Monday, July 4, 2022
Homeराजनीतिजालंधर में मंदिर के पास दीवारों पर खालिस्तानी नारे, केजरीवाल के पंजाब दौर से...

जालंधर में मंदिर के पास दीवारों पर खालिस्तानी नारे, केजरीवाल के पंजाब दौर से पहले भड़काऊ हरकत: हफ्ते में दूसरी ऐसी घटना

खालिस्तान के समर्थन में नारे काले रंग की पेंट स्प्रे के साथ लिखे गए हैं। यह काम अराजक तत्वों ने रातोंरात किया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि...

दिल्ली के मुख्यमंत्री और ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और सीएम भगवंत मान (Bhagwant Mann) के जालंधर दौरे से पहले शहर की दीवारों पर अराजक तत्वों ने खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिख दिए। खालिस्तान (Khalistan) समर्थक नारे देवी तालाब मंदिर के आसपास के क्षेत्रों की कुछ दीवारों पर लिखे हैं। पुलिस ने कहा, “हम नारे लगाने वालों का पता लगाने में जुट गए हैं। इसके लिए सभी सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।”

बताया जा रहा है कि खालिस्तान के समर्थन में नारे काले रंग की पेंट स्प्रे के साथ लिखे गए हैं। यह काम अराजक तत्वों ने रातोंरात किया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि कुछ दीवारों पर खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे हुए थे। यह नारे पहले के नहीं लिखे हुए हैं, बल्कि पिछली रात ही किसी ने यह कारनामा किया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले एक हफ्ते में पंजाब में खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे जाने का यह दूसरा मामला सामने आया है। 11 जून को फरीदकोट में जिला व सेशन जज के घर के बाहर दीवार पर खालिस्तानी समर्थक नारे लिखे गए थे। इस बात की जानकारी पंजाब के फरीदकोट की एसएसपी अवनीत कौर सिद्धू ने दी थी। उन्होंने कहा था कि आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस (SFJ) के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू का एक वीडियो सामने आया है और दीवारों पर नारे लिखे गए हैं।

गौरतलब है कि पंजाब में खालिस्तान की माँग को लेकर 6 जून को ऑपरेशन ब्लू स्टार (Operation Blue Star) की बरसी पर स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) के गेट तक पहुँचे सैकड़ों की संख्या में लोगों ने खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की थी। इस दौरान लोगों ने अपने हाथों में नंगी तलवारें और खालिस्तानी आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले (Jarnail Bhindranwale) के पोस्टर लिए हुए थे। उन्होंने जरनैल सिंह भिंडरावाले के बैनर और पोस्टरों को लहराते हुए स्वर्ण मंदिर के अंदर घुसने की कोशिश की, लेकिन उन्हें गेट पर ही रोक दिया गया था। 

ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के बीच कट्टरपंथी संगठनों ने अमृतसर में बंद का आह्वान किया था। दल खालसा नाम के कट्टरपंथी संगठन ने हर जगह ऑपरेशन ब्लू स्टार के विरोध में पोस्टर चस्पा किए थे। मामले की गंभीरता के मद्देनजर अमृतसर में 7000 जवानों की तैनाती की गई थी। बावजूद इसके खालिस्तानी समर्थक स्वर्ण मंदिर तक पहुँच गए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe