Thursday, August 5, 2021
Homeबड़ी ख़बरकॉन्ग्रेस की मीटिंग में 'खाली कुर्सियों' की फोटो लेना मना है, पीट दिए जाओगे!

कॉन्ग्रेस की मीटिंग में ‘खाली कुर्सियों’ की फोटो लेना मना है, पीट दिए जाओगे!

एक फोटो जर्नलिस्ट को कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने इस कदर पीट दिया कि उसे अस्पताल पहुँचाने की नौबत आ गई।

तमिलनाडु में कॉन्ग्रेस की चुनावी बैठक में खाली कुर्सियों की फोटो क्लिक करना एक फोटो जर्नलिस्ट को काफ़ी महँगा पड़ गया। इंडिया टुडे की ख़बर के अनुसार, एक तमिल साप्ताहिक पत्रिका के पत्रकार पर कॉन्ग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं का गुस्सा इस क़दर भड़का कि उसकी जमकर धुनाई ही कर डाली। नौबत तो यहाँ तक आन पड़ी कि बुरी तरह से घायल हुए पत्रकार को स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

दरअसल, यह घटना शनिवार (6 अप्रैल) की है जहाँ पत्रकार की पिटाई इसलिए हो गई क्योंकि वो तमिलनाडु के विरुधुनगर ज़िले में कॉन्ग्रेस पार्टी की चुनावी बैठक में खाली कुर्सियों की तस्वीरें ले रहे थे।

पत्रकार का नाम आरएम मुथुराज है जोकि तमिल की एक साप्ताहिक पत्रिका में बतौर फोटो जर्नलिस्ट हैं। पिटाई के दौरान घटनास्थल पर मौजूद अन्य पत्रकारों ने हस्तक्षेप किया जिसके बाद दोनों समूहों के बीच जमकर हंगामा हुआ।

इस बीच, भारतीय जनता पार्टी के नेता एसजी सूर्या ने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं के इस अभद्र कृत्य के लिए कॉन्ग्रेस पार्टी का मज़ाक उड़ाया। फ़िलहाल फोटो जर्नलिस्ट आरएम मुथुराज ने पुलिस में शिक़ायत कर मामला दर्ज करा दिया है। उधर, पुलिस ने मामले का संज्ञान में लिया और विरुधुनगर के सरकारी अस्पताल में दौरा भी किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,995FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe