Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिबंगाल में पोलिंग बूथ पर TMC कार्यकर्ताओं की मनमानी, पास जाकर देख रहे हैं...

बंगाल में पोलिंग बूथ पर TMC कार्यकर्ताओं की मनमानी, पास जाकर देख रहे हैं किसको दिया वोट

ऐसा प्रतीत होता है कि पश्चिम बंगाल में गुप्त मतदान के नियम को एक तरफ़ रख दिया गया है और TMC कार्यकर्ता मतदाताओं के साथ खड़े होकर ख़ुद मतदान करवा रहे हैं। ऐसा करने के पीछे यह सुनिश्चित करना है कि वोट TMC के पक्ष में डाला गया कि नहीं।

पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के पहले तीन चरणों में मतदान के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा हुई साथ ही धांधली की भी ख़बरें सामने आईं। चौथे चरण के मतदान में भी वही रवैया जारी है। इन हिंसात्मक गतिविधियों में क्रूड बम मिलने के साथ ही भाजपा उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो पर हमला किया जाना भी शामिल है। इसी बीच, पश्चिम बंगाल के पूर्वी बर्दवान क्षेत्र का एक चौंकाने वाला वीडियो सामने आया है जिसमें TMC कार्यकर्ताओं को खुलेआम चुनावों में धांधली करते हुए देखा जा सकता है।

DNA द्वारा ट्वीट किया गया यह वीडियो मतदान केंद्र संख्या 104 और 107 पर पूर्वी बर्दवान निर्वाचन क्षेत्र केतुग्राम का है। यह घटना पूर्वी बर्दवान के खाजी हाई स्कूल बूथ में हुई थी। वीडियो में, यह स्पष्ट देखा जा सकता है कि जब कोई मतदाता EVM मशीन के पास वोट डालने आता है तो वहाँ मौजूद TMC कार्यकर्ता हर बार EVM को घूरता दिखता है।

जबकि नियमानुसार मतदान केंद्र के अंदर मतदाता के साथ जाने वाले किसी को भी यह अनुमति नहीं है कि वो उसके आसपास मौजूद रहे और यह देखने का प्रयास करे कि उस मतदाता ने किसे वोट दिया है। इसीलिए इसे गुप्त मतदान कहा गया है। लेकिन, ऐसा प्रतीत होता है कि पश्चिम बंगाल में गुप्त मतदान के नियम को एक तरफ़ रख दिया गया है और TMC कार्यकर्ता मतदाताओं के साथ खड़े होकर ख़ुद मतदान करवा रहे हैं। ऐसा करने के पीछे यह सुनिश्चित करना है कि वोट TMC के पक्ष में डाला गया कि नहीं।

पीठासीन अधिकारी कथित TMC कार्यकर्ता को मतदाताओं पर निगरानी रखने के लिए मतदान केंद्र के अंदर खड़े होने की अनुमति दे रहा था। ख़बर के मुताबिक़, घटना के सामने आने के बाद पीठासीन अधिकारी को तुरंत हटा दिया गया और चुनाव आयोग द्वारा इस पर एक्शन लिया गया। बीजेपी ने पश्चिम बंगाल के कई अन्य मतदान केंद्रों जैसे रानाघाट, उत्तर पारा बूथ और चकदाहा विधानसभा बूथों में धांधली का आरोप लगाया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe