Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिचौथे चरण के लिए EVM में लॉक होगी 1717 उम्मीदवारों की किस्मत: लोकसभा की...

चौथे चरण के लिए EVM में लॉक होगी 1717 उम्मीदवारों की किस्मत: लोकसभा की 96 सीटें, आंध्र-ओडिशा में विधानसभा चुनाव भी

10 राज्य/केंद्र-शासित प्रदेशों की कुल 96 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 17.7 करोड़ मतदाता हैं। ये 1.92 लाख मतदान केंद्रों पर वोट डालकर 1717 उम्मीदवारों के के भाग्य का निर्णय कर सकेंगे।

लोकसभा चुनाव 2024 में सोमवार को चौथे चरण का मतदान होगा। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की 96 लोकसभा सीटों पर मतदान कराया जाएगा। इइसके साथ ही आंध्र प्रदेश और ओडिशा विधानसभा के लिए भी मतदान कराया जाएगा। आंध्र प्रदेश में 175 विधानसभा सीटे हैं, तो ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर मतदान कराया जाएगा। ओडिशा में चार चरणों में विधानसभा चुनाव कराए जा रहे हैं, जिसकी शुरुआत सोमवार से हो रही है।

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में आंध्र प्रदेश में सर्वाधिक 25 लोकसभा सीट, तेलंगाना में सभी 17 लोकसभा सीट, यूपी में 13 लोकसभा सीट, महाराष्ट्र में 11 लोकसभा सीट, पश्चिम बंगाल और एमपी की 8-8 लोकसभा सीट, बिहार की 5 लोकसभा सीट, ओडिशा और झारखंड की 4-4 सीटों पर मतदान कराया जाएगा। इसके अलावा केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर की एक लोकसभा सीट पर भी वोटिंग कराई जाएगी। चौथे चरण की 96 संसदीय सीटों में सामान्य श्रेणी की 64 सीटें, अनुसूचित जनजाति की 12 सीटें और अनुसूचित जाति श्रेणी की 20 सीटें आरक्षित हैं।

मैदान में कई हाई प्रोफाइल चेहरे

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में मोदी सरकार के 5 बड़े मंत्रियों, एक पूर्व मुख्यमंत्री, 2 क्रिकेटर और एक अभिनेता समेत कई दिग्गज राजनेताओं की किस्मत तय होगी। वहीं, यूपी से सपा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की भी किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद होगा।

हाई प्रोफाइल नेताओं में तेलंगाना के हैदराबाद से भाजपा की माधवी लता, कन्नौज से समाजवादी पार्टी से अखिलेश यादव, बिहार के बेगुसराय से गिरिराज सिंह, उजियारपुर से गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, हैदराबाद से असदुद्दीन औवेसी, उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी, मुंगेर से जदयू के पूर्व अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, झारखंड के खूंटी से अर्जुन मुंडा, पश्चिम बंगाल के आसनसोल से शत्रुघ्न सिन्हा, बहरामपुर से अधीर रंजर चौधरी और क्रिकेटर यूसुफ पठान की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद हो जाएगा।

17.7 करोड़ मतदाता करेंगे नेताओं की किस्मत का फैसला

चुनाव आयोग की विज्ञप्ति के अनुसार, 10 राज्य/केंद्र-शासित प्रदेशों की कुल 96 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 17.7 करोड़ मतदाता हैं। ये 1.92 लाख मतदान केंद्रों पर वोट डालकर 1717 उम्मीदवारों के के भाग्य का निर्णय कर सकेंगे। इनमें 8.97 करोड़ पुरुष और 8.73 करोड़ महिला मतदाता हैं। इस चरण में आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों और ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर भी मतदान कराया जा रहा है।

आयोग ने इस चरण के चुनाव को सुचारु और शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए 364 पर्यवेक्षकों (126 सामान्य पर्यवेक्षक, 70 पुलिस पर्यवेक्षक, 168 अन्य पर्यवेक्षक) की तैनाती कर रखी है। इसके अतिरिक्त कुछ राज्यों में विशेष पर्यवेक्षकों को तैनात किया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -