Saturday, June 25, 2022
HomeराजनीतिPM ने 'Howdy Modi' कार्यक्रम में किया 370 हटाने का जिक्र तो भड़कीं महबूबा,...

PM ने ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम में किया 370 हटाने का जिक्र तो भड़कीं महबूबा, कहा- यह इस देश की विडंबना…

"ऐसा कहा जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटाने का फ़ैसला इसलिए लिया गया जिससे राज्य के ‘विशेष हितों’ को सुरक्षित किया जा सके, यह इस देश की विडंबना है। इस फ़ैसले को लेकर कई जगहों पर ख़ुशियाँ मनाई जा रही हैं, लेकिन......"

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा अपनी विवादित और तीखी टिप्पणियों से आए दिन सुर्ख़ियों में बनी रहती हैं। अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी की लोकप्रियता और कार्यक्रम की सफलता महबूबा के गले नहीं उतर रही है। वे भी इस कार्यक्रम पर तीखी टिप्पणी से बाज नहीं आईं।

इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण पर तीखी प्रतिक्रिया दर्ज करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा कहा जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटाने का फ़ैसला इसलिए लिया गया जिससे राज्य के ‘विशेष हितों’ को सुरक्षित किया जा सके, यह इस देश की विडंबना है। इस फ़ैसले को लेकर कई जगहों पर ख़ुशियाँ मनाई जा रही हैं, लेकिन जम्मू-कश्मीर के लोग ही इससे ख़ुश नहीं हैं, जहाँ इसका लाभ सबसे अधिक होने की उम्मीद की जा रही है।

बता दें कि यह कोई पहला मौक़ा नहीं है जब महबूबा मुफ़्ती ने मोदी सरकार की आलोचना की हो। फरवरी महीने में उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार, राज्यपाल सत्यपाल मलिक के माध्यम से राज्य में आग से खेलने का प्रयास कर रही है राज्य की मुस्लिम बहुल चरित्र को तोड़ने का प्रयास कर रही है। मुफ़्ती ने कहा था कि राज्यपाल सत्यपाल मलिक को ज़रिया बनाकर केंद्र सरकार जो भी निर्णय ले रही है, वो जम्मू-कश्मीर राज्य के लोगों और उनके हितों के ख़िलाफ़ है।

इसके अलावा, अप्रैल महीने में पीडीपी नेता महबूबा मुफ़्ती ने धमकी दी थी कि अगर बीजेपी या किसी ने भी संविधान के अनुच्छेद-370 को हटाया तो जम्मू-कश्मीर हिन्दुस्तान से अलग हो जाएगा। दरअसल, तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि संविधान के अनुच्छेद-370 और 35-A को हटाकर जम्मू-कश्मीर का पूर्ण विलय बीजेपी की देशवासियों के प्रति पुरानी प्रतिबद्धता है, जिसे 2020 में राज्यसभा में बहुमत मिलने के बाद पूरा किया जाएगा।

इसके जवाब में महबूबा मुफ़्ती अमित शाह के बयान की न सिर्फ़ खिल्ली उड़ाई थी बल्कि इसे दिवास्वप्न बताया और धमकी दी कि जो कोई भी 370 और 35-A को हटाने की कोशिश करेगा, उसके हाथ काट लिए जाएँगे।  

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘…तो मुंबई जल जाती है’ – खत्म हो रही शिवसेना, रोते हुए धमकी दे रहे कॉन्ग्रेसी मंत्री: मुंबई पुलिस हाई अलर्ट

कॉन्ग्रेस नेता नितिन राउत ने आशंका जताई है कि अगर राज्य में शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हिंसा की तो केंद्र को राष्ट्रपति शासन का बहाना मिलेगा।

‘द्रौपदी राष्ट्रपति तो पांडव और कौरव कौन हैं?’: राम गोपाल वर्मा के ओछे कमेंट पर हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की शिकायत, बीजेपी नेता की...

पुलिस द्वारा एससी / एसटी अधिनियम लागू किया जाना चाहिए और निर्देशक को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पुलिस ने कहा कि कानूनी राय के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,159FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe