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -