Sunday, April 14, 2024
Homeराजनीति'मऊ से चुनाव लड़ के दिखाएँ': मुख्तार अंसारी के बेटे ने सपा दफ्तर से...

‘मऊ से चुनाव लड़ के दिखाएँ’: मुख्तार अंसारी के बेटे ने सपा दफ्तर से CM योगी को दी धमकी, BJP नेता ने कहा-‘जनता जबाव देगी’

"ये वही मुख्यमंत्री हैं आज भी और कल भी रहेंगे। ये जो भ्रम है उसे अपने दिमाग से निकाल दें। पंजाब से आने में इनके बाप की फटती थी। जब सीएम को इतना ही कमजोर समझते हैं तो उनके बाप की क्यों मऊ में आने से फटती थी।"

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election-2022) के मद्देनजर सियासत तेज हो गई है। इसी क्रम में मऊ के माफिया और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे ने भड़काऊ बयानबाजी की है। मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aaditynath) को धमकी दे डाली है। उसने कहा कि उसे इस बात का इंतजार है कि कब सीएम योगी मऊ विधानसभा सीट से अपना पर्चा भरते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, ओम प्रकाश राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के टिकट पर जेल में बंद माफिया डॉन मुख्तार अंसारी मऊ सदर से चुनाव लड़ रहा है। अपने अब्बू की तरफ से प्रचार की कमान माफिया डॉन के बेटे अब्बास अंसारी ने संभाल रखी है। मुख्तार अंसारी का बेटा अब्बास और उमर अंसारी दोनों मऊ में जनता के बीच जाकर अपने पिता के लिए वोट माँग रहा है। वहीं अब्बास अंसारी ने इस बार चुनावी मैदान में उतरने से मना कर दिया।

इससे पहले वो 2017 में घोसी विधानसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़े थे, लेकिन भाजपा के फागू चौहान ने उन्हें 5000 वोटों के अंतर से हरा दिया था। उल्लेखनीय है कि अब्बास अंसारी ने यूपी के मुख्यमंत्री को ये चुनौती समाजवादी पार्टी के दफ्तर से दी है।

बीजेपी नेता ने किया पलटवार

अब्बास अंसारी द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को चैलेंज करने के मामले में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने करार पलटवार किया है। भाजपा नेता गणेश सिंह ने अब्बास पर निशाना साधते हुए कहा कि मैंने भी उनके वीडियो को बड़े ही गौर से देखा और सुना है। वो मुख्यमंत्री को चैलेंज कर रहे हैं, शायद उनके बारे में उन्हें पता नहीं है।

उन्होंने कहा, “ये वही मुख्यमंत्री हैं आज भी और कल भी रहेंगे। ये जो भ्रम है उसे अपने दिमाग से निकाल दें। पंजाब से आने में इनके बाप की फटती थी। जब सीएम को इतना ही कमजोर समझते हैं तो उनके बाप की क्यों मऊ में आने से फटती थी। मऊ का एक-एक भाजपा कार्यकर्ता इनका जबाव देने के लिए तैयार है। मऊ की जनता बदलाव चाहती है। किसी भ्रम में न रहें। ‘संगीनों के साए में रहने वाले’ तुम क्या मुख्यमंत्री को चैलेंज करोगे। तुमारी औकात ही नहीं है। इस बार जनता तुम्हें बताएगी और जबाव देगी।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

BJP की तीसरी बार ‘पूर्ण बहुमत की सरकार’: ‘राम मंदिर और मोदी की गारंटी’ सबसे बड़ा फैक्टर, पीएम का आभामंडल बरकार, सर्वे में कहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी तीसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाती दिख रही है। नए सर्वे में भी कुछ ऐसे ही आँकड़े निकलकर सामने आए हैं।

‘राष्ट्रपति आदिवासी हैं, इसलिए राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में नहीं बुलाया’: लोकसभा चुनाव 2024 में राहुल गाँधी ने फिर किया झूठा दावा

राष्ट्रपति मुर्मू को राम मंदिर ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करने वाले एक प्रतिनिधिमंडल ने अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए औपचारिक रूप से आमंत्रित किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe