Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति18 महीने में 8 करोड़ रुपए कैसे कमाएँ... कॉन्ग्रेस MLA और उनकी पत्नी ने...

18 महीने में 8 करोड़ रुपए कैसे कमाएँ… कॉन्ग्रेस MLA और उनकी पत्नी ने यह कर दिखाया

सुरेश का नाम तब सुर्ख़ियों में आया था, जब जनवरी में उन्होने कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धरमैय्या को अपनी मर्सिडीज़ दे दी थी। बाद में इस पर सफाई देते हुए सुरेश ने...

कर्नाटक के हेब्बल से कॉन्ग्रेस पार्टी के विधायक बी सुरेश की पत्नी पद्मावती ने इस बार होस्कोटे से उपचुनाव में पर्चा दाखिल किया। नियमों के अनुसार चुनाव लड़ने के लिए अपनी संपत्ति और आय को लेकर सारा ब्यौरा देना ज़रूरी है। यही वजह है कि 2018 में कर्नाटक विधानसभा चुनाव लड़ते वक़्त जहाँ एक ओर सुरेश ने अपनी संपत्ति का हलफनामा दिया तो वहीं दूसरी ओर 18 महीने बाद उप-चुनाव के लिए मैदान में उतरी उनकी पत्नी पद्मावती ने भी अपनी संपत्ति की पूरी जानकारी देते हुए सारे डाक्यूमेंट्स जमा किए।

पति और पत्नी दोनों के दिए संपत्ति ब्यौरे में एक हैरान कर देने वाली बात सामने आई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बी सुरेश और उनकी पत्नी के हलफनामे में दर्ज संपत्ति में करीब 8 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी देखी गई। यानी 18 महीने में इस दंपत्ति की संपत्ति में 8 करोड़ रुपए का इजाफा हो गया। चुनाव आयोग के नियमानुसार चुनाव लड़ने वाले को अपना ही नहीं बल्कि अपने जीवनसाथी (पति/पत्नी) की चल-अचल संपत्ति का भी ब्यौरा देना होता है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सुरेश और उनकी पत्नी की कुल संपत्ति तकरीबन 425.5 करोड़ रुपए है।

गौरतलब है कि 2018 में कर्नाटक के हेब्बल से विधायक का चुनाव लड़ते वक़्त उनकी संपत्ति 416.7 करोड़ रुपए थी। वहीं 2019 में इन्होंने दो लक्ज़री गाड़ियाँ भी खरीदी थीं जिनकी कीमत करीब 1.2 करोड़ थीं। इनमें महिंद्रा एसयूवी और मर्सिडीज़ बेंज शामिल हैं। कॉन्ग्रेस नेता बी. सुरेश के साम्राज्य में करोड़ों की कमर्शियल और रेजिडेंशियल इमारत से लेकर महँगे आभूषण आदि शामिल हैं।

बी सुरेश का नाम तब सुर्ख़ियों में आया था, जब जनवरी में उन्होने कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धरमैय्या को अपनी मर्सिडीज़ दे दी थी। बाद में इस पर सफाई देते हुए बी सुरेश ने मीडिया से बातचीत में कहा था, “यह मेरी गाड़ी है जिससे मैं अक्सर ट्रेवल किया करता था, यह गाड़ी मेरी पत्नी के नाम पर है। मैंने इसे सीएम को गिफ्ट नहीं किया। आप समझने की कोशिश कीजिए। क्या ज़रूरत के समय आप अपने दोस्त को अपनी गाड़ी नहीं देंगे?”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुख्तार अंसारी की बीवी और उसके सालों की ₹2 करोड़ 18 लाख की संपत्ति जब्त: योगी सरकार ने गैंगस्टर एक्ट के तहत की कार्रवाई

योगी सरकार द्वारा कुख्यात माफिया और अपराधी मुख्तार अंसारी की लगभग 2 करोड़ 18 लाख रुपए मूल्य की संपत्ति की कुर्की की गई। यह संपत्ति अंसारी की बीवी और उसके सालों के नाम पर थी।

अमित शाह ने बना दी असम-मिजोरम के बीच की बिगड़ी बात, अब विवाद के स्थायी समाधान की दरकार

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के प्रयासों के पश्चात दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने जिस तरह की सतर्कता और संयम दिखाया है उसका स्वागत होना चाहिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,804FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe