Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीतिकेरल दोहरे हत्याकांड में कॉन्ग्रेस MP का आया नाम, DFYI ने ऑडियो टेप जारी...

केरल दोहरे हत्याकांड में कॉन्ग्रेस MP का आया नाम, DFYI ने ऑडियो टेप जारी करके लगाए आरोप

मिथिल (32) और हक मुहम्मद (24) की संदिग्ध कॉन्ग्रेसी कार्यकर्तओं से कहासुनी हुई और उन्होंने हमला कर दिया। हमले में घायल मिथिल राज की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि हक मुहम्मद ने बाद में अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

केरल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की युवा विंग DYFI से जुड़े 2 कार्यकर्ताओं की हत्या की साजिश में शामिल होने के आरोप में 4 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के बाद अब इस मामले में कॉन्ग्रेस सांसद अदूर प्रकाश का नाम सामने आया है।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, रविवार को DYFI ने एक ऑडियो जारी की है। इस ऑडियो में कथिततौर पर एक आरोपित शजीथ (shajith) सांसद अदूर प्रकाश से बात कर रहा है। इसी ऑडियो के आधार पर औद्योगिक मंत्री ईपी जयाराजन ने दोहरे हत्याकांड के तार अदूर प्रकाश से जुड़े बताए हैं। उन्होंने इस हत्याकांड में कॉन्ग्रेस सांसद की भूमिका पर जाँच करने की माँग की है। जयाराजन का कहना है कि आरोपित ने खून करने के बाद सीधे अदूर प्रकाश को फोन किया था।

वहीं, अदूर प्रकाश ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है। उनका कहना है कि यह मंत्री की जिम्मेदारी थी कि वह आरोपों को सिद्ध करें। उनका दावा यह है कि दोहरे हत्याकांड के किसी आरोपित ने उन्हें कॉल नहीं किया। उनका कहना है कि उन्होंने उचित मामलों को छोड़ कर पुलिस थाने में कोई फोन नहीं किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने अब तक इस मामले में 4 गिरफ्तारी की है। कल इस केस में अंसार और उन्नी की गिरफ्तारी हुई है। यह दोनों हत्या में प्रत्यक्ष रूप से शामिल थे।

उधर, सीपीएम ने अपने कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद बुधवार को काला दिवस मनाकर प्रदर्शन करने की बात की है। सीपीएम का आरोप है कि हत्याकांड के तार क़ॉन्ग्रेस लीडरशिप से जुड़े हैं। इसलिए उनकी यही माँग है कि हर आरोपित व साजिशकर्ता को जल्द से जल्द गिरफ्तार होना चाहिए।

यहाँ बता दें कि एक ओर जहाँ इस हत्याकांड के बाद कॉन्ग्रेस नेतृत्व के ख़िलाफ़ कार्रवाई की माँग हो रही है। वहीं कॉन्ग्रेस का कहना है कि सीपीएम इन हत्याओं का लाभ उठा चाहती है। इसमें किसी कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता का हाथ नहीं है।

उल्लेखनीय है कि माकपा के यूथ विंग से जुड़े दोनों कार्यकर्ताओं की हत्या तिरुवनंतपुरम के वेंजरामूड़ू इलाके में 30 अगस्त को रात 11:30 बजे हई। उस दिन सत्ताधारी दल सीपीआई (एम) के यूथ विंग DYFI के 2 सदस्य मिथिल राज और हक मुहम्मद रात में टू-व्हीलर पर जा रहे थे।

इसी दौरान मिथिल (32) और हक मुहम्मद (24) की संदिग्ध कॉन्ग्रेसी कार्यकर्तओं से कहासुनी हुई और उन्होंने हमला कर दिया। हमले में घायल मिथिल राज की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि हक मुहम्मद ने बाद में अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

पुलिस ने पड़ताल में पाया कि लोकसभा चुनाव के वक्त से दोनों ग्रुप के बीच तनातनी चल रही थी। संदिग्धों में शुमार अंसार नाम का शख्स पहले ही इस तरह के मामले में जेल जा चुका है।

मिथिल और हक मुहम्मद
Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -