Tuesday, January 18, 2022
Homeराजनीतिममता बनर्जी अपने घर की चिंता करें, उन्हें ऐसे मुस्लिम पसंद नहीं जो सोच-बोल...

ममता बनर्जी अपने घर की चिंता करें, उन्हें ऐसे मुस्लिम पसंद नहीं जो सोच-बोल सकें: ओवैसी

“अभी तक आपका सामना सिर्फ आज्ञाकारी मीर जफ़र और सादिक़ से ही हुआ था। आपको ऐसे मुस्लिम नहीं पसंद हैं, जो खुद के लिए सोच और बोल सकते हैं।"

पश्चिम बंगाल के आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक बयानबाज़ी का दौर अपने चरम पर है। इसी कड़ी में एआईएमआईएम के मुखिया और हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बयान दिया है। ओवैसी ने ममता बनर्जी के एक बयान का जवाब देते हुए कहा कि मुस्लिम वोटर उनकी जागीर नहीं है। ओवैसी ने यह आरोप भी लगाया कि ममता बनर्जी को ऐसे मुस्लिम नहीं पसंद हैं, जो खुद के लिए सोच और बोल सकते हैं। 

दरअसल 15 दिसंबर 2020 को जलपाइगुड़ी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने असदुद्दीन ओवैसी पर बयान दिया था। संबोधन में ममता बनर्जी ने भाजपा और ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा था कि पश्चिम बंगाल में साम्प्रदायक सौहार्द बिगाड़ने और अल्पसंख्यकों के वोट का ध्रुवीकरण करने के लिए भाजपा एआईएमआईएम को लेकर आई है।

बंगाल की मुख्यमंत्री के अनुसार भाजपा ही एआईएमआईएम की फंडिंग करती है और यह बिहार चुनाव में साबित हो चुका है। ठीक ऐसा ही पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में भी होने वाला है, यह भाजपा की टीम बी है, जिस पर वह करोड़ों रुपए खर्च कर रहे हैं। इनकी योजना यही है कि चुनाव के दौरान हिन्दू वोट भाजपा ले जाएगी और मुस्लिम वोट एआईएमआईएम ले जाएगी।  

ममता बनर्जी के इस बयान का जवाब देते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, “अभी तक आपका सामना सिर्फ आज्ञाकारी मीर जफ़र और सादिक़ से ही हुआ था। आपको ऐसे मुस्लिम नहीं पसंद हैं, जो खुद के लिए सोच और बोल सकते हैं। आपने बिहार में हमारे वोटर्स का अपमान किया है। याद रखिए कि बिहार में अन्य राजनीतिक दलों के साथ क्या हुआ और वह अपनी असफलता का ठीकरा ‘वोट कटर्स’ के सिर फोड़ रहे थे। मुस्लिम वोटर्स आपकी जागीर नहीं हैं।”   

इसके अलावा ओवैसी का कहना था कि अभी तक ऐसा कोई इंसान पैदा नहीं हुआ, जो ओवैसी को रुपयों से खरीद सके। ओवैसी ने आगे कहा कि उनके (ममता बनर्जी) के सभी आरोप आधारहीन हैं, उन्हें अपने घर की चिंता करनी चाहिए। उनकी पार्टी के तमाम लोग भाजपा की तरफ जा रहे हैं। फ़िलहाल इस बयान को लेकर चुनावी और राजनीतिक चर्चाओं का दौर जारी है।

बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान सीमांचल क्षेत्र की 5 सीटें जीतने वाले एआईएमआईएम का निशाना पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की ओर है। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी प्रदेश के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों (मुर्शिदाबाद और नार्थ दिनाजपुर) में शुरुआत से ही सक्रिय है।

पश्चिम बंगाल में ऐसी कई सीटें हैं, जिन पर अल्पसंख्यक समुदाय की आबादी निर्णायक भूमिका में है। ऐसे में असदुद्दीन ओवैसी बड़ी सफलता की उम्मीद के साथ पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में उतर रहे हैं।    

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत में 60000 स्टार्ट-अप्स, 50 लाख सॉफ्टवेयर डेवेलपर्स’: ‘वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम’ में PM मोदी ने की ‘Pro Planet People’ की वकालत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (17 जनवरी, 2022) को 'World Economic Forum (WEF)' के 'दावोस एजेंडा' शिखर सम्मेलन को सम्बोधित किया।

अभिनेत्री का अपहरण और यौन शोषण मामला: मीडिया को रिपोर्टिंग से रोकने के लिए केरल HC पहुँचे मलयालम एक्टर दिलीप, पुलिस को ‘मैडम’ की...

अभिनेत्री के अपहरण और यौन शोषण के मामले में फँसे मलयालम अभिनेता दिलीप ने मीडिया को इस केस की रिपोर्टिंग से रोकने के लिए केरल हाईकोर्ट पहुँचे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,866FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe