‘भरोसे लायक नहीं है प्रशांत किशोर, हम खुश हैं कि यह कोरोना वायरस हमें छोड़ रहा है’

इससे पहले नीतीश कुमार ने पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर को लेकर कहा था कि अमित शाह के कहने पर उन्हें पार्टी में लिया था। साथ ही कहा था कि यदि किसी कोई पार्टी छोड़कर जाना है तो वह जा सकता है।

नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और एनपीआर पर मोदी सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वाले जदयू नेता प्रशांत किशोर को अब अपनी ही पार्टी के नेताओं का विरोध झेलना पड़ रहा है। दरअसल, बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू सुप्रीमो नीतीश कुमार के बाद अब जदयू नेता अजय आलोक ने उनको आड़े हाथों लिया है। अजय आलोक ने उन्हें ‘कोरोना वायरस’ करार दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर भरोसे लायक आदमी नहीं हैं।

जदयू नेता अजय आलोक ने मीडिया से बातचीत में कहा, “यह (प्रशांत किशोर) आदमी भरोसेमंद नहीं है। वह मोदी जी और नीतीश जी का भरोसा नहीं जीत सके। वह AAP के लिए काम करते हैं, राहुल गाँधी से बात करते हैं, ममता दीदी के साथ बैठते हैं। कौन उन पर भरोसा करेगा? हमें खुशी है कि यह कोरोना वायरस हमें छोड़ रहा है, वह जहाँ चाहे वहाँ जा सकते हैं।”

गौरतलब है कि इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के बारे में कहा था कि यदि कोई ट्वीट कर रहा है तो करे। जब तक किसी की पार्टी में रहने की इच्छा करेगी, तब तक वह रहेगा और जाना चाहेगा तो जाए। नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को लेकर कहा कि अमित शाह के कहने पर ही उन्हें पार्टी में लिया था, अब उन्हें जाना है तो जाए।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

यहाँ बता दें कि प्रशांत किशोर पिछले कुछ समय से ट्विटर के जरिए नागरिकता संशोधन एक्ट के मसले पर पार्टी के फैसले पर सवाल खड़े कर रहे थे। इसके साथ ही दिल्ली में BJP और JDU के गठबंधन पर भी प्रशांत किशोर ने निशाना साधा था। इसके मद्देनजर ही जब नीतीश से मीडिया ने सवाल किया तो उन्होंने जवाब दिया था कि जिसे जाना है वो जा सकता है।

लेकिन, नीतीश कुमार के बयान के बाद भी प्रशांत किशोर चुप नहीं रहे। उन्होंने पलटवार करते हुए लिखा था कि उनके पार्टी में शामिल होने को लेकर नीतीश कुमार ने झूठ बोला है। किशोर ने लिखा था, “मेरा रंग आपके जैसा नहीं है। अगर आप सच बोल रहे हैं तो कौन भरोसा करेगा कि आपके पास इतनी हिम्मत होगी कि आप अमित शाह की बात नहीं मानेंगे।”

प्रशांत किशोर के बगावती सुर! CAB पर किया गाँधी को याद, नीतीश कुमार के फैसले पर निकाली भड़ास

पोस्ट डालो, पैसे पाओ: ममता बनर्जी के पक्ष में माहौल बनाने के लिए प्रशांत किशोर की टीम लेकर आई नई स्कीम

प्रशांत किशोर ने लालू के दावे को बताया झूठा, कहा- मैंने मुँह खोला तो शर्मिंदा हो जाएँगे

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: