Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीति'भगवान राम भी अल्लाह की तरफ से ही भेजे गए हैं”: बोले जम्मू-कश्मीर के...

‘भगवान राम भी अल्लाह की तरफ से ही भेजे गए हैं”: बोले जम्मू-कश्मीर के पूर्व CM फारूक अब्दुल्ला, पाकिस्तानी मौलाना का दिया हवाला

फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के एक बुजुर्ग प्रोफेसर (जिनकी कुछ समय पहले मृत्यु हो गई) का हवाला देते हुए कहा, "उन्होंने लिखा था कि लोगों को सही रास्ता दिखाने के लिए भगवान राम भी अल्लाह की तरफ से ही भेजे गए हैं।"

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) गुरुवार (23 मार्च 2023) को पैंथर्स पार्टी के स्थापना दिवस के अवसर पर उधमपुर पहुँचे। यहाँ उन्होंने कहा, “भगवान राम सिर्फ हिंदुओं के भगवान नहीं हैं। ये अपने दिमाग से निकालिए। भगवान राम सबके भगवान हैं। फिर चाहे वो हिंदू हो, मुस्लिम हो, सिख हो, अमरीकन हो या फिर रूसी हो। अल्लाह सिर्फ मुस्लिमों का रब नहीं है, वह सबका रब है।”

इस दौरान फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के एक बुजुर्ग प्रोफेसर (जिनकी कुछ समय पहले मृत्यु हो गई) का हवाला देते हुए कहा, “उन्होंने लिखा था कि लोगों को सही रास्ता दिखाने के लिए भगवान राम भी अल्लाह की तरफ से ही भेजे गए हैं।”

अब्दुल्ला ने बीजेपी का नाम लिए बिना उस पर निशाना साधते हुए आगे कहा, “ये जो आपके सामने आते हैं और कहते हैं कि वो ही राम के पुजारी है, ऐसा कहने वाले लोग बेवकूफ हैं। ये लोग राम को बेचना चाहते हैं। इन्हें राम से कोई मोहब्बत नहीं हैं। इन्हें हुकूमत से मोहब्बत है।”

राज्य में आगामी चुनावों के बारे में बोलते हुए पूर्व सीएम ने कहा, “मुझे लगता है कि जब जम्मू-कश्मीर में चुनावों की घोषणा होगी तो वे आम आदमी का ध्यान हटाने के लिए राम मंदिर का उद्घाटन करेंगे।”

फारूक अब्दुल्ला का यह वीडियो सामने आने के बाद एक यूजर ने लिखा, “जो लोग राम मंदिर का विरोध करते थे आज राम का नाम जप रहे हैं। इससे ज्यादा और क्या चाहिए मोदी जी से।”

एक और यूजर ने अब्दुल्ला को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि राम जन्मभूमि पर बन रहा मंदिर जनता की धरोहर है। उनकी आस्था पर बुरी नजर मत डालो मियाँ।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में भी फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि भगवान राम सिर्फ हिंदुओं के ही नहीं, बल्कि सबके भगवान हैं। उन्होंने लोगों से धर्म के आधार पर बाँटने की कोशिशों के प्रति सतर्क रहने की अपील की थी। उस दौरान भी भाजपा पर अप्रत्यक्ष हमला करते हुए फारूक ने कहा था, “कोई भी धर्म बुरा नहीं है, उसके इंसान भ्रष्ट हैं, धर्म नहीं… वे चुनाव के दौरान ‘हिंदू खतरे में है’ का बहुत उपयोग करेंगे। मैं आपसे अनुरोध करता हूँ कि आप इसके शिकार न हों। भारत में 70 से 80 प्रतिशत हिंदू आबादी है और क्या आपको लगता है कि वे खतरे में पड़ जाएँगे?”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -