Thursday, July 29, 2021
Homeबड़ी ख़बर'PM मोदी के भाषण में कहे गए तथ्यों का जवाब देने की बजाए झूठ...

‘PM मोदी के भाषण में कहे गए तथ्यों का जवाब देने की बजाए झूठ का सहारा न ले विपक्ष’: जेटली

पीएम ने कहा था कि मोदी पर उंगली उठाने से पहले कांग्रेस को पता होना चाहिए कि जब वह मोदी पर उंगली उठाते हैं तो बाकी की चार उंगली उनकी तरफ ही होती है।

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने विपक्ष पर करारा प्रहार किया है। गुरुवार (फरवरी 7, 2019) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संसद में दिए गए भाषण की चर्चा करते हुए जेटली ने कहा कि विपक्ष को नारेबाज़ी व झूठ का सहारा लेने की बजाए तथ्यों का जवाब देना चाहिए। अरुण जेटली ने सोशल मीडिया पर लिखा:

“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संसद में दिया गया जवाब सरकार के पांच वर्षों के काम का “रिपोर्ट कार्ड” है। क्या कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के नेता प्रधानमंत्री के भाषण में दिए गए तथ्यों का जवाब देंगे या फिर केवल नारों और झूठ का सहारा लेते रहेंगे। सत्य में अंतर्निहित शक्ति होती है। यह झूठी चर्चाओं को आसानी से ध्वस्त कर देता है।”

अरुण जेटली ने विपक्ष को चुनौती दी।

ज्ञात हो की प्रधानमंत्री ने गुरूवार को लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार शाम (फरवरी 07, 2019) को विपक्ष की जमकर क्लास लगाई। उन्होंने विपक्ष के हर आरोप का जवाब देते हुए कॉन्ग्रेस के 55 साल और अपनी सरकार के 55 महीने के विकास की तुलना की।

रोजगार के बढ़ रहे अवसरों के बारे में नरेंद्र मोदी ने कहा, “पिछले 4 वर्षों में देश में ऐसे 6 लाख 35 हजार नए प्रोफेशनल्स जुड़े। क्या आपको लगता है कि एक डॉक्टर ने अपना क्लिनिक या नर्सिंग होम खोला है, तो उसने सिर्फ एक व्यक्ति को ही नौकरी दी होगी, या कोई चार्टर्ड अकाउंटेंट सिर्फ एक व्यक्ति को नौकरी पर रखकर अपना दफ्तर चला रहा होगा? नहीं।”

पीएम मोदी के द्वारा संसद में कही गई मुख्य बातों को आप ऑपइंडिया पर पढ़ सकते हैं। पीएम ने महात्मा गाँधी और बाबासाहब आंबेडकर का जिक्र करते हुए विपक्ष को आड़े हाथों लिया। पीएम ने कहा कि मोदी पर उंगली उठाने से पहले कांग्रेस को पता होना चाहिए कि जब वह मोदी पर उंगली उठाते हैं तो बाकी की चार उंगली उनकी तरफ ही होती है।

फिलहाल वित्त मंत्री अरुण जेटली का न्यूयॉर्क में इलाज़ चल रहा है। यही कारण है कि उनकी अनुपस्थिति में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश किया था। जेटली के शरीर में कैंसर की पहचान हुई थी। हाल ही में उनकी सर्जरी हुई है। 14 मई 2018 को जेटली का दिल्ली के एम्स में गुर्दा प्रतिरोपण भी किया गया था। मीडिया में आई खबरों के अनुसार उनके स्वास्थ्य में तेज़ी से सुधार हो रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,882FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe