Saturday, October 16, 2021
HomeराजनीतिUP में BJP की साजिश और हरियाणा में कॉन्ग्रेस के दुष्प्रचार से बसपा एक...

UP में BJP की साजिश और हरियाणा में कॉन्ग्रेस के दुष्प्रचार से बसपा एक भी सीट नहीं जीती: मायावती

"कॉन्ग्रेस ने अपने स्वार्थ के लिए मत विभाजन के भय का खूब प्रचार किया जिससे बसपा के परम्परागत वोटरों पर कोई फर्क नहीं पड़ा, लेकिन अन्य मतदाता जरूर भ्रमित हो गए। कॉन्ग्रेस के झूठे प्रचार करके लोगों को बरगलाया इसीलिए कॉन्ग्रेस का प्रदर्शन पिछली बार से अच्छा रहा।"

उत्तर प्रदेश की 11 सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आ गए हैं। बीजेपी ने 11 में से 8 सीटों पर जीत दर्ज की है। वहीं समाजवादी पार्टी ने 3 सीटों पर जीत हासिल की है। बसपा और कॉन्ग्रेस का खाता भी नहीं खुला। बसपा को इस चुनाव में करारी हार मिली है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस हार का ठीकरा भारतीय जनता पार्टी के सिर पर फोड़ा। मायावती ने यूपी में अपनी पार्टी की हार को छिपाने के लिए BJP पर आरोप लगाते हुए ट्वीट किया।

उन्होंने ट्वीट में लिखा कि यूपी विधानसभा आमचुनाव से पहले बीएसपी के लोगों का मनोबल गिराने के षडयंत्र के तहत बीजेपी द्वारा इस उपचुनाव में सपा की कुछ सीटें जिताने और बीएसपी को एक भी सीट नहीं जीतने देने को पार्टी के लोग अच्छी तरह से समझ रहे हैं। वे इनके इस षडयंत्र को फेल करने के लिए पूरे जी-जान से जरूर जुटेंगे। मायावती ने इसे बीजेपी की साजिश बताई है।

वहीं बसपा सुप्रीमो ने हरियाणा में मिली शिकस्त का इल्जाम कॉन्ग्रेस पर लगाते हुए कहा कि कॉन्ग्रेस ने अपने स्वार्थ के लिए मत विभाजन के भय का खूब प्रचार किया जिससे बसपा के परम्परागत वोटरों पर कोई फर्क नहीं पड़ा, लेकिन अन्य मतदाता जरूर भ्रमित हो गए। मायावती ने ट्वीट कर यह कहने की कोशिश की कि कॉन्ग्रेस के झूठे प्रचार करके लोगों को बरगलाया इसीलिए कॉन्ग्रेस का प्रदर्शन पिछली बार से अच्छा रहा।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “हरियाणा की जनता भी बीजेपी सरकार के कुशासन से काफी दुःखी व त्रस्त थी और इनसे मुक्ति चाहती थी। लेकिन कॉन्ग्रेस पार्टी ने अपने स्वार्थ के लिए जनता में वोटों के बँटने के भय को खूब प्रचारित किया। इससे बीएसपी के समर्पित वोटर तो कतई नहीं डिगे परन्तु अन्य वोटर जरूर भ्रमित हो गए। इसका परिणाम यह हुआ कि बीएसपी इस बार हरियाणा विधानसभा आमचुनाव में सीट जीतने में सफल नहीं हो सकी, हालाँकि बीएसपी को पिछली बार से ज्यादा वोट मिले हैं।”

गौरतलब है कि हरियाणा चुनाव में हरियाणा विधानसभा चुनाव में किसी की पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। लेकिन 40 सीटें जीतकर बीजेपी राज्य की सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है। कॉन्ग्रेस को 31 सीटों पर सफलता हासिल हुई। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के बचाव में कूदा India Today, ‘सोर्स’ के नाम पर नया ‘भ्रमजाल’

SKM के नेता प्रदर्शन स्थल पर हुए दलित युवक की हत्या से खुद को अलग कर रहे हैं। इस बीच इंडिया टुडे ग्रुप अब उनके बचाव में सामने आया है। .

कुंडली बॉर्डर पर लखबीर की हत्या के मामले में निहंग सरबजीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे ‘जो बोले सो निहाल’ के नारे

निहंग सिख सरबजीत की गिरफ्तारी की वीडियो सामने आई है। इसमें आसपास मौजूद लोग तेज तेज 'जो बोले सो निहाल' के नारे बुलंद कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,835FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe