Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीति'सिर्फ चुनाव के समय हिन्दू बनता है गाँधी परिवार, राहुल गाँधी मिलने का समय...

‘सिर्फ चुनाव के समय हिन्दू बनता है गाँधी परिवार, राहुल गाँधी मिलने का समय तक नहीं देते’: दिग्विजय सिंह के भाई का अपनी ही पार्टी पर निशाना

लक्ष्मण सिंह ने भाजपा की तारीफ़ करते हुए कहा कि ये पार्टी सेवा से सरोकार रखती है, वोटों की राजनीति नहीं करती। जबकि कॉन्ग्रेस के बारे में उन्होंने कहा कि वो हिन्दुओं की भावनाओं का ख्याल नहीं रखती।

कॉन्ग्रेस पार्टी में अंदरूनी कलह अब राष्ट्रीय स्तर पर भी सामने आ रही है। अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने अपनी ही पार्टी और प्रियंका गाँधी और राहुल गाँधी को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी मिलने के लिए समय तक नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि पता नहीं कैसी-कैसी निशानेबाजी कर के राहुल गाँधी कॉन्ग्रेस के एक-एक नेता को धराशायी कर रहे हैं। बता दें कि भाईदूज के दिन प्रियंका गाँधी ने राहुल गाँधी की एक पुरानी तस्वीर शेयर कर दावा किया था कि उन्हें निशानेबाजी में कई मेडल मिले थे।

लक्ष्मण सिंह ने कहा कि अच्छा ये होता कि प्रियंका गाँधी अपने भाई राहुल गाँधी को भाईदूज के दिन टीका लगाते हुए तस्वीर जारी करतीं। उन्होंने कहा कि गाँधी परिवार की कभी लक्ष्मी पूजा का टीका करते तस्वीर नहीं जारी की। लक्ष्मण सिंह ने सीधे गाँधी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि वो लोग केवल चुनाव के समय ही हिन्दू बनते हैं। उन्होंने भाजपा की तारीफ़ करते हुए कहा कि ये पार्टी सेवा से सरोकार रखती है, वोटों की राजनीति नहीं करती। जबकि कॉन्ग्रेस के बारे में उन्होंने कहा कि वो हिन्दुओं की भावनाओं का ख्याल नहीं रखती

राजगढ़ से 5 बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके लक्ष्मण सिंह ने कहा, “कॉन्ग्रेस वोटों की राजनीति करती है। भाजपा चाहती तो उपचुनाव से पहले तेल के दाम कम कर सकती थी। इसके बावजूद अभी भी कॉन्ग्रेस और अन्य दलों की राज्य सरकारों ने तेल के दाम कम नहीं किए।” इससे पहले उन्होंने प्रियंका गाँधी की तस्वीर पर रिप्लाई करते हुए लिखा था, “बहुत खूब! हम भी निशानेबाज रहे हैं। स्कूल में मेडल जीता था। भेंट का समय दीजिए। मिलता ही नहीं है!”

वहीं पिछले महीने अक्टूबर में लक्ष्मण सिंह ने कहा था कि कॉन्ग्रेस पार्टी का अध्यक्ष कोई भी बने, जब तक बूथ कार्यकर्ता को मजबूत नहीं करेंगे, नतीजे ‘ज्यों के त्यों’ ही रहेंगे। उन्होंने पूछा कि मंडलम-सेक्टर इत्यादि बन गए हैं, फिर भी निर्णय ऊपर से ही क्यों होते हैं? बता दें कि मध्य प्रदेश में हुए उपचुनाव में कॉन्ग्रेस की बुरी हार हुई है और उसने खंडवा सीट भी गँवा दी है। मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने 9 नवंबर को PCC में उपचुनाव के सभी प्रभारियों को भोपाल बुलाया है।

कमलनाथ हर एक प्रभारी से उपचुनाव वाली सीटों के बारे में फीडबैक लेंगे। पीसीसी ने सभी प्रभारियों को 9 नवंबर को होने वाली बैठक में अनिवार्य रूप से शामिल होने के लिए निर्देशित किया है।साथ ही प्रभार वाले जिलों की रिपोर्ट भी साथ लाने का निर्देश दिया गया है। कॉन्ग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने बताया कि 9 नवंबर को प्रदेश भर के जिला प्रभारियों की बैठक बुलाई गई है। उसमें कॉन्ग्रेस के सदस्यता अभियान, मंडलम सेक्टर स्तर पर पार्टी को मजबूत बनाने पर चर्चा होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जगन्नाथ मंदिर में फेंका गया था गाय का सिर, वहाँ हजारों की भीड़ ने जुट कर की महा-आरती: पूछा – खुलेआम कैसे घूम...

रतलाम के जिस मंदिर में 4 मुस्लिमों ने गाय का सिर काट कर फेंका था वहाँ हजारों हिन्दुओं ने महाआरती कर के असल साजिशकर्ता को पकड़ने की माँग उठाई।

केरल की वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी, पहली बार लोकसभा लड़ेंगी प्रियंका: रायबरेली रख कर यूपी की राजनीति पर कॉन्ग्रेस का सारा जोर

राहुल गाँधी ने फैसला लिया है कि वो वायनाड सीट छोड़ देंगे और रायबरेली अपने पास रखेंगे। वहीं वायनाड की रिक्त सीट पर प्रियंका गाँधी लड़ेंगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -