Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिबाढ़ से बिफरे: अपनी ही सरकार पर बरसे MLA बोगो बाबू, गिरिराज भी बोले-...

बाढ़ से बिफरे: अपनी ही सरकार पर बरसे MLA बोगो बाबू, गिरिराज भी बोले- हाँ, मैं बागी हूँ

"AC में बैठना, चार-चक्का AC गाड़ी में बैठ कर बाँध पर घूमते हुए बाढ़ का हालचाल लेना, एनडीआरएफ की नावों से घूम कर जल-विहार करना, ऐसे कृत्यों को मैं मानवीय संवेदना नहीं मानता हूँ। ये लोग बैठ कर घोटाले पर घोटाले कर रहे हैं, लूट मचाए हुए हैं।"

बिहार बाढ़ की त्रासदी झेल रहा है और पटना की हालत तो यह है कि उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को भी एसडीआरएफ की टीम को रेस्क्यू करना पड़ा। वह परिवार सहित अपने घर में ही फँसे हुए थे। बाढ़ से निपटने को लेकर समुचित तैयारी नहीं करने और लचर राहत अभियान के लिए नीतीश सरकार की किरकिरी हो रही है। केवल विपक्ष और सहयोगी दल ही नहीं, बल्कि जदयू के नेताओं के निशाने पर भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं।

बेगूसराय के मटिहानी से विधायक नरेंद्र सिंह उर्फ़ बोगो बाबू ने अपनी ही सरकार को लपेटे में लिया है। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में जदयू-भाजपा गठबंधन की सरकार चल रही है। विधायक बोगो बाबू ने जिला प्रशासन और राज्य सरकार को पूर्णतया उदासीन करार दिया। उन्होंने कहा कि इन लोगों (बिहार सरकार व प्रशासन) की मानवीय संवेदना जीरो पर आउट हो गई है (शून्य हो गई है) और उन्हें मानवता से कोई मतलब नहीं है। बोगो बाबू ने आगे कहा;

“AC में बैठना, चार-चक्का AC गाड़ी में बैठ कर बाँध पर घूमते हुए बाढ़ का हालचाल लेना, एनडीआरएफ की नावों से घूम कर जल-विहार करना, ऐसे कृत्यों को मैं मानवीय संवेदना नहीं मानता हूँ। ये लोग बैठ कर घोटाले पर घोटाले कर रहे हैं, लूट मचाए हुए हैं। पन्नी (पॉलोथिन) बाँटे जा रहे हैं। उनका आकार देख कर लगता है कि पता नहीं कौन सी तीन नंबर की (घटिया क्वालिटी की) पन्नी ख़रीद कर लाई गई है। हमारे मवेशी मर रहे हैं। पिछले वर्ष प्रति मवेशी 20 किलो भूँसा वितरण हुआ था जबकि इस वर्ष आधा किलो, एक किलो दिया जा रहा है, जैसे कि भीख दी जा रही हो।”

राज्य सरकार और जिला प्रशासन से परेशान नज़र आ रहे विधायक बोगो बाबू ने कहा कि अब कोई उपाय नहीं बचा है, सिर्फ़ भगवान ही कुछ कर सकते हैं और लोग अब भगवान भरोसे ही रहेंगे। उन्होंने राज्य सरकार के नेताओं व अधिकारियों पर तंज कसते हुए कहा कि वे लोग AC गाड़ियों में घूम-घूम कर समीक्षा करते रहें। विधायक बोगो बाबू का यह बयान काफ़ी वायरल हो रहा है। यहाँ तक कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी उनके बयान का समर्थन किया।

गिरिराज ने कहा कि सच कहना अगर बगावत है तो वह बागी हैं। गिरिराज ने इससे पहले भी नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर निशाना साधा था, जब एक इफ्तार पार्टी के दौरान दोनों इस्लामिक टोपी पहने हुए नज़र आए थे। गिरिराज ने बाढ़ को लेकर बोगो बाबू का बयान ट्वीट करते हुए लिखा कि अधिकारियों का राजनीतिकरण कर दिया गया है। उन्होंने विधायक को अपनी पीड़ा व्यक्त करने के लिए धन्यवाद दिया। केंद्रीय मंत्री और बेगूसराय से सांसद गिरिराज सिंह ने पिछले दिनों बाढ़ को लेकर शिकायत मिलने पर कुछ प्रशासनिक अधिकारियों को फटकार भी लगाई थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe