Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाजMP: कर्ज़माफ़ी को लेकर समस्या सुनाने गए लोगों को कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने दौड़ा-दौड़ा कर...

MP: कर्ज़माफ़ी को लेकर समस्या सुनाने गए लोगों को कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

कॉन्ग्रेस के कोप के शिकार इन लोगों ने मीडिया को बताया कि कर्ज़ माफ़ी के संबंध में किसानों की समस्या सुनाने के लिए वो सभी मंत्री के पास आए थे। जिसके बाद मामूली-सी बात पर कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने पीटना शुरू कर दिया।

मध्य प्रदेश के देवास में कॉन्ग्रेस सरकार के मंत्री जीतू पटवारी से मिलने पहुँचे लोगों पर कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं का कहर टूट पड़ा। दरअसल कुछ लोग कर्ज़माफ़ी को लेकर किसानों की दिक्कतों को बताने के लिए मंत्री से मिलने के लिए आए थे। लेकिन जल्द ही मंत्री से मिलने पहुँचे लोगों और कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच की बहस हाथापाई में बदल गई।

इसके बाद कॉन्ग्रेसी कार्यकर्ता लोगों को दौरा-दौरा कर पीटने लगे। जिन लोगों की पिटाई हुई उन्होंने खुद को मजदूर संगठन से जुड़ा हुआ बताया है। कॉन्ग्रेस के कोप के शिकार इन लोगों ने मीडिया को बताया कि कर्ज़ माफ़ी के संबंध में किसानों की समस्या सुनाने के लिए वो सभी मंत्री के पास आए थे। जिसके बाद मामूली-सी बात पर कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने पीटना शुरू कर दिया।

जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार द्वारा किसानों की क़र्ज़माफ़ी की घोषणा के बाद किसानों की मुश्किलें ख़त्म होने के बजाए बढ़ती ही जा रही हैं। क़र्ज़माफ़ी को लेकर सरकारी दफ़्तरों में चिपकाई जा रही सूची में किसी के नाम ₹13 तो किसी के नाम के आगे ₹30 की क़र्ज़माफ़ी है। क़र्ज़माफ़ी के मुद्दे पर 15 साल बाद सत्ता में आई कॉन्ग्रेस की कमलनाथ सरकार के इस रवैये से जनता बेहद परेशान है।

किसानों के लिए जारी क़र्ज़माफ़ी की लिस्ट में निपानिया के रहने वाले एक किसान शिवपाल का भी नाम है। शिवपाल पर बैंक के ₹20,000 से ज्यादा का कर्ज़ है। लेकिन सरकार द्वारा जारी लिस्ट में उनके नाम के आगे ₹13 की क़र्ज़माफ़ी की गई है। शिवपाल ने अपने बयान में कहा, “सरकार क़र्ज़ माफ़ कर ही रही है तो मेरा पूरा क़र्ज़ माफ़ होना चाहिए, ₹13 की तो हम बीड़ी पी जाते हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -