Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र आव्हाड से जुड़े 16 लोग कोरोना पॉजिटिव, 5 पुलिसकर्मी सहित...

महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र आव्हाड से जुड़े 16 लोग कोरोना पॉजिटिव, 5 पुलिसकर्मी सहित रसोइया भी शामिल

कैबिनेट मंत्री का केवल सुरक्षाकर्मी ही नहीं, बल्कि उनसे जुड़े 16 अन्य लोग भी कोरोना पॉजिटिव हैं। इन 16 लोगों की सूची में जितेंद्र आव्हाड की सुरक्षा में तैनात 5 पुलिसकर्मी हैं, कार्यरत रसोइया है, सफाई कामगार हैं, बंगले पर कार्यरत स्टाफ और अन्य कर्मचारी हैं।

महाराष्ट्र के हाउसिंग मिनिस्टर जितेंद्र आव्हाड के सुरक्षाकर्मी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद हड़कंप मच गया। हालाँकि, इस खबर की सूचना होते ही एनसीपी नेता ने खुद को क्वारंटाइन कर लिया। लेकिन शाम तक खबर आई कि कैबिनेट मंत्री का केवल सुरक्षाकर्मी ही नहीं, बल्कि उनसे जुड़े 16 अन्य लोग भी कोरोना पॉजिटिव हैं। इन 16 लोगों की सूची में जितेंद्र आव्हाड की सुरक्षा में तैनात 5 पुलिसकर्मी हैं, कार्यरत रसोइया है, सफाई कामगार हैं, बंगले पर कार्यरत स्टाफ और अन्य कर्मचारी हैं। इनके अलावा पॉजिटिव लोगों की सूची में ठाणे मनपा का एक पूर्व नगरसेवक का नाम भी बताया जा रहा है। 

मीडिया में प्रकाशित जानकारी के मुताबिक, एनसीपी नेता पिछले कुछ दिनों से अपने विधानसभा क्षेत्र कलवा और मुंब्रा में बहुत सक्रिय थे। कोरोना महामारी के बीच वे तमाम लोगों को भोजन का वितरण खुद करते थे। ऐसे में मुंब्रा और कलवा पुलिसकर्मियों के अलावा उनकी सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मी और उनके स्टाफ से जुड़े कुछ लोग उनके साथ रहते थे। इसलिए आशंका है कि पुलिसकर्मियों के संपर्क में आने से लोग भी संक्रमित हुए हों।

जानकारी के अनुसार, सभी पहलुओं को देखते हुए मुंब्रा पुलिस से जुड़े 35 पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन किया गया है। वहीं केंद्रीय मंत्री ने भी खुद के क्वारंटाइन में जाने की बात सबको बताई है। उन्होंने कहा, “कोरोना वायरस से संक्रमित एक पुलिस अधिकारी के संपर्क के आने के कारण मैंने आइसोलेशन में रहने का फैसला किया है।”

उन्होंने एक संदेश में कहा कि पहली जाँच में वह कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाए गए लेकिन उन्होंने 14 दिन क्वारंटाइन रहने का फैसला किया है। उनका कहना है कि 8 दिन बाद उनकी फिर से जाँच होगी और उन्हें उम्मीद है कि इसमें भी उनके नतीजे नेगेटिव ही आएँगे। एनसीपी नेता ने आगे कहा कि संक्रमण की पुष्टि नहीं होने और क्वारंटाइन अवधि पूरी करने के बाद वह लोगों की सेवा करने के लिए फिर से निकलेंगे। 

उल्लेखनीय है कि आव्हाड ठाणे जिले के कलवा-मुंब्रा विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और यहाँ पिछले कुछ सप्ताह में कई लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। उन्होंने कुछ दिन पहले लोगों से घर में रहने की अपील करते हुए कहा था कि ऐसा नहीं करने पर इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है। आव्हाड खुद को क्वारंटाइन करने वाले राज्य के पहले मंत्री हैं। बता दें कि देश में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। यहाँ अब तक लगभग 2000 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मामले आ चुके हैं। जबकि 120 लोग ऐसे हैं, जिनकी इस कारण मौत हुई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

‘जिन्होंने इमरजेंसी लगाई वे संविधान के लिए न दिखाएँ प्यार’: कॉन्ग्रेस को PM मोदी ने दिखाया आईना, आपातकाल की 50वीं बरसी पर देश मना...

इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही लोगों को याद दिलाया कि कैसे उस समय लोगों से उनके अधिकार छीने गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -