Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिबुजुर्ग के सिर पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने उड़ेल दी स्याही: CM उद्धव की आलोचना...

बुजुर्ग के सिर पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने उड़ेल दी स्याही: CM उद्धव की आलोचना की ‘सज़ा’

जिस बुजुर्ग पर स्याही डाली गई है, वो असल में एक सरकारी कर्मचारी है। महाराष्ट्र में सरकार, सत्ताधारी शिवसेना या मुख्यमंत्री ठाकरे की किसी प्रकार से भी आलोचना को शिवसेना कार्यकर्ता बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं।

महाराष्ट्र में शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे की आलोचना करने वालों पर शिवसेना कार्यकर्ताओं का तांडव जारी है। अब बीड जिले के एक व्यक्ति को निशाना बनाया गया है, जिसे फेसबुक पर मुख्यमंत्री की आलोचना की थी। शिवसेना की एक कार्यकर्ता ने पूरे बोतल भर इंक एक व्यक्ति के ऊपर सिर्फ़ इसीलिए उड़ेल दिया, क्योंकि उसने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना करते हुए पोस्ट लिखा था। महिला ने जब उस व्यक्ति पर इंक डाला, तब वो फोन से बात कर रहा था।

शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बुजुर्ग को चारों ओर से घेर रखा था और उसे खरी-खोटी सुना रहे थे। इनमें कुछ शिवसेना की महिला कार्यकर्ताएँ भी शामिल थीं। इस दौरान वहाँ उपस्थित कई लोग तमाशबीन बन कर देखते रहे। अंत में महिला ने स्याही भरी बोतल निकाली और बजुर्ग के सिर और गले पर उड़ेल दिया। इस घटना का पूरा वीडियो नीचे संलग्न किया गया है, जिसे आप देख सकते हैं:

जिस बुजुर्ग पर स्याही डाली गई है, वो असल में एक सरकारी कर्मचारी है। महाराष्ट्र में सरकार, सत्ताधारी शिवसेना या मुख्यमंत्री ठाकरे की किसी प्रकार से भी आलोचना को शिवसेना कार्यकर्ता बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। हाल ही में एक व्यक्ति ने जब मुख्यमंत्री की आलोचना की तो उसके साथ मारपीट की गई और उसका सिर मुँड़वा दिया गया था। बाद में युवा सेना के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे ने इस मामले में अपने कार्यकर्ताओं का बचाव किया था और पीड़ित को ही ‘नीच’ करार दिया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हिंदी राष्ट्रभाषा है, थोड़ी-बहुत सबको आनी चाहिए’: ये कहने पर Zomato ने कर्मचारी को कंपनी से निकाला, तमिल ग्राहक ने की थी शिकायत

फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato ने अपने एक कस्टमर केयर कर्मचारी को फायर कर दिया, क्योंकि उसने कहा था कि थोड़ी-बहुत हिंदी सबको आनी चाहिए।

बाप कम्युनिस्ट हो, सत्ता में वामपंथी हों तो प्यार न करें, प्यार हो जाए तो माँ न बने: अपने ही बच्चे के लिए भटक...

अजीत और अनुपमा को एक-दूसरे से प्यार हुआ और एक बच्चे का जन्म हुआ। कम्युनिस्ट पिता को ये रिश्ता और बच्चा दोनों नागवार थे। बच्चा इस जोड़े से छीन लिया गया...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe