10 Exit Polls में से 9 में NDA को बहुमत, 7 में 300 पार, राहुल बने रहेंगे ‘PM इन वेटिंग’

इन एग्जिट पोल्स की मानें तो, न तो कॉन्ग्रेस के समर्थन से कोई सरकार बन सकती है और न ही विपक्षी एकता से कोई खिचड़ी सरकार खड़ी हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए तैयार हैं।

अगर सभी एग्जिट पोल्स पर नज़र डालें तो पता चलता है कि भाजपा के नेतृत्व वाली राजग गठबंधन को आसान बहुमत मिलती दिख रही है। नीचे हमने सभी एग्जिट पोल्स की जो सूची तैयार की है, उनमें से अगर एक को छोड़ दिया जाए तो बाकी सभी में एनडीए स्पष्ट बहुमत की ओर जाता दिख रहा है। अर्थात, जनता ने जोड़-तोड़ वाली सरकार को नकार कर सभी संभावनाओं पर विराम लगा दिया है। इन एग्जिट पोल्स की मानें तो, न तो कॉन्ग्रेस के समर्थन से कोई सरकार बन सकती है और न ही विपक्षी एकता से कोई खिचड़ी सरकार खड़ी हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए तैयार हैं।

नीचे सूचीबद्ध की गई 10 मीडिया एजेंसियों में से 7 ने राजग को 300 से अधिक सीटें दी है, जो 272 के जादुई आँकड़े से ज्यादा है। इंडिया टुडे-एक्सिस के पोल ने जहाँ सबसे ज्यादा अधिकतम 365 सीटों का अनुमान लगाया है, न्यूज़ एक्स-नेता के एग्जिट पोल ने राजग को सबसे कम 242 सीटें दी है। अगर यूपीए की बात करें तो कॉन्ग्रेस के नेतृत्व वाला गठबंधन बहुमत तो दूर, 10 में से 9 एग्जिट पोल में 140 का आँकड़ा पार करने में भी विफल रहा है। कॉन्ग्रेस की सीटें ज़रूर बढ़ेंगी, लेकिन राहुल गाँधी ‘पीएम इन वेटिंग’ ही रहेंगे।

10 एग्जिट पोल्स में से 9 में राजग को बहुमत

टाइम्स नाउ के Exit Poll के अनुसार 542 लोकसभा सीटों में एनडीए को 306 सीटें यूपीए को 132 और अन्य पार्टियों को 104 सीटें मिल रही हैं। द क्विंट C Voter एग्जिट पोल के अनुसार, NDA को पूर्ण बहुमत मिलेगा। सीटों की बात करें तो NDA को 287 सीटें मिलेंगी और UPA को 128 सीटें मिलने की उम्मीद जताई है। वहीं अन्य को 127 सीटें मिल सकती हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

वहीं अगर न्यूज़ 24-चाणक्या के एग्जिट पोल की बात करें तो भाजपा के नेतृत्व वाली राजग गठबंधन को 350 सीटें मिलेगी, वहीं कॉन्ग्रेस नीत यूपीए मात्र 95 सीटों पर सिमट जाएगा। अन्य के खाते में 97 सीटें आएँगी। दूसरी तरफ़ इंडिया टुडे-एक्सिस द्वारा जारी किए गए एग्जिट पोल के अनुसार राजग को 339 से 365 सीटें आएँगी तो यूपीए 77 से १०८ पर सिमट जाएगी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

अमित शाह, राज्यसभा
गृहमंत्री ने कहा कि पिछले वर्ष इस वक़्त तक 802 पत्थरबाजी की घटनाएँ हुई थीं लेकिन इस साल ये आँकड़ा उससे कम होकर 544 पर जा पहुँचा है। उन्होंने बताया कि सभी 20,400 स्कूल खुले हैं। उन्होंने कहा कि 50,000 से भी अधिक (99.48%) छात्रों ने 11वीं की परीक्षा दी है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,891फैंसलाइक करें
23,419फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: