Tuesday, August 9, 2022
Homeराजनीतिपार्था चटर्जी की करीबी अर्पिता के घर से ED को मिले 2 सेक्स टॉय,...

पार्था चटर्जी की करीबी अर्पिता के घर से ED को मिले 2 सेक्स टॉय, किसका है, किसने खरीदा और कौन कर रहा था इस्तेमाल: जाँच में जुटी एजेंसी

सेक्स टॉयज के साथ ही एक सोना और एक हीरे की अंगूठी भी मिली है जिस पर अंग्रेजी अक्षर 'P' लिखा हुआ था। ईडी ने कहा है कि फिलहाल इन सभी चीजों की जाँच की जा रही है।

पश्चिम बंगाल शिक्षा घोटाले (WBSSC) के मामले में प्रवर्तन निदेशालय लगातार कार्रवाई कर रहा है। इसी क्रम में प्रवर्तन निदेशालय ने एक बार फिर से ममता बनर्जी की पार्टी के नेता पार्था चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के ठिकानों पर छापेमारी की। इस दौरान कैश और गहनों के साथ ही ईडी को अर्पिता के फ्लैट से दो सेक्स टॉय भी मिले।

रिपोर्ट के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय ने कहा है कि बुधवार को अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया फ्लैट की तलाशी के दौरान अधिकारियों को दो सेक्स टॉय मिले। वह फ्लैट अर्पिता का था तो क्या वह उन सेक्स टॉयज का इस्तेमाल कर रही थीं? या कोई और उस फ्लैट यूज़ कर रहा था? यह अभी स्पष्ट नहीं है। ये अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि इन्हें कहाँ से लाया गया, किसने खरीदा, कीमत कितनी है ये भी अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। लेकिन केवल सेक्स टॉयज ही नहीं एक सोना और एक हीरे की अंगूठी भी मिली है जिस पर अंग्रेजी अक्षर ‘P’ लिखा हुआ था। ईडी ने कहा है कि फिलहाल इन सभी चीजों की जाँच की जा रही है।

गौरतलब है कि बुधवार (27 जुलाई 2022) को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अर्पिता मुखर्जी के दूसरे फ्लैट पर छापा मारा। यहाँ से ईडी को करीब 28.90 करोड़ रुपए कैश और 5 किलो सोना मिला। यह छापेमारी गुरुवार (28 जुलाई 2022) सुबह 4 बजे तक चली थी। अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट में यह रकम टॉयलेट में छुपाकर रखी गई थी। इस रकम को गिनने के लिए ईडी के अधिकारियों को नोट गिनने की 3 मशीनें मँगवानी पड़ी। समाचार एजेंसी ANI ने बताया था कि अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया स्थित आवास से लगभग 29 करोड़ रुपए की नकदी मिली थी। इसे 10 ट्रक में भरकर एजेंसी साथ ले गई।

अर्पिता मुखर्जी के आवास से अब तक कुल करीब 50 करोड़ रुपए नकद बरामद हो चुके हैं। इससे पहले 23 जुलाई को अर्पिता के एक अन्य घर से ED ने 21 करोड़ रुपए कैश बरामद किए थे। अर्पिता मुखर्जी का कहना है कि पार्था चटर्जी उनके घर को ‘मिनी बैंक’ की तरह इस्तेमाल करते थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डोनाल्ड ट्रंप के ‘खूबसूरत घर’ पर FBI की रेड: पूर्व राष्ट्रपति बोले- मेरी तिजोरी में भी सेंध मारी, दावा- व्हाइट हाउस से लेकर चले...

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप को लेकर कहा जा रहा है कि उन्होंने राष्ट्रपति भवन छोड़ते समय कुछ दस्तावेज अपने पास रख लिए थे। एफबीआई रेड में उन्हें ही ढूँढ रही थी।

मंदिर से लौट रहे हिन्दू परिवार पर हमला, महिलाओं से छेड़छाड़: Pak में जहाँ हुई थी हिन्दू कारोबारी की हत्या, वहाँ अब भी नहीं...

पाकिस्तान के सिंध के संघर में एक हिंदू परिवार पर रविवार शाम को मीरपुर मथेलो पुलिस थाने के भीतर लगभग एक दर्जन लोगों ने हमला बोल दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
212,463FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe