Thursday, May 23, 2024
Homeराजनीतिट्रेन के किरायों में 25% तक की कटौती, 'वन्दे भारत' में भी सफर हुआ...

ट्रेन के किरायों में 25% तक की कटौती, ‘वन्दे भारत’ में भी सफर हुआ सस्ता: यात्रियों को मोदी सरकार का तोहफा, AC वाले टिकट पर ख़ास राहत

रेलवे बोर्ड ने विभिन्न जोनों को आदेश दिया है कि वो उन ट्रेनों में किराए को घटाए जिनमें पिछले 30 दिनों से 50% से कम यात्रियों ने सफर किया हो।

भारतीय रेलवे ने अपने AC चेयर कार, अनुभूति, विस्टाडोम और एक्जीक्यूटिव क्लास के किराए में कमी करने का फैसला किया है। भाड़े में यह कमी तमाम अन्य ट्रेनों के साथ वंदे भारत एक्सप्रेस पर भी लागू होगी। किराए में लागू की जा रही नई दरें वर्तमान से 25% तक कम होंगी। यह घोषणा शनिवार (8 जुलाई, 2023) को की गई है। ट्रेनों में खाली सीटों और अन्य परिवहन संसाधनों से किराए में मिल रहे कम्पटीशन के चलते रेलवे द्वारा यह कदम उठाया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेलवे बोर्ड ने विभिन्न जोनों को आदेश दिया है कि वो उन ट्रेनों में किराए को घटाए जिनमें पिछले 30 दिनों से 50% से कम यात्रियों ने सफर किया हो। पिछले कुछ समय से यह उम्मीद जताई भी जा रही थी कि रेलवे वंदे भारत जैसी कुछ अन्य ट्रेनों के किराए की समीक्षा कर रहा है। किराए में रियायत की शुरुआत विशेष रूप से उन ट्रेनों में शुरू की जाएगी जो कम दूरी की हैं। यह स्कीम छुट्टी स्पेशल ट्रेनों के लिए लागू नहीं होगी। छूट के आदेश का पालन तुरंत करने के लिए कहा गया है। हालाँकि, पहले से बुक हो चुके टिकटों पर कोई रिफंड नहीं मिलेगा।

तय हो रहे नए किरायों को अन्य ट्रांसपोर्ट साधनों के भाड़े के आस-पास रखा जाएगा। इस छूट की अधिकतम सीमा 25% होगी जो कि बेस भाड़े पर लागू होगी। इसके अलावा रिजर्वेशन चार्ज, सुपरफ़ास्ट सरचार्ज और GST आदि दरें पहले जैसी ही रहेंगी। बताते चलें कि रेलवे बोर्ड पिछले काफी समय से छोटी दूरी की ट्रेनों में खाली जा रही सीटों की समीक्षा कर रहा था। इस दौरान पाया गया कि वन्देभारत जैसी ट्रेनों का किराया उसी दूरी पर चलने वाली बसों या अन्य संसाधनों के मुकाबले काफी अधिक है।

इसी मामले में कई यात्रियों ने भी ट्वीट कर के मंत्रालय को शिकायत और सुझाव भेजे थे। आखिरकार एक लम्बे मंथन के बाद रेलवे बोर्ड ने किरायों में कमी का निर्णय लिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या सोने की तस्करी में हुई MP अनवारुल अजीम की हत्या? बांग्लादेश पुलिस का दावा- दोस्त ने ही मरवाया, कोलकाता की फ्लैट में आई...

बांग्लादेश के सांसद अनवारुल अजीम की कोलकाता में हत्या उन्हीं के एक पुराने दोस्त अख्तरुज्ज्मान ने करवाई थी, वह अमेरिकी-बांग्लादेशी नागरिक है।

बंगाल के नंदीग्राम में मतदान से पहले BJP की महिला कार्यकर्ता की हत्या, TMC गुंडों पर धारदार हथियारों के साथ हमले का आरोप: ‘भाइपो’...

पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम में लोकसभा चुनाव से पहले भारी भाजपा की एक महिला कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई है, हत्या का आरोप TMC पर लगा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -