Thursday, August 5, 2021
Homeराजनीति'कॉन्ग्रेस महाराष्ट्र की दुश्मन नहीं, हम सरकार बनाने को तैयार' - संजय राउत के...

‘कॉन्ग्रेस महाराष्ट्र की दुश्मन नहीं, हम सरकार बनाने को तैयार’ – संजय राउत के बयान के बाद अब कॉन्ग्रेसी MLA भी…

कॉन्ग्रेस के 44 विधायकों में से 35 विधायक जयपुर में ही हैं। महाराष्ट्र से भारतीय जनता पार्टी की सरकार को हटाने के लिए कॉन्ग्रेस के अधिकतर विधायकों के शिवसेना के साथ...

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर चल रही उठा-पटक के बीच शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि अगर कोई सरकार बनाने को तैयार नहीं है तो शिवसेना यह जिम्मा ले सकती है। इसके साथ ही उन्होंने कॉन्ग्रेस को लेकर भी बड़ा बयान दिया है। संजय राउत ने कहा है कि कॉन्ग्रेस राज्य की दुश्मन नहीं है। सभी पार्टियों के बीच कुछ मुद्दों को लेकर मतभेद होता है।

बता दें कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शनिवार (नवंबर 9, 2019) को बीजेपी को सरकार बनाने के लिए न्योता दिया था। विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी बीजेपी को मिले राज्यपाल के न्योते के बाद संजय राउत का यह बयान आया है। वहीं इस बीच कॉन्ग्रेस विधायकों के शिवसेना को समर्थन देने की बात भी सामने आ रही है।

जानकारी के मुताबिक कॉन्ग्रेस विधायकों ने सर्वसम्मति से शिवसेना को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने का फैसला किया है। इसको लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (NCP) को एक पत्र प्रस्तुत करने की योजना बना रही है। इसको लेकर राजस्थान के कॉन्ग्रेस में मीटिंग हो रही है। 

बता दें कि कॉन्ग्रेस के 44 विधायकों में से 35 विधायक जयपुर में ही हैं। महाराष्ट्र से भारतीय जनता पार्टी की सरकार को हटाने के लिए कॉन्ग्रेस के अधिकतर विधायकों के शिवसेना के साथ जुड़ने की संभावना जताई जा रही है। इसके साथ ही एनसीपी प्रमुख शरद पवार की भी विधायकों के साथ मीटिंग की बात सामने आ रही है। ऐसा बताया जा रहा है कि शरद पवार भी अपने विधायकों से शिवसेना को समर्थन देने के लिए कहेंगे।

उल्लेखनीय है कि परसों देवेंद्र फड़णवीस को सोमवार (11 नवंबर, 2019) तक विधानसभा के पटल पर फ्लोर टेस्ट पास करने (सदन में बहुमत साबित करने) का मौका होगा। फडणवीस ने शुक्रवार (8 नवंबर, 2019 को) राज्य के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफ़ा दे दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टोक्यो ओलंपिक: फाइनल में खूब लड़े रवि दहिया, भारत की चाँदी

टोक्यो ओलंपिक 2020 में पुरुषों की 57 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में रेसलर रवि दहिया ने भारत को सिल्वर मैडल दिलाया है।

जब मनमोहन सिंह PM थे, कॉन्ग्रेस+ की सरकार थी… तब हॉकी टीम के खिलाड़ियों को जूते तक नसीब नहीं थे

एक दशक पहले जब मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कॉन्ग्रेस नीत यूपीए की सरकार चल रही थी, तब हॉकी टीम के कप्तान ने बताया था कि खिलाड़ियों को जूते भी नसीब नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,091FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe