Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिअकर्मण्य मोदी हैं ‘रियल एक्शन हीरो’ जबकि PM के लिए ममता बनर्जी सबसे उपयुक्त:...

अकर्मण्य मोदी हैं ‘रियल एक्शन हीरो’ जबकि PM के लिए ममता बनर्जी सबसे उपयुक्त: शत्रुघ्न

ममता बनर्जी की सराहना करते हुए शत्रुघ्न ने कहा कि उनके राज्य के प्रति त्याग और समर्पण को एक बार देखिए! वो ज़मीन से उठी हैं, उन्हें गरीबों की और लाचार लोगों की परवाह है।

वर्तमान में बीजेपी के नेता शत्रुघ्न सिन्हा का इस समय अपनी पार्टी के प्रति बागी रूप देखने को मिल रहा है। हाल ही में ममता बनर्जी की पार्टी द्वारा आयोजित यूनाइटेड रैली में शामिल हो कर उन्होंने इस बात को साबित भी कर दिखाया है।

शत्रुघ्न के इस रवैये की वज़ह से उनके खिलाफ पार्टी द्वारा कार्रवाई भी की जा सकती है। इस पर उनका कहना है कि जिस दिन भी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व उनसे पार्टी छोड़ने को कहेंगे, वो उसी दिन पार्टी छोड़ देंगे।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने कुछ दिन पहले शत्रुघ्न के बारे में कहा था कि वो जिस तरह से बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं, उस हिसाब से तो उन्हें पार्टी छोड़ देनी चाहिए। सुशील मोदी की इस बात का ज़वाब देते हुए शत्रुघ्न ने कहा, “मोदी कौन हैं? मैं सिर्फ़ एक मोदी को जानता हूँ जो देश के प्रधानमंत्री हैं, हमारे माननीय नरेंद्र मोदी। अब ये छुटभैया लोग हमें बताएँगे कि हमें क्या करना चाहिए। उनको जाकर बोलिए कि पब्लिसिटी पाने के लिए मेरे नाम का इस्तेमाल न करें।”

IANS को दिए एक साक्षात्कार में शत्रुघ्न सिन्हा ने देश के पीएम नरेंद्र मोदी को ‘रियल एक्शन हीरो’ बताया, जबकि उनके अनुसार प्रधानमंत्री के लिए सबसे उपयुक्त ममता बनर्जी हैं।

ममता बनर्जी की सराहना करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि उनके राज्य के प्रति त्याग और समर्पण को एक बार देखिए! वो ज़मीन से उठी हैं, उन्हें गरीबों की और लाचार लोगों की परवाह है।

ममता बनर्जी के पीएम बनने के सवाल पर शत्रुघ्न सिन्हा ने बड़े आत्मविश्वास के साथ ज़वाब दिया, “हाँ, क्यों नहीं? लेकिन दिल्ली अभी दूर है। इस समय हमें देश में राजनैतिक संकट पर ध्यान देने की ज़रूरत है, जो गठबंधन अच्छे से कर रहा है।”

उन्होंने पीएम के बारे में बात करते हुए कहा कि उनकी अकर्मण्यता ने उन्हें जनता से दूर कर दिया है, जिसकी वज़ह से जनता गुस्से में भी है और निराश भी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

22 साल की TikTok स्टार पूजा चव्हाण, सुसाइड से पहले मंत्री रहे शिवसेना नेता से हुई थी खूब बात: रिपोर्ट

आत्महत्या से पहले जिस व्यक्ति से पूजा चव्हाण की काफी बार बात हुई थी, कथित तौर पर वो महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री व शिवसेना नेता संजय राठौड़ हैं।

चक दे इंडिया: ओलंपिक के 60 मिनट और भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास

यह पहली बार हुआ है कि भारतीय महिला हॉकी टीम ने सबको हैरान करते हुए इस तरह जीत हासिल की। 1980 के मॉस्को ओलंपिक में टीम को चौथा स्थान मिला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,557FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe