Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतियही हाल रहा तो देने पड़ेंगे देखते ही गोली मारने के आदेश: लॉकडाउन उल्लंघन...

यही हाल रहा तो देने पड़ेंगे देखते ही गोली मारने के आदेश: लॉकडाउन उल्लंघन पर तेलंगाना के CM

तेलंगाना में अब तक कोरोना के कुल 35 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 10 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। राज्य सरकार लॉकडाउन का पालन कराने के लिए सेना की मदद लेने पर भी विचार कर रही है।

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण आज पूरी दुनिया को रुला रहा है। इसका प्रसार रोकने के लिए सरकारों को एक के बाद एक सख्त कदम उठाने पड़ रहे हैं। PM मोदी ने कल पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोसना की थी। इसके बाद बाजारों में राशन और अन्य सामान लेने वालों की उमड़ पड़ी। सरकार की अपील के बाद भी लोग अपने घरों से निकलने से बाज नहीं आ रहे हैं। इससे नाराज तेलंगाना के सीएम के चन्द्रशेखर राव ने लोगों को चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने लॉकडाउन का पालन नहीं किया गया तो उनके पास सेना बुलाने और देखते ही गोली मारने का आदेश पुलिस को देने के अलावा और कोई विकल्प नहीं होगा।

मीडिया से बात करते हुए राव ने कहा कि अगर इसी तरह से लॉकडाउन के आदेश का उल्लंघन होता रहा तो उन्हें 24 घंटे के कर्फ्यू का आदेश देना पड़ेगा। इसलिए ऐसे हालात मत पैदा कीजिए, जिससे सरकार को पुलिस को देखते ही गोली मारने का आदेश देना पड़े। साथ ही राव ने कहा कि कर्फ्यू शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक लगाया जाएगा और शाम 6 बजे दुकाने बंद कर दी जाएँगी। लोगों को सड़कों से दूर रखने के लिए पेट्रोल पंप भी बंद रहेंगे। वहीं सरकार लॉकडाउन का पालन कराने के लिए प्रदेश में सेना की मदद लेने पर भी विचार कर रही है। दरअसल, तेलंगाना में अब तक कोरोना के कुल 35 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 10 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक सरकार ग्रोफर और बिग बास्केट जैसी कुछ खाद्य वितरण कंपनियों से बातचीत कर रही है ताकि वे अपनी डिलीवरी सर्विस को फिर से शुरू कर सकें। सरकार ऐसे 19000 लोगों पर निगरानी रखे हुए है, जो विदेश से आए हैं साथ ही उनके संपर्क में आने वाले लोगों पर भी निगरानी रखी जा रही है। साथ ही सरकार ने चेतावानी देते हुए कहा है कि दूसरे देशों से आए जो लोग क्वारेंटाइन के निर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। लॉकडाउन और क्वारेंटाइन के आदेशों का उल्लंघन करने वालों के पासपोर्ट भी रद्द किए जा सकते हैं।

आपको बता दें कि कोरोना महामारी की चपेट में अब तक विश्व के 186 से अधिक देश आ चुके हैं। वहीं विश्व में मरने वालों की संख्या बढ़कर 16961, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 3,86,300 से अधिक हो गई है।भारत में मरने वालों की संख्या 11, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 562 से अधिक हो गई है। इनमें से 41 मरीज ठीक हो चुके हैं। इन्ही आँकड़ों को देखते हुए भारत सरकार ने पूरे देश में 21 दिन यानी कि 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘335 मंदिरों पर हमले, मुस्लिम भीड़ ने 1800 हिन्दुओं का जला दिया घर’: बांग्लादेश के हिन्दुओं की ऐसे मदद कर सकते हैं आप

पूरे बांग्लादेश के अलग-अलग इलाकों में हिन्दू हमले का शिकार हो रहे हैं। उन्हें घर, भोजन और सुरक्षा चाहिए। अगर आप उनकी मदद करना चाहते हैं तो ऐसे करें।

क्रिएटिविटी के नाम पर हिन्दुओं की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ कब तक, ऐसे उत्पादों या कंपनियों का आर्थिक बहिष्कार जरूरी

अपने विरुद्ध किए जाने वाले प्रोपेगंडा और चलाए जाने वाले एजेंडा के विरुद्ध आज भी हिंदुओं का सबसे बड़ा हथियार आर्थिक विरोध है और इसके लिए उनका आभार प्रकट किया जाना चाहिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe