Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र: मस्जिदों के लाउडस्पीकर पर डेडलाइन पूरी, राज ठाकरे ने कहा- अजान सुनते ही...

महाराष्ट्र: मस्जिदों के लाउडस्पीकर पर डेडलाइन पूरी, राज ठाकरे ने कहा- अजान सुनते ही दोगुनी आवाज में हनुमान चालीसा बजाएँ हिंदू

"रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर बजाने की इजाजत नहीं मिलेगी। हर धर्म के लोगों को उनके त्योहार पर लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत मिलेगी, लेकिन 365 दिन लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत नहीं दी जा सकती।"

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के मुखिया राज ठाकरे ने राज्य के मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने को 3 मई 2022 की जो डेडलाइन दी थी, वह मंगलवार को पूरी हो गई। डेडलाइन समाप्त होने से पहले मनसे प्रमुख (MNS chief Raj Thackeray) ने एक बयान जारी कर हिंदुओं से अपील की कि अजान की आवाज सुनाई पड़ने पर वे दोगुनी आवाज में हनुमान चालीसा बजाएँ। उन्होंने हिंदुओं से यह आह्वान ऐसे वक्त में किया है जब औरंगाबाद में केस दर्ज होने के बाद उनकी गिरफ्तारी को लेकर अटकलें लग रही है।

बयान में राज ठाकरे ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा है, “रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर बजाने की इजाजत नहीं मिलेगी। हर धर्म के लोगों को उनके त्योहार पर लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत मिलेगी, लेकिन 365 दिन लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत नहीं दी जा सकती। लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत हर रोज लेनी पड़ती है।”

इसके साथ ही मनसे प्रमुख ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए उनसे पूछा कि क्या वह अपने दिवंगत पिता बालासाहेब ठाकरे की बात सुनने जा रहे हैं, जिन्होंने एक बार कहा था कि ‘सभी लाउडस्पीकरों को बंद कराने की जरूरत है’, या फिर वे राकांपा प्रमुख शरद पवार की बात सुनकर मस्जिदों पर लाउडस्पीकर जारी रखेंगे।

अपने बयान में राज ठाकरे ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने लाउडस्पीकरों के लिए एक नियम तय किया था। यह आवाज 10 से 55 डेसिबल के बीच होनी चाहिए। कृपया ध्यान दें कि 10 डेसिबल का स्तर उन फुसफुसाहटों से संबंधित है जो हमारे बीच होती है। 55 डेसिबल का स्तर हमारे किचन में रखे मिक्सर की आवाज के बराबर है। उन्होंने कहा कि मस्जिदों को लाउडस्पीकर बजाने की अनुमति दी है और अगर हिंदू मंदिरों में लाउडस्पीकर बजाना हो तो हमें रोज अनुमति लेने की जरूरत पड़ती है।

गौरतलब है कि यह बयान औरंगाबाद में मनसे प्रमुख राज ठाकरे और उनकी सार्वजनिक रैली के आयोजकों के खिलाफ मामला दर्ज करने के कुछ देर बाद जारी किया गया था। रविवार (1 मई, 2022) को औरंगाबाद की रैली में राज ठाकरे ने महाराष्ट्र सरकार पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने अल्टीमेटम देते हुए कहा था, “कल दो मई है, 3 मई को ईद है, इसके बाद 4 मई को हम नहीं सुनेंगे। जहाँ-जहाँ लाउडस्पीकर्स लगे हुए हैं, वहाँ हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा।” इससे पहले मुंबई पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 149 के तहत मनसे नेता नितिन सरदेसाई और बाला नंदगांवकर सहित कम से कम 100 लोगों को नोटिस जारी किया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -