Thursday, July 7, 2022
Homeराजनीति'मुझे और तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार कर लिया गया है': अर्णब के समर्थन में...

‘मुझे और तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार कर लिया गया है’: अर्णब के समर्थन में ‘सत्याग्रह’ करने पहुँचे कपिल मिश्रा का आरोप

तजिंदर बग्गा ने कुछ लोगों ने ट्वीट्स को रीट्वीट किया, जिसमें कहा गया है कि महीनों तक सड़कों को जाम रखने की अनुमति तो है लेकिन शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन की नहीं। तजिंदर बग्गा ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें और कपिल मिश्रा को गिरफ्तार कर के...

दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा और प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर बग्गा ने आरोप लगाया है कि राजघाट पर अर्णब गोस्वामी के समर्थन में विरोध प्रदर्शन के दौरान उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। कपिल मिश्रा ने ट्विटर पर जानकारी दी कि उन्हें और तजिंदर बग्गा को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने ऐलान किया था कि वो उद्धव ठाकरे सरकार के अत्याचार के खिलाफ और अर्णब गोस्वामी की आज़ादी के लिए रविवार (नवंबर 8, 2020) की सुबह 9 बजे धरना देंगे

उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने राजघाट और उसके आसपास के इलाकों में धारा-144 लगा दी है। उन्होंने अपने इस विरोध प्रदर्शन को सत्याग्रह का नाम दिया था। वहीं तजिंदर बग्गा ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें और कपिल मिश्रा को गिरफ्तार कर के दिल्ली पुलिस राजेंद्र नगर थाने लेकर गई है। हालाँकि, अभी तक दिल्ली पुलिस की तरफ से इस सम्बन्ध में कुछ नहीं कहा गया है।

सोशल मीडिया पर लोगों ने इन दोनों के गिरफ्तार किए जाने के आरोपों के बाद विरोध दर्ज कराया और कहा कि उन्होंने शांतिपूर्ण ढंग से अपनी बात रखी थी, बावजूद इसके ये कार्रवाई की गई। तजिंदर बग्गा ने कुछ लोगों ने ट्वीट्स को रीट्वीट किया, जिसमें कहा गया था कि महीनों तक सड़कों को जाम रखने की अनुमति तो है लेकिन शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन की नहीं। वहीं ‘रिपब्लिक भारत’ के डिप्टी न्यूज़ एडिटर आशुतोष चतुर्वेदी का कहना है कि इन दोनों को हिरासत में लिया गया।

उधर अर्णब गोस्वामी ने जेल शिफ्ट किए जाते समय पुलिस वैन के भीतर से ही मीडिया से बात करते हुए बताया है कि उन्हें उनके वकीलों से भी बात नहीं करने दी जा रही है। उन्होंने बताया कि उन्हें सुबह के 6 बजे जगा दिया गया और रविवार की सुबह उन्हें धक्का भी दिया गया, उनके साथ दुर्व्यवहार हुआ। अर्णब गोस्वामी ने महाराष्ट्र की मुंबई पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए और कहा कि उनकी जान को ख़तरा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती…’: देवी काली का अपमान करने के बाद धौंस दिखा रही TMC सांसद महुआ मोइत्रा, कहा- करो FIR,...

देवी काली पर अपमानजनक बयान देने वाली TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा है कि वह मरते दम तक अपने कहे पर डटी रहेंगी।

PFI की जिस रैली में लगे थे भड़काऊ नारे, उस मामले में 31 को केरल हाई कोर्ट ने दी जमानत: हिंदुओं की हत्या की...

कट्टरपंथी संगठन PFI की रैली में भड़काऊ नारे लगाने के 31 आरोपितों को केरल हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है। यह रैली इसी साल मई में अलाप्पुझा जिले में हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,273FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe