कॉन्ग्रेस नेता सिद्धारमैया आपे से बाहर, अपने सहयोगी को सरेआम जड़ दिया जोरदार थप्पड़, देखें VIDEO

इस वीडियो के सामने आने के बाद सिद्धारमैया के रवैए की हर तरफ आलोचना हो रही है। ऐसा माना जा रहा है कि कर्नाटक में हाल के सियासी घटनाक्रमों से सिद्धारमैया खुश नहीं हैं और इसी वजह से वह आपा खो बैठे।

कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने अपने ही सहयोगी को सरेआम थप्पड़ जड़ दिया है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, जिसमें देखा जा सकता है कि सिद्धारमैया मैसूर एयरपोर्ट के बाहर अपने सहयोगी को सबके सामने थप्पड़ मार रहे हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा जारी किए गए इस वीडियो में ये तो खुलासा नहीं हो पाया कि सिद्धारमैया ने अपने सहयोगी को थप्पड़ क्यों मारा? मगर इसे देखकर लगता है कि शायद दोनों किसी मुद्दे पर बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान सिद्धारमैया पीछे मुड़ते हैं और तड़ाक से सहयोगी के गाल पर चाँटा मार देते हैं। इससे पहले की वह कुछ समझ पाता उन्होंने उसे कंधे पर धक्का देकर आगे बढ़ा दिया।

इस वीडियो के सामने आने के बाद सिद्धारमैया के रवैए की हर तरफ आलोचना हो रही है। ऐसा माना जा रहा है कि कर्नाटक में हाल के सियासी घटनाक्रमों से सिद्धारमैया खुश नहीं हैं और इसी वजह से वह आपा खो बैठे। पहले कर्नाटक में जेडीएस-कॉन्ग्रेस की गठबंधन सरकार गिरी और फिर बीएस येदियुरप्पा की अगुआई में बीजेपी ने सरकार बना ली। इसके साथ ही कर्नाटक के कद्दावर कॉन्ग्रेसी नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के बाद से भी कॉन्ग्रेस बौखलाई हुई है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गौरतलब है कि, कुछ दिनों पहले सिद्धारमैया ने भाजपा के लिए वेश्या शब्द का इस्तेमाल किया था। इससे पहले इस साल जनवरी में भी सिद्धारमैया पर एक महिला से बदसलूकी करने का आरोप लगा था। सिद्धारमैया के पास एक महिला कुछ शिकायत लेकर पहुँची थी। जैसे ही उस महिला ने बात शुरू की, सिद्धारमैया भड़क गए और महिला के हाथ से माइक छीन लिया। इसी दौरान सिद्धारमैया का हाथ महिला के दुपट्टे पर चला गया और उन्‍होंने उसे नीचे की ओर झटक दिया था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

इमरान ख़ान, रवीश कुमार
रवीश ने कही, इमरान ने सुनी। रवीश की सलाह इमरान ने मानी। अब इमरान ख़ान न अख़बार पढ़ेंगे और न ही टीवी देखेंगे। उन्होंने न्यूज़ शो देखना बंद कर दिया है। रवीश लगातार अपने 'प्राइम टाइम' में कहते हैं कि टीवी न देखें और अख़बार न पढ़ें। उन्हीं अख़बारों की ख़बर वो शेयर भी करते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,993फैंसलाइक करें
36,108फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: